• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • HEALTH WHAT IS SEX HEADACHE KNOW WHY IT OCCUR DURING PHYSICAL RELATIONSHIP MYUPCHAR PUR

क्या होता है सेक्स हेडेक? जानें शारीरिक संबंध बनाते समय क्यों होता है सिरदर्द

सेक्स के दौरान सिर के अंदर धमनी की दीवार के चौड़ा होने या बुलबुला बनने पर दर्द शुरू होता है.

कुछ लोगों में सेक्स (Sex) के ठीक पहले या ठीक बाद, तेज सिरदर्द (Headache) अनुभव होता है. मस्तिष्क तक रक्त (Blood) पहुंचाने वाली धमनियों के ठीक से काम नहीं करने के कारण ऐसा होता है.

  • Myupchar
  • Last Updated :
  • Share this:


    शारीरिक संबंध (Physical Realtionship) के दौरान कई लोगों को सिरदर्द होता है. इसे सेक्स हेडेक (Sex Headache) कहा जाता है. सामान्य स्थिति में यह चिंताजनक नहीं है, लेकिन लगातार ऐसा होता है, तो यह बड़ी बीमारी का संकेत हो सकता है. जैसे-जैसे एक्साइटमेंट बढ़ता है, वैसे-वैसे सिर और गर्दन पर भी दबाव बढ़ता है. कुछ लोगों में सेक्स (Sex) के ठीक पहले या ठीक बाद, तेज सिरदर्द (Headache) अनुभव होता है. मस्तिष्क तक रक्त पहुंचाने वाली धमनियों के ठीक से काम नहीं करने के कारण ऐसा होता है.

    सेक्स हेडेक के लक्षण

    सेक्स हेडेक दो  प्रकार का होता है. 1. सिर और गर्दन में धीमा-धीमा दर्द जो सेक्स एक्साइटमेंट बढ़ने के साथ बढ़ता जाता है. 2. सेक्स से पहले या सेक्स के बाद अचानक उठने वाला तेज दर्द. कुछ लोगों में दोनों तरह के दर्द अनुभव होते हैं. यह दर्द कुछ मिनटों से लेकर दो-तीन दिन तक रह सकता है. स्थिति बिगड़ने पर इन्सान अचेत हो सकता है, उल्टी आ सकती है और अन्य न्यूरोलॉजिकल समस्याएं खड़ी हो सकती हैं. यह खतरा उन लोगों को अधिक होता है, जिन्हें पहले से माइग्रेन की शिकायत है. महिलाओं की तुलना में पुरुषों में सेक्स हेडेक अधिक होता है.

    डॉक्टर को कब दिखाएं

    आमतौर पर कोई भी सिरदर्द बहुत चिंताजनक नहीं होता है, लेकिन यदि सेक्स के दौरान सिरदर्द होता है तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं. सबसे अच्छा तो यह होगा कि पहली बार ऐसा होने पर ही डॉक्टर से सलाह ले ली जाए. अन्यथा यह दर्द 6 महीने और 1 साल तक के लिए भी परेशान कर सकता है. यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो के न्यूरोलॉजी डिपार्टमेंट की रिपोर्ट के अनुसार अधिकांश मामलों में लोग डॉक्टर को सेक्स हेडेक के बारे में बताने से झिझकते हैं, वहीं डॉक्टर भी नहीं पूछते हैं. इस तरह समस्या बनी रहती है.

    सेक्स हेडेक के कारण

    सेक्स के दौरान सिर के अंदर धमनी की दीवार के चौड़ा होने या बुलबुला बनने (इंट्राक्रानियल एन्यूरिज्म) से दर्द शुरू होता है. कभी-कभी इस दीवार में रक्तस्राव शुरू हो जाता है. यह स्ट्रोक यानी आघात का कारण बन सकता है. वहीं कुछ दवाओं का उपयोग, जैसे बर्थ कंट्रोल पिल्स का उपयोग भी इस सिरदर्द को जन्म दे सकता है. किसी संक्रमण के कारण होने वाली सूजन भी सिरदर्द का कारण बन सकती है. myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. नबी वली के अनुसार, सिर की स्कैनिंग या एमआरआई के जरिए समस्या का पता लगाया जा सकता है.

    सेक्स हेडेक से कैसे बचें

    सेक्स हेडेक से बचने के लिए सलाह दी जाती है कि ऑर्गेज्म (सेक्स के दौरान मिलने वाला चरम सुख) से ठीक पहले सेक्स एक्टिविटी रोक दें. वहीं शारीरिक संबंध बनाने के दौरान निष्क्रिय भूमिका में रहकर इससे बचा जा सकता है. myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. नबी वली के अनुसार, लोगों को इस समस्या के बारे में भी खुलकर बात करना चाहिए. नियमित रूप से ऐसी एक्सरसाइज करें, जिनसे सिर, गर्दन, कंधे की मांसपेशियों को आराम मिले. संयम के साथ सेक्स करें। जो लोग नियंत्रण से बाहर हो जाते हैं, उनमें सेक्स हेडेक आम है.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, सेक्स के प्रति अरुचि क्यों होती है, लक्षण, परीक्षण और इलाज पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

    First published: