ऐसे आएगी रूठी निंदिया रानी...

आयुर्वेदिक उपायों से लाएं खोई नींद वापस.

आयुर्वेदिक उपायों से लाएं खोई नींद वापस.

हर दूसरा शख्स इस वक्त नींद (Sleep) न आने की परेशानी से जूझ रहा है. इसके लिए कई तरह के उपाय करने के बाद भी नींद आंखों से कोसों दूर होती है, लेकिन हम यहां ऐसे नुस्खे बता रहे हैं, जिससे नींद आएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2021, 11:39 AM IST
  • Share this:
भागती- दौड़ती सी इस जिंदगी में बदलते लाइफस्टाइल (Lifestyle) और स्ट्रेस (Stress) की वजह से हर दूसरा शख्स नींद न आने की परेशानी का सामना कर रहा है. ऐसा लगता है जैसे नींद रूठ कर आंखों से कोसों दूर चली गई हो. नींद न आना कैसा होता है यह उन लोगों से पूछकर देखें, जिन्हें हर दिन रतजगा करना पड़ता है. नींद वापस लाने के लिए लोग लाखों जतन करते हैं, क्योंकि सही नींद लाइफ (Life) के लिए वैसे ही जरूरी है जैसे फूड (Food). अगर नींद को वापस लाने के सारे जतन बेकार साबित हो रहे हैं, तो रात की अच्छी नींद के लिए एक बार इन आयुर्वेदिक नुस्खों को आजमा कर देखें.

क्यों रूठ जाती है नींदः

शरीर और दिमाग के कायाकल्प के लिए नींद बेहद जरूरी है. हालांकि लाइफस्टाइल के बदले पैटर्न ने इस पर बेहद बुरा प्रभाव डाला है. जैसे अनियमित रूटीन, खानपान, फिजिकल एक्टीविटीज (physical activities) का कम होना और भी कई वजहें हैं, जिनसे नींद आने में परेशानी होने लगती है. कुछ हद तक लाइफस्टाइल में बदलाव कर इस परेशानी से छुटकारा पाया जा सकता है. लेकिन अगर आपको नींद न आने की पुरानी बीमारी है, तो ऐसे में डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है.

इसे भी पढ़ेंः ब्‍यूटी और हेल्‍थ, दोनों के लिए सौंफ की चाय है मैजिकल ड्रिंक, ये हैं फायदे 
नींद जरूरी क्यों है? 

एक आम मिथक यह है कि कम नींद लेने से कोई नेगेटिव इफेक्ट (negative effects) नहीं पड़ता. जबकि रिसर्च बताती है कि मानसिक स्वास्थ्य, शारीरिक स्वास्थ्य, जीवन की गुणवत्ता और सुरक्षा के लिए सही समय पर पर्याप्त नींद लेना महत्वपूर्ण है. नींद की कमी हृदय रोग, गुर्दे की बीमारी (kidney disease), उच्च रक्तचाप (high blood pressure), मधुमेह (diabetes), स्ट्रोक, मोटापा, और अवसाद (depression) सहित कई पुरानी स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़ी हुई है.

अच्छी नींद के लिए सरल आयुर्वेदिक टिप्सः



अच्छी नींद लेने के सारे जतन कर थक गए हैं तो एक बार इन टिप्स को अपनाकर देखें.

1.सोने से पहले गर्म पानी से नहाएं.

2.सोने से पहले मेडिटेशन करें.

3. रात को अपने तलवों पर तेल लगाएं.

4.रात को एक गिलास भैंस का दूध पिएं.

5.रात में भारी भोजन से बचें.

6.रोजाना योग या व्यायाम करें.

7.रात का भोजन 7 बजे से पहले या अधिकतम 8 बजे तक करें.(Disclaimer:इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज