होम /न्यूज /जीवन शैली /अगर 35 साल से कम उम्र में लेते हैं कैल्शियम सप्लीमेंट तो हड्डियां होंगी मजबूत, जानें क्या कहती है रिसर्च

अगर 35 साल से कम उम्र में लेते हैं कैल्शियम सप्लीमेंट तो हड्डियां होंगी मजबूत, जानें क्या कहती है रिसर्च

कैल्शियम हमारी हड्डियों के लिए बहुत ही ज्यादा आवश्यक है.

कैल्शियम हमारी हड्डियों के लिए बहुत ही ज्यादा आवश्यक है.

Calcium Supplementation, Calcium Deficiency: शोधकर्ताओं की टीम अपनी रिसर्च के लिए 7,300 से अधिक प्रतिभागियों को शामिल ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

Calcium Supplementation, Calcium Deficiency: हम बचपन के दिनों से सुनते चले आ रहे हैं कि हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए कैल्शियम की जरूरत होती है. शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए हड्डियों का मजबूत होना बहुत जरूरी है. ओन्लीमायहेल्थ इस बीच हड्डियों की हेल्थ को लेकर चीन के वानजाउ मेडिकल यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ एंड मैनेजमेंट के शोधकर्ताओं ने रिसर्च में पाया कि अगर 35 साल से कम उम्र में कैल्शियम सप्लीमेंट लेने से हड्डियों में मजबूती आती है. रिसर्च के निष्कर्ष में कहा गया कि लोगों को कम उम्र से ही अपनी हड्डियों के स्वास्थ्य के बारे में ध्यान रखना चाहिए.

रिसर्च को लेकर शोधकर्ता लीड लेखक युपेंग लियू ने कहा, इस समय ऑस्टियोपोरोसिस और फ्रैक्चर हड्डियों की सबसे वैश्विक और सार्वजनिक स्वास्थ्य समस्याएं हैं खासकर बुजुर्ग महिलाओं में, जबकि वृद्धावस्था में कैल्शियम का भरपूर मात्रा में उपयोग किया जाता है. उन्होंने कहा कि इस बारे में बहुत चर्चा हुई कि क्या युवा लोगों में कैल्शियम सप्लीमेंट का हड्डियों के स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है, इसलिए हमने 35 वर्ष से कम उम्र के लोगों में कैल्शियम सप्लीमेंट के उपयोग और उसके प्रभाव की समीक्षा की.

रिसर्च में 7,300 से अधिक लोग हुए शामिल
शोधकर्ताओं की टीम अपनी रिसर्च के लिए 7,300 से अधिक प्रतिभागियों को शामिल किया जिसमें कुल 43 तरह के अध्ययन किए गए. रिसर्ज के लिए 20 आहार कैल्शियम से संबंधित थे जबकि वहीं 23 कैल्शियम सप्लीमेंट थे. रिसर्च में रीढ़ की हड्डी, ऊरु गर्दन, और कूल्हे के साथ साथ पूरे शरीर में बोन मिनिरल कंटेंट और बोन मिनिरल डेंसिटी में होने वाले परिवर्तनों को लेकर डेटा एकत्र किया.

बीएमडी और बीएमसी का बढ़ता है स्तर
इस रिसर्च में सबसे खास बात यह थी कि 35 वर्ष से कम आयु के व्यक्तियों में कैल्शियम की खुराक पूरे शरीर और ऊरु गर्दन दोनों के बीएमडी स्तर में सुधार कर सकती है, और यहां तक ​​कि ऊरु गर्दन, कुल शरीर और काठ का रीढ़ की बीएमसी भी बढ़ा सकती है. यह परिवर्तन 20 से 35 आयु वर्ष वालों में ज्यादा देखा गया. एक्सपर्ट ने पाया कि कैल्शियम सप्लीमेंट मुख्य रूप से गर्दन की हड्डी में खनिज घनत्व को बढ़ाती है.

वानजाउ मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर शुरान वांग ने कहा, फिलहाल अभी इन निष्कर्षों को पूरी तरह से सही नहीं माना जा सकता अभी इसके सत्यापन के लिए और अधिक परीक्षण की आवश्यकता है लेकिन इस शोध ने कैल्शियम सप्लीमेंट के उपयोग को एक नई दिशा दी है.

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें