कई रोगों के इलाज में बेहतरीन औषधि है हल्दी का तेल, ऐसे करें इस्तेमाल

हल्दी के साथ सरसों के तेल को मिलाने से इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण बढ़ जाते हैं.
हल्दी के साथ सरसों के तेल को मिलाने से इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण बढ़ जाते हैं.

शरीर में सूजन या जोड़ों में दर्द (Joint Pain) को दूर करने के लिए हल्दी का तेल (Turmeric Oil) काफी उपयोगी है. जोड़ वाले स्थान पर हल्दी के तेल से मालिश करने से जोड़ों का दर्द ठीक होता है.

  • Last Updated: November 4, 2020, 6:35 AM IST
  • Share this:


हल्दी (Turmeric) एक बेहद कारगर औषधि (Medicine) है. myUpchar के अनुसार, हल्दी में अल्फा करक्यूमिन तत्व पाए जाता है. साथ ही इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जिससे शरीर के घाव जल्दी ठीक हो जाते हैं. यदि किसी अंग पर चोट लग जाए, तो उस जगह पर हल्दी का लेप लगाने से तेज असर होता है. हल्दी की तरह इसके तेल में भी एंटी-एलर्जिक, एंटी-माइक्रोबॉयल, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल, एंटी-पैरासिटिक गुण पाए जाते हैं. हल्दी का तेल एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. आयुर्वेद में भी हल्दी के अनगिनत फायदे बताए गए हैं. आइए जानते हैं हल्दी के तेल के फायदों के बारे में.

दर्द से छुटकारा दिलाने में लाभकारी



शरीर में सूजन या जोड़ों में दर्द को दूर करने के लिए हल्दी का तेल काफी उपयोगी है. जोड़ वाले स्थान पर हल्दी के तेल से मालिश करने से जोड़ों का दर्द ठीक होता है. मांसपेशियों के दर्द को ठीक करने के लिए भी इसकी मालिश की जा सकती है. शरीर में किसी प्रकार की सूजन को भी ठीक करने में यह असरदार है. इसके अतिरिक्त गठिया रोग में यह तेल काफी कारगर औषधि है.
रक्त प्रवाह बढ़ाने में सहायक

हल्दी के तेल की मालिश करने से शरीर में रक्त का संचार ठीक तरीके से होता है. इससे उन अंगों को अधिक फायदा होता है, जहां खून रुका हुआ होता है. इससे दिल का स्वास्थ्य अच्छा होता है और हार्ट अटैक का खतरा कम होता है.

जल्दी ठीक होती है फटी एड़ियां

myUpchar के अनुसार, फटी एड़ियों की परेशानी से ग्रसित लोगों को हल्दी के तेल से काफी हद तक फायदा हो सकता है. फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए दो बड़ा चम्मच नारियल का तेल लें और इसमें हल्दी के तेल की कुछ बूंदें मिलाकर हल्का गर्म करें, अब सोने से पहले मिश्रण को एड़ियों पर लगा लें. इस तेल का नियमित रूप से उपयोग करने से एड़ियां नरम हो जाएंगी और फटेंगी नहीं.

रूसी की समस्या से छुटकारा

हल्दी के तेल के जरिये रूसी की समस्या को दूर किया जा सकता है. घर पर इस्तेमाल किया जाने वाला कोई भी हेयर ऑयल लें, उसमें हल्दी के तेल की दो से तीन बूंदें मिलाकर रोज सिर की मालिश करें, इससे डैंड्रफ की परेशानी जल्द दूर हो सकती है.

कच्ची हल्दी के तेल का सेवन ज्यादा लाभकारी

कच्ची हल्दी का तेल का सेवन करने से डायबिटीज, दिल और लिवर की बीमारी आदि में फायदा होता है. कच्ची हल्दी के तेल के सेवन से कैंसर के इलाज में भी मदद मिलती है.

हल्दी के साथ सरसों का तेल

हल्दी के साथ सरसों के तेल को मिलाने से इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण बढ़ जाते हैं. इसलिए इस मिश्रण के नियमित सेवन से कैंसर जैसी बीमारियां जल्दी ठीक हो जाती हैं. हल्दी और सरसों के तेल के सेवन से त्वचा में निखार आता है. एक चम्मच हल्दी में दो चम्मच सरसों का तेल मिलाकर इसे हल्का गर्म करें और इसका रोज सेवन करें, इससे कई शारीरिक समस्याएं ठीक हो सकती हैं.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, हल्दी के फायदे और नुकसान पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज