होम /न्यूज /जीवन शैली /एजिंग को स्‍लो करने में फायदेमंद होती है 'वेट ट्रेनिंग हैबिट', जान लें ये भी फायदे

एजिंग को स्‍लो करने में फायदेमंद होती है 'वेट ट्रेनिंग हैबिट', जान लें ये भी फायदे

वेट ट्रेनिंग मसल्‍स को बेहतर रखती है. Image : Canva

वेट ट्रेनिंग मसल्‍स को बेहतर रखती है. Image : Canva

उम्र बढ़ने के साथ आपके मसल्‍स कमजोर होने लगते हैं. इस प्रोसेस को सार्कोपेनिया कहा जाता है. इसकी वजह से गिर जाने या फ्रै ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

बॉडी को यंग बनाए रखने के लिए वेट ट्रेनिंग जरूर करें.
वेट ट्रेनिंग से बढ़ती उम्र वाली बीमारियां भी दूर रहती हैं.

Weight Training Habits That Slow Aging: वर्कआउट में वेट ट्रेनिंग जरूरी माना जाता है. आमतौर पर लोग अपने मसल्‍स को मजबूत बनाने के लिए वेट ट्रेनिंग करते हैं. आपका बता दें कि बढ़ती उम्र की समस्‍याओं को दूर रखने केलिए भी वेट ट्रेनिंग काफी फायदेमंद माना जा रहा है. ईटदिसनॉटदैट के मुताबिक, यह आपके बॉडी को यंग रखने में मदद करता है और आपके बोन डेंसिटी और मसल्‍स को पावरफुल बनाने में भी असरदार है. जब आप वेट उठाते हैं तो आपके बढ़ती उम्र में होने वाली कई इंजूरी आदि होने की आशंका कम हो जाती है. तो आइए जानते हैं कि वेट ट्रेनिंग आपके एजिंग को स्‍लो करने में कितना फायदेमदं है.

बॉडी को रखता है यंग
उम्र बढ़ने के साथ आपके मसल्‍स कमजोर होने लगते हैं. इस प्रोसेस को सार्कोपेनिया कहा जाता है. इसकी वजह से गिर जाने या फ्रैक्‍चर होने की आशंका बढ़ जाती है. लेकिन अगर आप बॉडी को यंग बनाकर रखना चाहते हैं तो अपने रुटीन में वेट ट्रेनिंग को शामिल करें.

यह भी पढ़ेंः पुरुषों को महिलाओं की अपेक्षा कैंसर का खतरा ज्यादा, जानें वजह

रहते हैं अधिक आत्‍मनिर्भर
शोधों के मुताबिक,अगर आप चार महीने तक वेट ट्रेनिंग करें तो इससे आपके मसल्‍स का 60 प्रतिशत  ताकत बढ़ जाता है. जिससे आप बेहतर तरीके से चल फिर पाते हैं और उठ बैठ पाते हैं. मसल्‍स मजबूत होने की वजह से फ्रैक्‍चर आदि होने की आशंका भी कम हो जाती है.

बीमारियों से रहते  हैं दूर
एरोबिक्‍स और वेट एक्‍सरसाइज करने से मसल्‍स और बॉडी पार्ट बेहतर तरीके से काम करते हैं जिससे बढ़ती उम्र वाली बीमारियां नहीं होतीं.

हार्ट रहता है बेहतर
वेट ट्रेनिंग आपके मसल्‍स को तो बेहतर रखता ही है, आपके शरीर में ब्‍लड फ्लो भी अच्‍छा रहता है जिससे आपका हार्ट बेहतर तरीके से काम करता है और किसी तरह की बीमारियां पास नहीं आतीं.

यह भी पढ़ेंः मोटापे को लेकर कहीं आपके दिमाग में तो नहीं ये बड़ी गलतफहमी?

थकान रखता है दूर
अगर आपक वेट ट्रेनिंग के साथ डाइट में प्रोटीन रिच फूड को शामिल करें तो इससे आपके मसल्‍स मजबूत होते हैं और आप बार बार थकान की समस्‍या से बचे रहते हैं. इस तरह अगर आप किसी विशेषज्ञ की निगरानी में वेट ट्रेनिंग करें तो आप खुद को लंबी उम्र तक फिट और हेल्‍दी रख पाएंगे.

Tags: Fitness, Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें