होम /न्यूज /जीवन शैली /मसालेदार खाने से हो सकती है पाइल्स, जानें क्या हैं अन्य कारण

मसालेदार खाने से हो सकती है पाइल्स, जानें क्या हैं अन्य कारण

स्‍पाइसी फूड कर सकता है पेट खराब-(Image Canva)

स्‍पाइसी फूड कर सकता है पेट खराब-(Image Canva)

Spicy Food Can Cause Piles - मसाले कई बार पेट की समस्‍या का कारण भी बन जाते हैं. ज्‍यादा मसालेदार भोजन पेट और स्‍टूल के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पाइल्स की बीमारी में व्यक्ति को असहनीय पीड़ा होती है.
पाइल्स की समस्या में अपने खानपान पर खास ध्यान देना ज़रूरी.

Spicy Food Can Cause Piles – तेल मसालों के बिना खाना अधूरा सा लगता है. भारतीय व्‍यंजनों का स्‍वाद मसालों के लिए दुनियाभर में मशहूर है. लाल मिर्च, काली मिर्च, गरम मसाला, धनिया पाउडर आदि के बिना भोजन का स्‍वाद फीका ही लगता है. यही मसाले कई बार पेट की समस्‍या का कारण भी बन जाते हैं. ज्‍यादा मसालेदार भोजन पेट और स्‍टूल के दौरान जलन भी पैदा कर सकते हैं. अधिकांश लोगों का मानना है कि ज्‍यादा स्‍पाइसी फूड खाने से पाइल्‍स हो सकती है. पाइल्‍स की समस्‍या किसी को भी हो सकती है. इसमें दर्द, जलन, बैठने और चलने में भी परेशानी महसूस हो सकती है. हालांकि, स्‍पाइसी फूड से समस्‍याएं तो होती हैं लेकिन इससे पाइल्‍स हो ये जरूरी नहीं है. चलिए जानते हैं पाइल्‍स के अन्‍य कारणों के बारे में .

क्‍या होता है पाइल्‍स
पाइल्‍स को मेडिकल भाषा में हैमोरॉइड्स कहा जाता है. ये एक ऐसी स्थिति है जहां एनस के भीतर और उसके आसपास की ब्‍लड वेसेल्‍स में सूजन या गांठ बन जाती है. हेल्‍थशॉट्स के मुताबिक कॉन्‍स्‍टीपेशन, डायरिया या टॉयलेट सीट पर बहुत ज्‍यादा समय तक बैठने से ये समस्‍या हो सकती है. इसके लक्षणों में शामिल हैं गांठ, बैठते समय दर्द, एनल में सूजन, ब्‍लीडिंग या खुजली होना, कॉन्‍स्‍टीपेशन आदि.

क्‍या स्‍पाइसी फूड से होता है पाइल्‍स
अगर किसी व्‍यक्ति को पहले से पाइल्‍स की समस्‍या है, तो उसे स्‍पाइसी फूड खाने से बचना चाहिए. इसके अलावा किसी अन्‍य अनहेल्‍दी फूड से भी दूरी बना लेनी चाहिए क्‍योंकि इससे डायरिया या कॉन्‍स्‍टीपेशन की समस्‍या हो सकती है. हालांकि अभी तक ऐसा कोई भी अध्‍ययन या कोई प्रमाण नहीं है जो यह साबित कर सके कि मसालेदार भोजन से पाइल्‍स की दिक्‍कत हो सकती है. इसलिए ये कहा जा सकता है कि स्‍पाइस फूड खाने से पाइल्‍स होगी एक मिथ्‍या है. कभी-कभार स्‍पाइसी फूड खाने से ज्‍यादा परेशानी नहीं होती है, लेकिन हां अगर रोज और ज्‍यादा मात्रा में मसालेदार भोजन किया जाए तो इससे जरूर आगे चलकर परेशानी हो सकती है.

ये भी पढ़ें: किचन सिंक हो गया है ब्लॉक तो ये तरीके आएंगे काम, मिनटों में हो जाएगी क्लीनिंग

हो सकता है पेट खराब
जो लोग पहले कभी इरिटेबल बोवेल सिंड्रोम का शिकार हो चुके हैं, उन्‍हें मसालेदार खाने से लूज मोशन की समस्‍या हो सकती है. जो लोग पहले से ही पाइल्‍स की समस्‍या से जूझ रहे हैं उनके लिए मसालेदार भोजन अधिक नुकसानदायक हो सकता है.

ये भी पढ़ें: मानसून में किचन को ऐसे रखें स्मैल फ्री, बदबू दूर करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

सीने में हो सकती है जलन
ज्‍यादा मसालेदार भोजन से एपिगैस्ट्रिक पेन या पसलियों के नीचे चुभनभरा दर्द महसूस हो सकता है. ये गेस्‍ट्रोएसोफेजिअल रिफ्लक्‍स डिजीज का एक लक्षण हो सकता है. बहुत अधिक मिर्च वाला खाना खाने से सीने में जलन हो सकती है.

Tags: Health, Health problems, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें