आपको भी भूलने का मर्ज है? ये 1 एक्सरसाइज बढ़ाएगी याददाश्त

दौड़ने से ढेरों दूसरे फायदों के साथ स्मरण शक्ति भी बढ़ती है.

News18Hindi
Updated: May 18, 2018, 1:44 PM IST
आपको भी भूलने का मर्ज है? ये 1 एक्सरसाइज बढ़ाएगी याददाश्त
दौड़ने का याददाश्त से संबंध
News18Hindi
Updated: May 18, 2018, 1:44 PM IST
दौड़ने के फायदे वैसे तो सभी जानते हैं लेकिन एक नई शोध बताती है कि इससे याददाश्त भी बढ़ती है. कैंब्रिज यूनवर्सिटी के न्यूरोसाइंटिस्ट ने ये शोध की, जो बताती है कि लगातार एक हफ्ते तक 20 मिनट दौड़ने से हजारों नई ब्रेन सेल्स बनती हैं जो याददाश्त तेज करती हैं और मन भी खुश रहता है. आइए, हम आपको बताते हैं कि दौड़ना किस तरह से याददाश्त और संपूर्ण मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छी एक्सरसाइज है.

फिटनेस के लिए रनिंग काफी लोगों का पसंदीदा एक्सरसाइज होती है. इसे लेकर आपकी पसंदगी और भी बढ़ जाएगी, जब ये जानेंगे कि दौड़ना किस तरह से याददाश्त तेज करता और मानसिक संतुलन बनाए रखने में मदद करता है.

दौड़ लगाते वक्त एक प्रोटीन स्रावित होता है, जो मांसपेशियों से मस्तिष्क तक सीधे पहुंचता है. यह स्मृति को बेहतर करने में मदद करता है. शोध के दौरान देखा गया कि दौड़ लगाने के बाद रक्त में कैथेपसिन बी नामक प्रोटीन की मात्रा बढ़ जाती है, जिसका याददाश्त और खुशी से सीधा संबंध है. इसके अलावा इसके शारीरिक फायदे लोग जानते ही हैं. अगर स्वास्थ्य कॉम्प्रोमाइज्ड नहीं है यानी कि आपको किसी तरह की कोई क्रॉनिक बीमारी नहीं तो दौड़ने को रुटीन में शामिल करना चाहिए.

लोग अक्सर इस बात पर हैरान रहते हैं कि कितनी देर और कितने घंटे तक व्यायाम करना चाहिए कि सेहत अच्छी रहे. यह शोध इस बात पर मुहर लगाता है कि शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए दौड़ना एक जरूरी व्यायाम है, जिसका कोई विकल्प नहीं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर