होम /न्यूज /जीवन शैली /पॉजिटिव माइंड के लिए करना चाहिए फलों का खूब सेवन ! यहां जानें चौंकाने वाली बातें

पॉजिटिव माइंड के लिए करना चाहिए फलों का खूब सेवन ! यहां जानें चौंकाने वाली बातें

पॉजिटिव माइंड के लिए फलों का सेवन है लाभकारी. (image-canva)

पॉजिटिव माइंड के लिए फलों का सेवन है लाभकारी. (image-canva)

Benefits Of Fruits For Positive Mind. फल न केवल शरीर बल्कि हमारे दिमाग के लिए भी फायदेमंद हैं. इन्हें खाने से हमारा माइ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

फलों को खाना न केवल शरीर बल्कि दिमाग के लिए भी फायदेमंद हैं.
रिसर्च यह बताती हैं कि नियमित फल खाने से माइंड पॉजिटिव रहता है.

Fruits Benefits For Brain: हरी सब्जियां और फलों को हेल्दी माना जाता है और यह सलाह दी जाती है कि इन्हें आप अपने आहार में अवश्य शामिल करें. यह तो आपने सुना ही होगा कि रोजाना एक सेब खाने से डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ती. सेब केवल हेल्दी ही नहीं होते बल्कि यह हमें खुश रहने में भी मदद करते हैं. सिर्फ सेब ही नहीं केला, बेरीज और खट्टे फल सभी हमारे मूड को बेहतर रहने में मददगार होते हैं. रिसर्च भी इस बात की तरफ इशारा करती हैं कि फलों का सेवन करना पॉजिटिव माइंड के लिए लाभकारी है.जानें इस बारे में.

पॉजिटिव माइंड के लिए फलों का सेवन है लाभकारी
वेरीवेल माइंड के अनुसार फलों का सेवन करने से डिप्रेशन कम करने में मदद मिलती है और इससे मेंटल हेल्थ सुधरती है. फलों में न्यूट्रिएंट्स भरपूर मात्रा में होते हैं. जब हम इनका सेवन करते हैं तो हमारे शरीर को मिनरल्स और विटामिन्स मिलते हैं. जिससे हमारे शरीर को एनर्जी भी मिलती है. लेकिन, प्रोसेस्ड फूड खाने से हमें विटामिन्स और न्यूट्रिएंट्स नहीं मिल पाते हैं जिससे हम थकावट, डिप्रेशन और स्ट्रेस्ड महसूस करते हैं. कुछ फलों जैसे बेरीज में फ्लेवोनॉइड एंटीऑक्सीडेंट्स होते ,हैं जो हमारे ब्रेन के लिए अच्छे हैं. इन एंटीऑक्सीडेंट्स से स्ट्रेस कम होती है. 

फल जो मेंटल हेल्थ को सुधारते हैं
मेडिकल न्यूज टुडे की मानें तो अगर आप अपनी स्नैकिंग हैबिट्स को बदलना चाहते हैं, तो पॉजिटिव माइंड और मेंटल हेल्थ को सुधरने वाले टॉप फ्रूट्स इस प्रकार हैं- केला, ऑरेंज, ब्लूबेरीज, चेरी टोमेटो, एवोकाडो. केला और एवोकाडो दो ऐसे फल हैं, जो शरीर में सेरोटोनिन जैसे न्यूरोट्रांसमिटर के प्रोडक्शन में सपोर्ट करते हैं, इससे हमारा ओवरऑल मूड सही और पॉजिटिव रहता है. इसके अलावा अन्य फल भी हमारे दिमाग को रिलैक्स और पॉजिटिव रखने में मदद करते हैं

ये भी पढ़ें: टीनएज में हो सकती है बच्‍चों की भूख कम, जानें क्‍या है कारण

Tags: Health, Lifestyle, Mental health

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें