vidhan sabha election 2017

सेहत बनाने के फेर में कहीं सेहत घट न जाए, जिमिंग के दौरान इनका रखें ध्यान

News18Hindi
Updated: October 12, 2017, 9:58 AM IST
सेहत बनाने के फेर में कहीं सेहत घट न जाए, जिमिंग के दौरान इनका रखें ध्यान
जिम जॉइन करते वक्त इन बातों का ख्याल सेहत को किसी नुकसान से बचाता है
News18Hindi
Updated: October 12, 2017, 9:58 AM IST
बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल को ट्रैक पर लाने के लिए आजकल लोगों में जिमिंग का कंसेप्ट बढ़ा है. बहुत से लोग इस सपने के साथ जाते हैं कि जिम जाकर वे तुरत ट्रिम हो जाएंगे. इसके लिए वे ऐसी कसरत भी करने लगते हैं, जो हेल्थ को फायदा देने की बजाए नुकसान पहुंचाता है. हम आपसे साझा कर रहे हैं कुछ बेसिक्स. जिम जॉइन करते वक्त इन बातों का ख्याल सेहत को किसी नुकसान से बचाता है.

तुरंत नहीं दिखता असर
जिम के बारे में काफी लोग यह सोचते हैं कि इसका असर तुरंत दिखना चाहिए. इसी उम्मीद के साथ जॉइन करते हैं और असर न दिखने पर जाना छोड़ भी देते हैं. यहां ये बात ध्यान रखें कि जिम कोई जादू की छड़ी नहीं, सही तरीके से एक्सरसाइज शरीर को टोन करता है. अगर किसी तरह की कोई स्वास्थ्यगत समस्या है तो जिम जाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

जिम हो सही

जिम जॉइन का क्राइटेरिया ये न हो कि ये घर के पास पड़ता है. वही जिम चुनें जहां की रिव्यू अच्छी हो, जहां सारे साजो-सामान हों. अगर कोई जिम कुछ सप्ताह में अच्छा-खासा वजन कम करने का दावा करता है तो वहां न जाएं, ये झूठे दावे हैं. हमेशा धीरे-धीरे वजन कम करने की ओर कोशिश करें क्योंकि एकदम से ज्यादा वजन कम होना कई साइड इफैक्ट्स लाता है. जिम इन्स्ट्रक्टर की रिव्यू भी चेक करें, ये अच्छा जानकार होना चाहिए. न हो पाने पर जर्बदस्ती कोई एक्सरसाइज न करें, हमेशा धीरे-धीरे कोशिश करें ताकि शरीर पर अतिरिक्त जोर न पड़े.

इनका रखें ध्यान
*जिम जॉइन करते वक्त अपनी हेल्थ के बारे में जिम इन्स्ट्रक्टर से बात करें, खासकर अगर आपकी हेल्थ किसी भी तरह से कॉम्प्रोमाइज्ड है, जैसे आप डाइबिटिक हैं, थायरॉइड है, आदि.

*अपनी डाइट को लेकर सतर्क रहें, जैसे कि आप रोज कितनी कैलोरी कंज्यूम कर रहे हैं और कितनी कैलोरी बर्न करनी है. इन्स्ट्रक्टर इस बारे में मदद कर सकता है.

*जिमिंग के वक्त कपड़े और फुटवेयर आरामदायक होने चाहिए. अपने साथ एक साफ टॉवल रखें ताकि बहता पसीना ध्यान न भटकाए.

*देखादेखी या किसी की सलाह पर कोई एनर्जी ड्रिंक न लें, खासकर अगर आप डाइबिटिक हैं या कोई और समस्या है. अच्छे जिम में डाइटिशियन की भी सुविधा होती है, जो आपकी मदद कर सकते हैं.

*कार्डियो ट्रेनिंग ठीक तरह से लें. जितनी क्षमता हो, उतना ही वर्कआउट करें. थकने पर ब्रेक लिया जा सकता है. कभी भी खुद के साथ जर्बदस्ती न करें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर