होम /न्यूज /जीवन शैली /Eating Disorder: कहीं आप ईटिंग डिसऑर्डर के तो नहीं हो रहे हैं शिकार, जानें इसके लक्षण और कारण

Eating Disorder: कहीं आप ईटिंग डिसऑर्डर के तो नहीं हो रहे हैं शिकार, जानें इसके लक्षण और कारण

ईटिंग डिसऑर्डर हो सकता है खतरनाक-(Image Canva)

ईटिंग डिसऑर्डर हो सकता है खतरनाक-(Image Canva)

Cause Of Eating Disorder- कोई पूरे दिन खाता है तो कोई एक समय खाकर ही गुजारा करता है. ऐसे खाने की आदत कई बार बीमारी में ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

ईटिंग डिसऑर्डर एक मानसिक विकार है.
ईटिंग डिसऑर्डर के दौरान अधिक भूख लग सकती है.
कई बार व्‍यक्ति बॉडी शेमिंग के कारण कम खाना खाता है.

Cause Of Eating Disorder-  खाना खाने का सबका एक तरीका या एक स्‍टाइल होता है. किसी को अधिक खाना खाना पसंद होता है तो कोई डाइटिंग की वजह से कम खाता है. कोई पूरे दिन खाता है तो कोई एक समय खाकर ही गुजारा करता है. ऐसे खाने की आदत कई बार बीमारी में तबदील हो जाती हैं जिसे ईटिंग डिसऑर्डर कहा जाता है.

ईटिंग डिसऑर्डर सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. ज्‍यादातर लोगों को ईटिंग‍ डिसऑडर के बारे में जानकारी नहीं होती जिस वजह से मानसिक समस्‍याएं डेवलप होने लगती हैं. इसे मेंटल ईटिंग डिसऑर्डर के नाम से भी जाना जाता है. ईटिंग डिसऑडर में नींद न आना, बालों का झड़ना, थकावट, चक्‍कर और उल्‍टी जैसे लक्षण देखे जा सकते हैं. चलिए जानते हैं क्‍या है ईटिंग डिसऑर्डर और इसके कारणों के बारे में.

क्या है ईटिंग डिसऑर्डर
ईटिंग डिसऑर्डर एक साइकोलॉजिकल कंडीशन है जो अनहेल्‍दी ईटिंग हैबिट के कारण होती है. हेल्‍थलाइन के अनुसार ईटिंग डिसऑर्डर की शुरूआत अधिक खाने, मोटापे के कारण कम खाने और प्रॉपर बॉडी शेप पाने की चाहत के चलते होती है. कई मामलों में इससे गंभीर हेल्‍थ इशू हो सकते हैं. ईटिंग डिसऑर्डर मानसिक रोगों की एक प्रमुख वजह हो सकती है.

इस दौरान पेशेंट अधिक खाना खाते हैं या पूरी तरह से खाना छोड़ देते हैं. ये समस्‍या महिलाओं में अधिक देखी जाती है. कई बार पेशेंट का बॉडी फैट इतना कम हो जाता है कि उसे एनोरेक्सिया नर्वोसा जैसी खतरनाक बीमारी का सामना भी करना पड़ जाता है.



ईटिंग डिसऑर्डर के प्रमुख कारण
– जेनेटिक हिस्‍ट्री
– पर्सनेलिटी
– परफेक्‍शन
– इम्‍पल्सिव नेचर
– दूसरों से तुलना
– मेंटल प्रॉब्‍लम
– नींद की कमी

इसे भी पढ़ें: कैल्शियम की कमी दूर करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 8 कैल्शियम रिच फूड्स

ईटिंग डिसऑर्डर के प्रकार
– एनोरेक्सिया नर्वोसा
– बुलीमिया नर्वोसा
– बिंज ईटिंग डिसऑर्डर
– पिका
– रुमिनेशन डिसऑर्डर
– एवॉइडेंट फूड इंटेक डिसऑर्डर
– नाइट ईटिंग सिन्‍ड्रोम

इसे भी पढ़ें: गर्मियों में इस वजह से नहीं खाना चाहिए सूखे बादाम, जानें खाने का सही तरीका

ईटिंग डिसऑर्डर के लक्षण
– वेट लॉस
– दूसरों के सामने खाने से शर्माना
– कॉन्‍सटीपेशन
– अधिक भूख लगना
– खाना न खाना
– पीरियड्स न होना

Tags: Food, Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें