होम /न्यूज /जीवन शैली /क्या है प्लाक सोरायसिस? किस उम्र के लोगों को प्रभावित करती है यह स्किन बीमारी, जानें लक्षण और उपचार

क्या है प्लाक सोरायसिस? किस उम्र के लोगों को प्रभावित करती है यह स्किन बीमारी, जानें लक्षण और उपचार

दुनियाभर में करीब 3 प्रतिशत से अधिक लोग इस बीमारी से पीड़ित हैं.

दुनियाभर में करीब 3 प्रतिशत से अधिक लोग इस बीमारी से पीड़ित हैं.

How to Control Plaque Psoriasis: सोरायसिस त्वचा संबंधी बीमारियों में से एक गंभीर बीमारी है. इसमें शरीर की प्रतिरोधक प्र ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सोरायसिस में तेज खुजली होती है और धीरे धीरे यह पीड़ित के लिए असहनीय हो जाती है.
प्लॉक सोराइसिस की समस्या किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है.
प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने की वजह से भी यह हो सकती है.

How to Control Plaque Psoriasis: सोरायसिस एक त्वचा संबंधी बीमारी है. यह कई तरह की होती है लेकिन इसमें सबसे कॉमन है प्लॉक सोरायसिस. दुनियाभर में करीब 3 प्रतिशत से अधिक लोग इस बीमारी से पीड़ित है. कई बार स्किन पर होने वाले हल्के दाने या फिर लाल रंग के धब्बों को नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन ऐसा जरूरी है कि यह सामान्य है. हो सकता है कि यह सोरायसिस का शुरुआती लक्षण हो. अगर आपको त्वचा में लाल रंग के धब्बे नजर आते हैं तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.

क्या है प्लाक सोरायसिस?
सोरायसिस त्वचा संबंधी बीमारियों में से एक गंभीर बीमारी है. इसमें शरीर की प्रतिरोधक प्रणाली ही स्वस्थ्य कोशिकाओं और ऊतकों पर हमला करती हैं. सामान्यत: सोरायसिस की समस्या मोटी स्किन पर देखी जाती है. इसमें स्किन पर जगह जगह परत बनने लगती है. स्किन पर लाल रंग के चकत्ते नजर आते हैं इसके बाद धीरे धीरे इन पर सफेद रंग की पपड़ी बनने लगती है. इसमें बहुत तेज खुजली होती है और पीड़ित के लिए यह असहनीय हो जाती है.

शरीर के किस हिस्से में होती है यह बीमारी
प्लाक सोरायसिस वैसे तो शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकती है लेकिन सामान्यतौर पर यह घुटने, कोहनी, स्कैल्प, हाथों के पंजों पर और पीठ के निचले हिस्से में होती है. स्किन पर बनने वाले चकत्ते का रंग मनुष्य के स्किन टोन पर भी निर्भर करता है. हल्की त्वचा पर यह गुलाबी रंग जैसी होती है जबकि वहीं गहरी त्वचा पर यह इसके चकत्ते बैगनी और पीलापन लिए होते हैं. यह एक लंबे समय तक चलने वाली बीमारी है.

Back Pain: ये 3 कैंसर भी हो सकते हैं पीठ में दर्द का कारण, इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज

गठिया भी हो सकता है
जून 2021 के जामा त्वचाविज्ञान अध्ययन के अनुसार, 20 साल और उससे अधिक उम्र के 7.5 मिलियन अमेरिकी सोरायसिस की समस्या से पीड़ित हैं. नेशनल सोरायसिस फाउंडेशन (एनपीएफ) की रिपोर्ट है कि सोरायसिस से पीड़ित तीन में से एक व्यक्ति को सोरियाटिक गठिया भी हो सकता है, जो जोड़ों में और उसके आसपास सूजन, जकड़न और दर्द का कारण बनता है.

किस उम्र में होती है सोराइसिस की समस्या
वैसे को एक्सपर्ट का मानना है कि प्लॉक सोराइसिस की समस्या किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है लेकिन एनपीएफ के मुताबिक आमतौर पर यह 15 से 25 साल के बीच शुरू होती है और सही उपाय नहीं किए गए तो लंबे समय तक चल सकती है.

आंखों के सामने छा रहा अंधेरा कहीं ब्लर विजन तो नहीं? इन कारणों से हो सकती है समस्या

प्लॉक सोरायसिस का कारण
फिलहाल तो इस बात का ठीक से पचा नहीं चल सका है कि आखिर प्लॉक सोराइसिस किन वजहों से होती है लेकिन एडम फ्राइडमैन, एमडी, प्रोफेसर जॉर्ज वाशिंगटन स्कूल ऑफ मेडिसिन एंड हेल्थ साइंसे कहते हैं कि इस बीमारी को प्रकृति और पोषण के मिश्रण के तौर पर माना जा सकता है. उन्होंने कि आनुवांशिक संबंध भी इसका एक कारण हो सकता है लेकिन इस बारे में अभी पर्याप्त सबूत नहीं, लेकिन हमें ऐसा लगता है कि कुछ ऐसे पर्यावरण कारण हैं जो सोराइसिस को ट्रिगर करते हैं. कुछ एक्सपर्ट्स का मानन है कि प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने की वजह से भी यह हो सकती है.

सोरायसिस के प्रकार
– सोरायसिस के कई प्रकार हैं.
– प्लेक सोरायसिस
– गटेट सोरायसिस
– पस्चुरल सोरायसिस
– सोरियाटिक सोरायसिस
– एरिथ्रोडर्मिक सोरायसिस

सोरायसिस के उपचार
वैसे तो अभी तक सोरायसिस का कोई सटीक और कारगर उपचार नहीं है, लेकिन आप एक्सपर्ट से मिलकर कुछ कारगर कदम उठा सकते हैं
– स्किन पर जहां पर लाल रंग के चकत्ते हैं वहां पर आप को क्रीम या मलहम लगा सकते हैं जैसे- स्टेरॉयड क्रीम
– आप फोटोथेरेपी का सहारा ले सकते हैं.
– अगर आप नमक के पानी और एलोवेरा के साथ स्नान करते हैं तो इससे भी रहात मिल सकती है.
-अपने खानपान की शैली पर विशेष ध्यान दें. डेरी प्रोडक्ट, मीट और एल्कोहल का सेवन कम से कम मात्रा में करें. रोजाना संतुलित आहार लें जो कि पौष्टिक तत्वों से भरपूर हो.

Tags: Health tips, Lifestyle, Skin care

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें