होम /न्यूज /जीवन शैली /रिसर्च में हो गया प्रूव, वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज से बढ़ती है उम्र

रिसर्च में हो गया प्रूव, वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज से बढ़ती है उम्र

मसल्स को मजबूत करने वाली एक्सरसाइज से उम्र बढ़ती है. (File Photo)

मसल्स को मजबूत करने वाली एक्सरसाइज से उम्र बढ़ती है. (File Photo)

Weight lifting: गलत जीवनशैली के कारण अनेक तरह की बीमारियां आज सामान्य बात हो गई हैं. इससे अधिकांश लोगों की मौत समय से प ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

रेगुलर वेट लिफ्टिंग वाली एक्सरसाइज की जाए तो इससे मौत का जोखिम बहुत कम हो जाता है.
एयरोबिक एक्सरसाइज से भी मौत की आशंका कम होती है.

Lower risk of death: आधुनिक गलत लाइफस्टाइल के कारण डाइबिटीज, हार्ट डिजीज, ब्लड प्रेशर, डाइजेशन आदि की बीमारियां आम हो गई हैं. इन बीमारियों के कारण हर साल लाखों लोगों को समय से पहले जान गंवाना पड़ती है. भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों के लिए फिजिकल एक्सरसाइज करने का समय नहीं मिल पाता है. इसलिए लाइफस्टाइल से संबंधित कई तरह की बीमारियां होती हैं और वक्त से पहले लोगों की मौत होने लगती है. लेकिन अगर रेगुलर वेट लिफ्टिंग वाली एक्सरसाइज की जाए या ऐसी एक्सरसाइज जिनसे मसल्स मजबूत हो, तो इससे लाइफस्टाइल से संबंधित होने वाली बीमारियों से मौत का जोखिम बहुत कम हो जाता है. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक एक अध्ययन में दावा किया गया है कि रेगुलर वेट ट्रेनिंग वाली एक्सरसाइज से कैंसर को छोड़ अन्य सभी बीमारियों से होने वाली मौत की आशंका कम हो जाती है.

इसे भी पढ़ेें- मखाना खाने से जल्दी नहीं होंगे बूढ़े और ब्लड शुगर भी रहेगा कंट्रोल, जानें कैसे

कई सालों के अध्ययन में आया निष्कर्ष
इस अध्ययन को ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स जर्नल में प्रकाशित किया गया है. अध्ययन में यह भी कहा गया है कि अगर सप्ताह में कुछ दिन भी वर्कआइट प्लान बनाया जाए या एयरोबिक गतिविधियों में भाग लिया जाए तो इससे भी बहुत अधिक फायदा होता है. एयरोबिक एक्सरसाइज से भी मौत की आशंका कम होती है. यह अध्ययन अमेरिका के विभिन्न कैंसर इंस्टीट्यूट से जुटाए गए आंकड़ों के आधार पर किया गया. अध्ययन में 1993 से 55 से 74 साल आयु वर्ग के 154,897 लोगों के स्वास्थ्य संबंधी आंकड़ों का विश्लेषण किया. 2006 में इनमें से 104002 लोगों से यह पूछा गया कि वे पहले के सालों में वेटलिफ्टिंग से संबंधित एक्सरसाइज सप्ताह में कितने दिन की है.

वेटलिफ्टिंग करने वालों में मौत की आशंका 22 प्रतिशत तक कम
अध्ययन में पाया गया कि एक चौथाई लोगों ने वेटलिफ्टिंग से संबंधित गतिविधियों में भाग लिया. इनमें से 16 प्रतिशत ने कहा कि वे सप्ताह में एक से 6 बार वेटलिफ्टिंग की एक्सरसाइज करते थे. इनमें से 32 प्रतिशत ने कहा कि वे एयरोबिक एक्सरसाइज भी करते थे. अध्ययन में पाया गया कि जिन लोगों ने वेटलिफ्टिंग एक्सरसाइज की थी उनमें मौत का खतरा 22 प्रतिशत तक कम हो गया. जो लोग सप्ताह में एक या दो बार भी वेट लिफ्टिंग करते थे, उनमें भी मौत का जोखिम 14 प्रतिशत तक कम हो गया. अध्ययन में कहा गया कि अधेड़ उम्र के लोगों को वेटलिफ्टिंग जैसी एक्सरसाइज को अपनी रूटीन में शामिल करना चाहिए. अध्ययन में यह भी कहा गया कि जो लोग वेटलिफ्टिंग के साथ एयरोबिक एक्सरसाइज भी करते हैं उनमें समय से पहले मौत की आशंका और अधिक कम हो जाती है. भारी शॉपिंग बैग, बगीचे में खुदाई और घर के भारी सामान को उठाने से भी यह काम हो सकता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Trending news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें