होम /न्यूज /जीवन शैली /स्वस्थ फेफड़ों के लिए डाइट में शामिल करें 4 सुपर हेल्दी डिटॉक्स जूस

स्वस्थ फेफड़ों के लिए डाइट में शामिल करें 4 सुपर हेल्दी डिटॉक्स जूस

स्वस्थ फेफड़ों के लिए हेल्दी डिटॉक्स ड्रिंक.,image-canva

स्वस्थ फेफड़ों के लिए हेल्दी डिटॉक्स ड्रिंक.,image-canva

Food for healthy lungs: फेफड़ों का स्वस्थ होना बॉडी के लिए आवश्यक है. ऐसे में केला, गाजर, अदरक, जामुन, चुकंदर, संतरा, स ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

फल और सब्जियों से तैयार पोष्टिक जूस लंग हेल्थ के लिए अच्छे होते हैं
सनराइज डिटॉक्स स्मूदी या चुकंदर से तैयार जूस लंग्स को इन्फ्लेमेशन और दूसरी समस्याओं से बचाते हैं.
मूली और गाजर से बने एंटी इन्फ्लेमेटरी टॉनिक लंग्स की इम्युनिटी बढ़ाकर उन्हें मजबूत बनाते हैं.

Food for healthy lungs: फेफड़े बॉडी का सबसे जरूरी और नाजुक भाग हैं. हेल्दी लंग्स का सीधा संबंध हेल्दी रेस्पिरेट्री सिस्टम से है, जिससे बॉडी की ऑक्सीजन सप्लाई पूरी होती है. अब लंग्स को स्वस्थ रखने के लिए सबसे आवश्यक है कि उन्हें सही न्यूट्रिशन और एक्सरसाइज की मदद लेकर बीमारियों से दूर रखा जाए. क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज से ग्रस्त व्यक्ति के लिए तो लंग्स को स्वस्थ रखना और मुश्किल हो जाता है. फल और सब्जियां ढेरों विटामिन और मिनरल्स की बेहतरीन सोर्स हैं. इनके मिश्रण से तैयार सुपाच्य डिटॉक्स जूस लंग्स को हेल्दी रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं. आइए जानते हैं, हेल्दी लंग्स के लिए तैयार किए जाने वाले 4 सुपर हेल्दी डिटॉक्स जूस.

ये भी पढ़ें: नई स्टडी का दावा: हर दिन मुट्ठी भर बादाम खाने से कम होगा मोटापा, डायबिटीज का खतरा भी टलेगा

स्वस्थ फेफड़ों के लिए हेल्दी डिटॉक्स जूस 

सनराइज डिटॉक्स स्मूदी : सुबह की शुरुवात पोषण की खुराक से होनी चाहिए. इसके लिए एक फ्रोजन केला, आधा कप फ्रोजन आम और रास्पबेरी, आधा कप अनानास और एक नींबू को ब्लेंडर में मिलाकर, उसमें एक कप नारियल पानी डाल लें और एक मिनट से भी कम में तैयार कर लें सनराइज डिटॉक्स स्मूदी. ये कार्डियो वैस्कुलर हेल्थ में सुधार के साथ ही सांस लेने की समस्या का भी समाधान करती है. ये जूस नैचुरल एंटीऑक्सीडेंट्स और इलेक्ट्रोलाइट्स से भरपूर होता है.

बीट, एप्पल और ब्लैकबेरी जूस : तीन छोटे चुकंदर, दो-तीन सेब, आठ औंस ब्लैकबेरी और आधे इंच अदरक को अच्छे से ब्लेंड कर उसमें नारियल पानी मिलाकर स्मूदी तैयार कर लें. ये जूस एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है जो लंग्स और स्किन के लिए बहुत फायदेमंद है.

रेडिश डिटॉक्स स्मूदी : मूली ब्लड प्रेशर रेगुलेट करती है, साथ ही रेस्पिरेट्री प्रॉब्लम्स जैसे कंजेशन, अस्थमा और ब्रोंकाइटिस से भी राहत देती है. एक गुच्छा मूली, आधा कप स्प्राउट्स, और आधा कप मूली के पत्तों को ब्लेंडर में डालकर उसमें डेढ़ कप नारियल पानी मिला लें. अब एक पका केला, आधा कप रास्पबेरी और स्ट्रॉबेरी, आधा कप कोकोनट मिल्क में एक चुटकी नमक मिलाकर तैयार कर लें रेडिश डिटॉक्स स्मूदी.

 ये भी पढ़ें: सर्दी के मौसम में सरसों का तेल हो सकता है हड्डियों के लिए फायदेमंद, जानें अन्य हेल्थ बेनिफिट्स

एंटी इन्फ्लेमेटरी टॉनिक : दो सेंटीमीटर ताजी हल्दी, चार गाजर, एक सेंटीमीटर ताजा अदरक, एक संतरा, आधा नींबू और तीन डंठल वाली अजवाइन को आधे मिनट तक ब्लेंड कर स्मूदी तैयार कर लें. नेचुरल विटामिन और दूसरे न्यूट्रिएंट से भरपूर ये एंटीइन्फ्लेमेटरी जूस, लंग इन्फ्लेमेशन से जुड़ी समस्याओं का समाधान करता है. 

Tags: Health, Life

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें