सीलिएक रोग,जिसमें गेहूं से बने हर पदार्थ से करना पड़ता है तौबा!

सिलीएक रोग से पीड़ित लोग गेहूं, जौ और राई से बने खाद्य पदार्थों के सेवन से दूरी बना लें. सफेद आटा या चने के आटे से बने खाद्य पदार्थो से भी बचना चाहिए

News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 6:14 PM IST
सीलिएक रोग,जिसमें गेहूं से बने हर पदार्थ से करना पड़ता है तौबा!
सिलीएक रोग से पीड़ित लोग गेहूं, जौ और राई से बने खाद्य पदार्थों के सेवन से दूरी बना लें. सफेद आटा या चने के आटे से बने खाद्य पदार्थो से भी बचना चाहिए
News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 6:14 PM IST
सिलीएक Celiac disease छोटी आंत (small intestine) की बीमारी है. इसमें ग्लुटेन युक्त आहारों से एलर्जी होती है. जैसे- गेहूं, जौ, राई आदि. इनमें पाया जाने वाला ग्लुटेन हमारे पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचाता है. इससे हमारी छोटी आंत में सूजन भी हो जाती है. हाल ही एक रिसर्च में पाया गया कि सिलीएक रोग से पीड़ित लोग अक्सर ग्लुटेन युक्त आहार खाने के बाद उल्टी जैसा महसूस करने लगते हैं. जर्नल साइंस एडवांस में प्रकाशित एक हालिया अध्ययन के निष्कर्षों के अनुसार
जब भी कोई रोगी ग्लुटेन खाता है तो शरीर में साइटोकीन और इनके लक्षणों की मात्रा एक साथ बढ़ती है.

इससे कैसे बचें

ग्लूटेन की एलर्जी से पीड़ित व्यक्ति को आजीवन ग्लूटेन मुक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना पड़ता है. ग्‍लूटेन मुक्त आहार सीलिएक के लक्षण और लक्षणों को नियंत्रित और जटिलताओं को रोकने में मदद करता है.

इन खाने के पदार्थों से बना लें दूरी

गेहूं, जौ और राई से बने खाद्य पदार्थों के सेवन से दूरी बना लें. सफेद आटा या चने के आटे से बने खाद्य पदार्थो से भी बचना चाहिए. मार्केट में ग्लुटेन फ्री खाद्य पदार्थ मिलते हैं, उन्हीं का इस्तेमाल करें.

बीयर में भी गेहूं, जौ शामिल होते हैं. ऐसे में इस रोग से पीड़ित लोग बियर का सेवन करना भी छोड़ दें.
Loading...

ऐसे खाद्य पदार्थ जैसे रोटी, अनाज युक्‍त नाश्‍ता, पास्‍ता और पिज्‍जा जिसमें गेहूं और गेहूं उत्‍पाद शामिल हो, को न खाएं. ऐसे पदार्थो में ग्‍लूटेन बहुत अधिक मात्रा में होता है. हालांकि यह आसान नहीं है, लेकिन सीलिएक से बचने के लिए आपको ग्‍लूटेन फ्री फूड्स ही खाने होंगे.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 6:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...