सेक्स पॉवर बढ़ाने के लिए करें ये योगासन, सेक्स लाइफ होगी शानदार

सेक्स पॉवर बढ़ाने के लिए करें ये योगासन, सेक्स लाइफ होगी शानदार
बेहतर शारीरिक संबंध स्थापित करने में मदद कर सकते हैं ये योगासन

शारीरिक संबंध (Physical Relation) बनाते समय बेहतर प्रदर्शन और सेक्स पॉवर (Sex Power) बढ़ाने में भी कुछ योगासन (Yoga) मदद कर सकते हैं. आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही योगासन के बारे में...

  • Last Updated: September 14, 2020, 6:26 AM IST
  • Share this:
दुनियाभर में इन दिनों योग (Yoga) के प्रति लोगों में रुझान बढ़ा है. योगाभ्यास के जरिए न केवल रोगों से बचा जा सकता है बल्कि कई गंभीर बीमारियों को ठीक भी किया जा सकता है. तनाव या अवसाद के चलते कई लोगों में सेक्स के प्रति रुचि कम हो जाती है. शरीर में यदि कोई भी तकलीफ होती है तो शारीरिक संबंध (Physical Relation)के दौरान चरम अवस्था तक पहुंचने में बाधा हो सकती है. खराब जीवनशैली या किसी भी प्रकार के बीमारी के कारण कई प्रकार की सेक्स संबंधी समस्याओं (Sex Problems) का सामना करना पड़ सकता है. स्वस्थ और बेहतर सेक्स जीवन (Sex Life) का आनंद उठाने के लिए योग का सहारा लेना सबसे सुरक्षित और सही उपाय होता है. शारीरिक संबंध बनाते समय बेहतर प्रदर्शन और सेक्स पॉवर (Sex Power)बढ़ाने में भी कुछ योगासन मदद कर सकते हैं. आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही योगासन के बारे में, जिन्हें यदि नियमित किया जाए तो व्यक्तिगत जिंदगी सुखमय हो सकती है -

मांसपेशियों को मजबूत करता है पद्मासन

इस योगासन से मांसमेशियां, पेट, मूत्राशय और घुटनों में खिंचाव उत्पन्न होता है, जिससे इनमें मजबूती आती है. इससे न सिर्फ शरीर में उत्तेजना का संचार होता है बल्कि चरमसुख की अवधि भी बढ़ती है. इससे लंबे समय तक शारीरिक संबंध स्थापित करने में मदद मिलती है. इस आसन के कारण खोई हुई काम की उत्तेजना वापस आ जाती है.



यौन इच्छा को जाग्रत करता है हलासन
यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए हलासन का इस्तेमाल काफी कारगर होता है. यह पुरुषों और महिलाओं की यौन ग्रंथियों को मजबूत और सक्रिय बनाता है. इससे यौनांगों में उत्तेजना का संचार होता है, जिसके कारण शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा जागृत होती है. अगर किसी को नपुंसकता की समस्या है तो इस आसन के द्वारा इस समस्या से भी धीरे-धीरे राहत मिलने लगती है.

मांसपेशियों को मजबूत करता है हनुमानासन

हनुमानासन को करने से गुप्तांगों में रक्त का संचार अच्छी तरह से होने लगता है. इस योगासन को करने में शुरुआत में परेशानी हो सकती है. धीरे-धीरे इसका अभ्यास बढ़ाते रहना चाहिए. हनुमानासन करने से नीचे के अंगों की मांसपेशियों में तनाव कम होने के कारण लचीलापन आ जाता है, जिसके कारण शारीरिक संबंध बनाने के दौरान कोई परेशानी नहीं होती है और चरम आनंद का अनुभव होता है.

सेक्स में अरुचि हो तो जरूर करें सर्वांगासन

myUpchar के अनुसार, जब किसी में सेक्स के प्रति रुझान कम होने लगे तो यह आसन जरूर करना चाहिए. जिन लोगों को शारीरिक संबंध बनाने में रुचि नहीं रहती है, उनमें यह आसन यौन इच्छा को जाग्रत कर देता है. इस आसन के द्वारा अन्य यौन समस्याओं से भी निजात मिल जाती है. यह आसन शरीर को लचीला बनाता है.

तितली आसन यौन अंगों में बढ़ाता है रक्त संचार

तितली आसन को करने से यौन अंग मजबूत होते हैं. साथ ही पेल्विक और ग्रोइन अंगों में लचीलापन आने के साथ रक्त संचार भी बढ़ जाता है. इस आसन से सेक्स के प्रति रुचि बढ़ाने के साथ-साथ चरम आंनद का उपभोग भी कर पाते हैं.

उष्ट्रासन भी असरकारक

उष्ट्रासन करने से भी गुप्तागों में रक्त का संचार अच्छी तरह से होता है. शरीर में अद्भुत ऊर्जा का संचार होने लगता है, जो सेक्स के आनंद को उठाने में मदद करता है. (अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, सेक्स की लत क्या है, लक्षण, कारण, इलाज, बचाव और टेस्ट पढ़ें।) (न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।)

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज