बिना बुखार के भी हो सकता है डेंगू, जानिए इसके लक्षण

डेंगू मच्छरों को अंडे देने से रोकने के लिए घर में पानी जमा होने से रोकना चाहिए. बाहर रखे साफ पानी के बर्तनों जैसे पालतू जानवरों के पानी के बर्तन, बगीचों में पानी देने वाले बर्तन और पानी जमा करने वाले टैंक इत्यादि को साफ रखें.

News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 4:07 PM IST
बिना बुखार के भी हो सकता है डेंगू, जानिए इसके लक्षण
बिना बुखार के भी हो सकता है डेंगू, जानिए इसके लक्षण
News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 4:07 PM IST
बारिश के मौसम में कई बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. इसमें मच्छरों से फैलने वाली बीमारियां भी अपने चरम पर होती हैं. ऐसे ही एक बीमारी है डेंगू जिससे हर साल कई मौतें होती हैं. डेंगू बुखार फीमेल एडीस मच्छर के काटने से फैलता है. इस मच्छर की खास बात यह है कि यह मच्छर सुबह के समय काटते हैं. बहुत से लोगों को नहीं पता कि डेंगू का मच्छर गंदी नालियों में नहीं बल्कि साफ सुथरे पानी में पनपते हैं. साफ सुथरे शहरी इलाकों में रहने वाले लोगों को इसका ज्यादा खतरा रहता है. बचाव इलाज से हमेशा बेहतर रहता है. यह एक वायरस से होता है इसलिए इसकी कोई दवा या एंटीबायटिक नहीं है, इसका इलाज इसके लक्षणों के आधार पर किया जाता है. डेंगू मच्छरों को अंडे देने से रोकने के लिए घर में पानी जमा होने से रोकना चाहिए. बाहर रखे साफ पानी के बर्तनों जैसे पालतू जानवरों के पानी के बर्तन, बगीचों में पानी देने वाले बर्तन और पानी जमा करने वाले टैंक इत्यादि को साफ रखें. आइए जानते हैं डेंगू के लक्षण.

डेंगू के लक्षण-
1.डेंगू में तेज बुखार के साथ नाक बहना, खांसी, आखों के पीछे दर्द, जोड़ों के दर्द और त्वचा पर हल्के रैश होते हैं.

2.कुछ लोगों में लाल और सफेद निशानों के साथ पेट खराब, जी मिचलाना, उल्टी आदि हो सकता है.

3. हालांकि डेंगू का एक मामला ऐसा भी सामने आया है जब मरीज को बुखार नहीं आया. बीबीसी में प्रकाशित शोधपत्र 'ए क्यूरियस केस ऑफ एफेब्रिल डेंगू' में डॉक्टर ने इसे 'एफेब्रिल डेंगू' कहा यानी कि बिना बुखार वाला डेंगू. दरअसल, शुगर के मरीजों, बहुत बूढ़े और कमजोर लोगों और जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी कम होती है. ऐसे लोगों को 'एफेब्रिल डेंगू' यानी कि बिना बुखार वाला डेंगू होता है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: July 18, 2019, 4:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...