होम /न्यूज /जीवन शैली /सांस लेने में परेशानी को न करें अनदेखा, दिल की बीमारियों से जुड़े होते हैं ऐसे संकेत

सांस लेने में परेशानी को न करें अनदेखा, दिल की बीमारियों से जुड़े होते हैं ऐसे संकेत

Jaipur News: देश में 50 हजार लोगों को हार्ट ट्रांसप्लांट का इंतजार

Jaipur News: देश में 50 हजार लोगों को हार्ट ट्रांसप्लांट का इंतजार

World Heart Day 2022: दुनियाभर में हर साल 29 सितंबर को वर्ल्ड हार्ट डे मनाया जाता है. दिल हमारे शरीर का एक बेहद महत्वपू ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

दुनियाभर में हर साल 29 सितंबर को वर्ल्ड हार्ट डे मनाया जाता है.
दिल संबंधी बीमारियों के शुरुआती संकेतों को अनदेखा न करें.

World Heart Day 2022: हार्ट हमारे शरीर का बेहद महत्वपूर्ण अंग है और इसमें अगर किसी भी तरह की समस्या पैदा हो जाए तो ये स्थिति जानलेवा भी साबित होती है. ऐसे में बहुत जरूरी है कि हम हमारे दिल की सेहत को लेकर हमेशा सतर्क रहें और उसका खास ख्याल रखें. यही वजह है कि हर साल 29 सितंबर को दुनियाभर में वर्ल्ड हार्ट डे (World Heart Day) सेलिब्रेट कर लोगों को अपनी हार्ट हेल्थ के प्रति जागरुक किया जाता है. कई बार हम हमारे शरीर में होने वाले छोटे-छोटे बदलावों को नज़रअंदाज कर देते हैं लेकिन ये बदलाव हार्ट की किसी बड़ी बीमारी का संकेत दे रहे होते हैं.
हार्ट फेल की स्थिति में कई बार बेहद थकान और सांस लेने में परेशानी महसूस होती है जिसे लोग आम स्थिति समझ बैठते हैं. वेबएमडी की खबर के मुताबिक चाहे कोई भी वजह हो लेकिन सांस संबंधी परेशानी को कभी भी हल्के में नहीं लेना चाहिए. आइए जानते हैं कौन से संकेत हैं जो दिल की बीमारियों की तरह इशारा करते हैं.

दिल से जुड़ी बीमारियों के ये हैं लक्षण

सांस लेने में तकलीफ – हम लोगों को कई बार सांस से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. सांस लेने में तकलीफ होने की कई वजह हो सकती हैं. इनमें से एक वजह हार्ट फेल होना भी है. ये बात जानकर आप चौंक सकते हैं लेकिन ये हकीकत है. बहुत ज्यादा थकान महसूस होना और कम सांस ले पाना या सांस लेने में दिक्कत की वजह हार्ट फेल होना भी हो सकता है. ऐसे में सांस से जुड़ी परेशानियों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

इसे भी पढ़ें: दिल कमज़ोर हो रहा है तो महसूस होने लगते हैं ये लक्षण, जानें कब डॉक्टर की लेना चाहिए सलाह

पैरों में सूजन – कई बीमारियों की वजह से पैरों में सूजन आ सकती है. हड्डियों से जुड़ी बीमारी के अलावा किडनी संबंधी परेशानियों में भी पैर में सूजन आती है. इसी तरह अगर आप दिल संबंधी किसी परेशानी का सामना कर रहे हैं तो भी आपके घुटनों, पैरों, पंजों में सूजन नजर आ सकती है. पैरों तक सही तरह से रक्त नहीं पहुंच पाना इसकी वजह हो सकता है. ऐसे में अगर बार-बार पैरों में सूजन आए तो डॉक्टर को दिखाना चाहिए.

दिल की धड़कन अनियमित होना – जब भी कभी हम कोई मेहनतभरा काम करते हैं तो ब्लड प्रेशर और दिल की धड़कन का बढ़ जाना आम होता है. लेकिन अगर सामान्य स्थिति में भी आपकी दिल की धड़कन कभी तेज और कभी धीमी हो जाती है तो ये हार्ट डिजीज की ओर इशारा करता है.

अपच, पेट में दर्द होना – पेट में दर्द होना या फिर लगातार इनडाइजेशन की परेशानी रहना भी हार्ट की बीमारियों की ओर इशारा करती है. bhf.org.uk के मुताबिक पेट में दर्द और जलन और हार्ट पैन के बीच अंतर करना कई बार आम लोगों के साथ ही डॉक्टर्स के लिए भी मुश्किल हो जाता है. ऐसी सूरत में तत्काल उपचार लेना जरूरी होता है.

इसे भी पढ़ें: लगातार कब्ज बनी रहने से भी बढ़ सकता है कोलेस्ट्रॉल ! इन वजहों से भी हो सकती है दिल की बीमारी

पीठ, जबड़े में दर्द होना – दिल से जुड़ी समस्याओं में कई बार पीठ में दर्द होने के साथ ही जबड़े में भी पेन हो सकता है. ऐसी सूरत में बैकपेन और जबड़े के दर्द के प्रति लापरवाही नहीं बरतना चाहिए. कई बार ये दर्द हार्ट अटैक आने की वजह से भी उठ सकता है.

Tags: Health, Lifestyle, World Heart Day

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें