World Sight Day 2020: जानें क्यों लाल होती हैं आंखें, कैसे करें घरेलू उपचार

आंखें यदि हमेशा लाल रहती हैं तो डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए.
आंखें यदि हमेशा लाल रहती हैं तो डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए.

जब आंखों (Eyes) में किसी प्रकार का संक्रमण (Infection) हो जाता है तो आंखें लाल (Red Eyes) हो जाती हैं. कन्जक्टिवाइटिस और मोतियाबिंद जैसे संक्रमण के कारण यह समस्या होती है.

  • Last Updated: October 6, 2020, 2:54 PM IST
  • Share this:


ज्यादातर लोगों को आंखें लाल (Red Eyes) होने की समस्या होती है. सुबह सोकर उठने के बाद या नहाकर आने के बाद आंखें लाल हो जाती हैं. myUpchar से जुड़े डॉ. अजय मोहन के अनुसार, इसके पीछे की बड़ी वजह है आंखों के सफेद वाले हिस्से की रक्त वाहिकाओं में सूजन, जिससे आंखें लाल दिखने लगती हैं. इस समस्या को यदि नजरअंदाज किया गया तो यह किसी गंभीर समस्या को जन्म दे सकती है. आंखें यदि हमेशा लाल रहती हैं तो डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए. डॉक्टर इसका सही कारण और उपचार बताएंगे. आपको बता दें कि 8 अक्टूबर को World Sight Day मनाया जाएगा. आइए इस अवसर पर जानते हैं कि आंखें लाल होने के क्या कारण हो सकते हैं.

आंखों में संक्रमण



जब आंखों में किसी प्रकार का संक्रमण हो जाता है तो आंखें लाल हो जाती हैं. कन्जक्टिवाइटिस और मोतियाबिंद जैसे संक्रमण के कारण यह समस्या होती है.
आंखों की एलर्जी

आंखों में किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या होने के कारण भी आंखें लाल होने लगती हैं. जैसे यदि किसी धूल या धुएं के संपर्क में कोई व्यक्ति बार-बार आता है तो इससे आंखों में जलन और खुजली होने लगती है, जिसकी वजह से आंखें लाल हो जाती हैं या किसी वस्तु से एलर्जी होने पर भी यह समस्या हो सकती है.

आंखें लाल होने के ये हैं अन्य कारण

जिन लोगों की दिनचर्या खराब होती है, उन्हें भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है. इसमें नींद की कमी और अनुचित आहार का सेवन आदि शामिल हैं. जो लोग शराब का सेवन करते हैं या अधिक धूम्रपान करते हैं, उन्हें भी आंखें लाल होने की समस्या हो सकती है. इसके अतिरिक्त जो लोग कान्टेक्ट लेंसेस का प्रयोग अधिक करते हैं. उन्हें भी इस प्रकार की समस्या से रूबरू होना पड़ सकता है.

कैसे करें आंखों का उपचार

myUpchar से जुड़े डॉ. आयुष पाण्डे के अनुसार, यदि कॉन्टेक्ट लेंस पहने हैं तो तत्काल निकाल दें. आंखों को हाथ लगाने से पहले हाथ अच्छी तरह से साफ करें. गुलाब जल से आंखें साफ होती हैं और यह आंखों में लालिमा को दूर करने के लिए एक बेहतर घरेलू नुस्खा है. इसके लिए गुलाब जल की 2-3 ड्रॉप आंखों में डालें. इस विधि को दिन में दो से तीन बार करते रहें. गुलाब जल आंखों को ठंडक भी पहुंचाता है. इसके अतिरिक्त गुलाब जल को एक और तरह से भी उपयोग में लाया जा सकता है. एक रुई को गुलाब जल में भिगोकर फ्रिज में ठंडा होने के लिए रख दें. इसके बाद इस रुई को दोनों आंखों पर कुछ देर के लिए रखें. आंखों में ठंडक मिलने के साथ ही आंखों की लालिमा भी कम हो जाएगी.

आंखों का लालपन कम करने के लिए दूध और शहद का भी इस्तेमाल किया जा सकता है. दूध और शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आंखों को राहत पहुंचाने का कार्य करते हैं. इसके लिए गर्म दूध और शहद बराबर मात्रा में लें और इसका मिश्रण तैयार कर लें. रूई या आई ड्रॉप की मदद से इसकी तीन बूंदें आंखों में डालें. इससे काफी आराम मिलेगा और आंखों का लालपन कम हो जाएगा.

एलोवेरा भी आंखों को ठंडक पहुंचाने का काम करता है और आंखों के लिए यह एक अच्छी जड़ी बूटी है. एलोवेरा का इस्तेमाल करने के लिए इसके टुकड़े को फ्रिज में रख दें और कुछ देर बाद इसे ठंडे पानी के साथ मिला लें. अब इसमें रुई भिगोकर आंखों पर कुछ देर के लिए रखें, आंखों की सूजन और जलन कम हो जाएगी.

आंखों की सुरक्षा के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए. इससे आंखों की एलर्जी भी दूर होती है और किसी प्रकार के संक्रमण भी से भी बचाव होता है.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, आंख लाल होने पर क्या करें पढ़ें.न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज