भूख बढ़ाने के साथ आंखों की रोशनी भी तेज करता है शलजम, जानें इसके अन्य फायदे

शलजम में एंटी ऑक्सीडेंट होता है, जो शरीर के सभी हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने का कार्य करता है.
शलजम में एंटी ऑक्सीडेंट होता है, जो शरीर के सभी हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने का कार्य करता है.

शलजम (Turnip) विटामिन सी और विटामिन के का बहुत ही अच्छा स्रोत माना जाता है. शलजम में बीटा कैरोटिन होने के साथ ही पोटैशियम भी होता है. शलजम भूख बढ़ाने में भी मदद करता है

  • Last Updated: November 14, 2020, 7:29 AM IST
  • Share this:


शलजम (Turnip) एक स्वास्थ्यवर्धक और पौष्टिक गुणों से भरपूर कंद है. आमतौर पर सर्दी के मौसम में इसकी खेती की जाती है. शलजम के पत्तों में कैल्शियम (Calcium) और विटामिन ए (Vitamin A) काफी मात्रा में होता है. शलजम विटामिन सी और विटामिन के का बहुत ही अच्छा स्रोत माना जाता है. शलजम में बीटा कैरोटिन होने के साथ ही पोटैशियम भी होता है. शलजम भूख बढ़ाने में भी मदद करता है. यह कई तरह की समस्याओं को दूर कर सकता है आइये जानते हैं इसके फायदों के बारे में.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक



यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने के साथ-साथ त्वचा के लिए भी बेहतरीन औषधि है. यदि रोज शलजम का जूस पिया जाए, तो इससे त्वचा का रुखापन दूर होता है और चेहरे पर चमक आती है. यह बालों के लिए भी लाभप्रद है. शलजम के सेवन से बाल घने और चमकदार होते हैं.
पाचन प्रक्रिया को करे दुरुस्त

शलजम शरीर की पाचन प्रक्रिया को मजबूत रखने में सहायता करता है. इसमें पाए जाने वाला फाइबर शरीर की सभी छोटी-बड़ी दोनों आंतों में गड़बड़ी होने से बचाव करता है. शलजम पाचन संबंधित समस्याओं को ठीक करता है. इसके छोटे टुकड़ों को सिरके के साथ सप्ताह भर के लिए भिगोकर रखें और फिर इसके सेवन करें, इससे पाचन अच्छा रहेगा. शलजम को सलाद के रूप में खाया जा सकता है.

ब्लड प्रेशर के लिए औषधीय दवा

myUpchar के अनुसार, शलजम में पाए जाने वाले मैग्नीशियम और विटामिंस ब्लड प्रेशर को संतुलित करने में सहायक होते हैं. यदि बीपी की समस्या से पीड़ित व्यक्ति शलजम का नियमित रूप से सेवन करें, तो उनका ब्लड प्रेशर कभी भी अनियंत्रित नहीं होगा. दरअसल, शलजम में पाया जाने वाला फॉलेट तत्व शरीर में खून के बहाव को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है.

डायबिटीज में लाभकारी

शलजम में चीनी ना के बराबर होती है, यही वजह है कि डायबिटीज के मरीज शलजम का सेवन कर सकते हैं, इससे शुगर नियंत्रित रहने के साथ साथ पोषक तत्वों की भी पूर्ति होती है.

आंख की रोशनी में मददगार

शलजम में विटामिन ए होता है जो आंखों के स्वास्थ के लिए अच्छा होता है. शलजम के रोजाना सेवन से आंखों की रोशनी बढ़ती है और आंख संबंधित अन्य समस्याएं भी दूर होती हैं.

हड्डियों और मांसपेशियों को बनाए मजबूत

शलजम हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है, साथ ही मांसपेशियों के लिए भी अच्छा माना जाता है. इसमें कैल्शियम होता है, इसलिए यह हड्डियों के साथ साथ दांतो के लिए भी फायदेमंद है. कच्ची शलजम को चबाने से दांत सुंदर और मजबूत होते हैं.

शरीर के विषैले पदार्थों को करे दूर

myUpchar के अनुसार, शलजम में एंटी ऑक्सीडेंट होता है, जो शरीर के सभी हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने का कार्य करता है. इसके सेवन से शरीर में वसा ना के बराबर बढ़ता है, यही वजह है कि शलजम से मोटापे का खतरा नहीं होता है. यह कैंसर जैसी घातक बीमारी से भी बचाव करता है. इसके अतिरिक्त यह फेफड़ों से संबंधित समस्याओं से पीड़ित रोगियों के लिए भी बेहद फायदेमंद है.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, शलजम के फायदे और नुकसान पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज