होम /न्यूज /जीवन शैली /तले भुने भोजन से बढ़ती है एसिडिटी की समस्या, ये 8 घरेलू उपाय देंगे राहत

तले भुने भोजन से बढ़ती है एसिडिटी की समस्या, ये 8 घरेलू उपाय देंगे राहत

एसिडिटी में फायदेमंद घरेलू उपाय-(Image Canva)

एसिडिटी में फायदेमंद घरेलू उपाय-(Image Canva)

Home Remedies For Acidity- एसिडिटी होने के कई कारण है जैसे अधिक मसालेदार खाना, तला हुआ या अधिक चिकनाई युक्‍त खाना, खाने ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

अदरक की चाय से मिल सकता है एसिडिटी में आराम.
पेपरमिंट डाइजेस्टिव सिस्‍टम के लिए अच्‍छी मानी जाती है.
दाल चीनी वेट कम करने के साथ एसिडिटी को भी कम कर सकती है.

Home Remedies For Acidity-  तला भुना और बादी खाने से अक्‍सर गैस या एसिडिटी की समस्‍या हो जाती है. वैसे तो एसिडिटी एक सामान्‍य समस्‍या है लेकिन सही ढंग से उपचार न करने पर उल्‍टी, पेट दर्द और ऐंठन की स‍मस्‍या भी हो सकती है. एसिडिटी होने के कई कारण हैं, जैसे अधिक मसालेदार खाना, तला हुआ या अधिक चिकनाईयुक्‍त खाना, खाने के बीच में लंबा गैप और कैफीन का अधिक सेवन. एसिडिटी लंबे समय तक परेशान न करे इसके लिए घरेलू चीजों का प्रयोग किया जा सकता है. ये एसिडिटी को कम करने के साथ पेट की गर्मी को शांत करने में मदद कर सकती हैं. चलिए जानते हैं किन 8 घरेलू उपायों को अपनाकर एसिडिटी से छुटकारा पाया जा सकता है.

पिपरमिंट टी
पिपरमिंट का प्रयोग ज्‍यादातर माउथफ्रेशनर के रूप में किया जाता है.‍ पेपरमिंट में एंटीस्‍पास्‍मोडिक अधिक मात्रा में होता है जो मितली और अपच जैसी समस्‍याओं से राहत दिला सकती है. हेल्‍थलाइन के अनुसार एसिडिटी होने पर पिपरमिंट की चाय का सेवन किया जा सकता है. ये अपच को कम करके पेट को आराम देती है. इससे पेट में एसिड फॉर्मेशन भी कम हो जाता है.

एप्‍पल साइडर विनेगर
एप्‍पल साइडर विनेगर वेट लॉस और स्‍किन हेल्‍थ के साथ पेट संबंधी समस्‍याओं को कम करने में भी महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है. पेट में मौजूद एसिड अपच को ट्रिगर कर सकता है जिसके प्रभाव को कम करने के लिए दो चम्‍मच एप्‍पल साइडर विनेगर का सेवन किया जा सकता है.

अदरक
अदरक अपच के लिए एक और प्राकृतिक उपचार है. इसमें मौजूद एंजाइम्‍स पेट के एसिड को कम कर सकते हैं. एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए अदर‍क की चाय का सेवन कर सकते हैं. चाय में नींबू और शहद डालकर उसे टेस्‍टी बनाया जा सकता है. जो लोग चाय पीना पसंद नहीं करते वे अदरक की कैंडी या अदरक और शहद का मिश्रण ले सकते हैं.

सौंफ
सौंफ में एंटीस्‍पास्‍मोडिक औषधि होती है जो पेट दर्द, अपच, ऐंठन, सूजन और मितली की समस्‍या को कम करने में मदद करती है. आधा चम्‍मच कुटी हुई सौंफ को पानी में डालकर 10 मिनट के लिए उबालें और फिर छान कर इसका सेवन करें. खाने के बाद सौंफ चबाने से भी पेट को आराम मिल सकता है.

बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा पेट के एसिड को जल्‍दी कम कर सकता है. खाने के बाद होने वाली अपच, सूजन और गैस से राहत दिला सकता है. दो गिलास गर्म पानी में आधा चम्‍मच बेकिंग सोडा मिलाकर पीने से तुरंत आराम मिल जाता है. बेकिंग सोडा का सेवन पूरी तरह से सुरक्षित होता है.

इसे भी पढ़ें: Post COVID-19 care: कमजोर याददाश्त और ब्रेन फॉग से ऐसे पाएं निजात

लीकोरिस रूट
लीकोरिस रूट यानी मुलेठी गैस्‍ट्रोइंटेस्‍टाइनल ट्रैक्‍ट में मांसपेशियों की ऐंठन और सूजन को शांत करने में मदद कर सकती है. एसिडिटी को शांत करने के लिए मुलेठी की जड़ को चबाएं या उबलते पानी में जड़ को मिलाकर मिश्रण बनाएं. इसे छानकर पीने से तुरंत राहत मिल जाएगी.

दालचीनी की चाय
पेट के विकार में दालचीनी की चाय काफी फायदेमंद हो सकती है. एसिडिटी से होने वाली जलन को कम करने के लिए इसका सेवन किया जा सकता है. एक कम पानी में थोड़ी सी दालचीनी डालकर उबालें. चाय हल्‍‍की ठंडी होने पर उसमें नींबू और शहद मिलाकर पीएं.

इसे भी पढ़ें: आपको भी कम सुनाई देता है, कहीं ये बहरेपन का संकेत तो नहीं?

जीरे का सेवन
जीरा भी एसिडिटी को कम करने में सहायक भूमिका निभा सकता है. जीरे को पानी में उबालकर पीने से लाभ मिलता है. इसके अलावा आधा चम्‍मच भुने और बारीक पिसे हुए जीरे को गर्म पानी के साथ लेने से भी आराम मिल सकता है.

Tags: Health, Home Remedies, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें