World Population Day: बढ़ती आबादी में न दें योगदान, करें ये काम

World Population Day, विश्व जनसंख्या दिवस: Pew Research Center India के मुताबिक़, अगर यही हाल रहा तो साल 2100 तक भारत की आबादी 1450 मिलियन हो जाएगी.

News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 12:35 PM IST
World Population Day: बढ़ती आबादी में न दें योगदान, करें ये काम
World Population Day, विश्व जनसंख्या दिवस: Pew Research Center India के मुताबिक़, अगर यही हाल रहा तो साल 2100 तक भारत की आबादी 1450 मिलियन हो जाएगी.
News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 12:35 PM IST
World Population Day, विश्व जनसंख्या दिवस: विश्व की आबादी दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है. वर्तमान में आबादी 7.7 बिलियन है लेकिन हर सेंकेंड पैदा होने वाले बच्चे के साथ ये आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. Pew Research Center India के मुताबिक़, अगर यही हाल रहा तो साल 2100 तक भारत की आबादी 1450 मिलियन हो जाएगी. साल 1950 से 2100 की जनसंख्या का तुलनात्मक अध्ययन करने के बाद संस्थान ने कहा कि अगर इसी तरह भारत की आबादी बढ़ती रही तो साल 2010 में ये चीन की जनसंख्या से ज्यादा हो जाएगी. बढ़ती आबादी के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए ही हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है. आइए जानते हैं किस तरह आप लगा सकते हैं बढ़ती आबादी पर लगाम.

वार्डरोब में शामिल करें फ्लोरल प्रिंट, भारत के प्रमोशन में कटरीना ने भी कैरी किया ये लुक



कंडोम का इस्तेमाल:
आबादी को रोकने के लिए सबसे सरल और सस्ता उपाय है कंडोम का प्रयोग. साथी के साथ संबंध स्थापित करने से पहले कंडोम का इस्तेमाल करें जिससे महिला साथी के गर्भवती होने की संभावना से बचा जा सके और इसके इस्तेमाल से सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिसीज से भी बचाव होता है. हालांकि कंडोम का इस्तेमाल पूरी तरह कारगर नहीं माना जाता है. यह केवल 80 प्रतिशत की कारगर है.



जब 45°C के ऊपर जाता है पारा, तो शरीर में ये होते हैं बदलाव?

कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स:
Loading...

कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स को गर्भ निरोधक गोलियां भी कहा जाता है. बढ़ती जनसंख्या को रोकने और फैमिली प्लानिंग के लिए ये गोलियां मार्केट में बेहद कम दामों पर बाजार में उपलब्ध हैं. साथी से सम्बन्ध स्थापित करने के बाद 48 घंटे के अन्दर इस गोली का सेवन करना होता है. अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए ये गोलिया 90 फीसदी कारगर हैं. इस गोलियों में मौजूद हार्मोन्स ऑव्यूलेशन की प्रकिया को प्रभावित करते हैं जिससे प्रेग्नेंसी रुक जाती है.

वजाइनल रिंग:
यह बेहद लचीली रिंग होती है जिसे प्राइवेट पार्ट में इंसर्ट करने पर कुछ एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टिन हार्मोन रिलीज होते हैं जो अनचाहे गर्भ को रोकते हैं. बता दें कि ये अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए ये तरीका बेहद प्रभाव है.

लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...