होम /न्यूज /जीवन शैली /दिल के हैं मरीज तो 'फ्लू इंफेक्शन' को बिल्कुल भी न करें नजरअंदाज, जानें ये जरूरी बातें

दिल के हैं मरीज तो 'फ्लू इंफेक्शन' को बिल्कुल भी न करें नजरअंदाज, जानें ये जरूरी बातें

हार्ट के मरीज होने पर आपको फ्लू होने पर विशेष ध्यान देना चाहिए.

हार्ट के मरीज होने पर आपको फ्लू होने पर विशेष ध्यान देना चाहिए.

Flu infection, Heart attack symptoms: फ्लू से पीड़ित होने पर फेफड़े में संक्रमण की समस्या और सांस संबंधित ब्रानकाइटिस ज ...अधिक पढ़ें

Flu Infection, Heart Attack Symptoms: फ्लू को अक्सर लोग एक सामान्य सर्दी जुकाम वाली बीमारी मानते हैं. कुछ लोगों के लिए यह नार्मल बीमारी हो सकती है लेकिन अगर आप एक हृदय रोगी हैं तो यह काफी खतरनाक हो सकता है. दिल हमारे शरीर का सबसे जरूरी अंग होता है इसी के दम पर हम जीवित रहते हैं. जब से इसका निर्माण होता है यह बिना रुके काम करता लेकिन हमारी खराब जीवनशैली और खानपान की आदतें इसे नुकसान पहुंचाती हैं.

सर्दियां आने वाली हैं और इस मौसम में सर्दी जुकाम और फ्लू के मामलों में भी तेजी आ जाती है. लेकिन एक सर्वे के मुताबिक सर्दियों में हार्ट अटैक का भी जोखिम बहुत अधिक बढ़ जाता है. अध्ययन से पता चलता है कि सर्दी के दिनों में दिल का दौरा पड़ने का खतरा गर्मियों के मुकाबले दोगुना होता है.

हृदय रोगियों के लिए कितना खतरनाक है फ्लू
एवरीडे हेल्थ की खबर के अनुसार दरअसल फ्लू रेस्पिरेट्री ट्रैक्ट से जुड़ा हुआ एक इंफेक्‍शन होता है, जिसमें नाक और गले में संक्रमण होता है. वहीं, हार्ट अटैक दिल से जुड़ी एक गंभीर बीमारी है, जो दिल में ब्‍लड फ्लो के कम होने की वजह से हो सकती है.

रात को बिस्तर पर जाते समय अपनाएं ये तकनीक, कुछ ही पलों में आ जाएगी गहरी नींद

फ्लू से पीड़ित होने पर फेफड़े में संक्रमण की समस्या और सांस संबंधित ब्रानकाइटिस जैसी कई तकलीफें होती हैं. फ्लू की वजह से कई बार कार्डियोवस्कुलर सिस्टम को बेहद नुकसान होता है. सर्दियों में फ्लू का खतरा बढ़ने से हॉर्ट अटैक का भी खतरा बढ़ जाता है इसलिए इस मौसम में हार्ट के मरीजों को विशेष ध्यान रखना चाहिए. हालांकि ऐसा कोई आंकड़ा नहीं है जिससे यह अंदाजा लगाया जा सके कि हृदय रोग से पीड़ित कितने लोगों को हर साल फ्लू होता है.

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के लिए रोकथाम के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी, एडुआर्डो सांचेज़ कहते हैं, “हम अनुमान लगाते हैं कि इस देश में 125 मिलियन या उससे अधिक लोगों को हृदय रोग है.

क्या फ्लू हृदय रोग वाले लोगों को अलग तरह से प्रभावित करता है?
मेयो क्लिनिक के अनुसार, यदि आपको हृदय रोग है, तो आपको निमोनिया, ब्रोंकाइटिस, फेफड़ों की विफलता और दिल के दौरे सहित फ्लू से संबंधित समस्याएं होने की संभावना अधिक होती है. इसके साथ ही यह मधुमेह, अस्थमा और अन्य पहले से मौजूद स्थितियों को भी खराब कर सकता है.

अगर 35 साल से कम उम्र में लेते हैं कैल्शियम सप्लीमेंट तो हड्डियां होंगी मजबूत, जानें क्या कहती है रिसर्च

फ्लू के बारे में सबसे ज्यादा किसे चिंतित होना चाहिए?
रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के अनुसार, हर कोई जो 6 महीने से अधिक उम्र का है, उसे इन्फ्लूएंजा से खुद को बचाने के लिए फ्लू का टीका लगवाना चाहिए. लेकिन पिछले कुछ समय में जिस तरह से हृदय रोग का प्रसार हुआ है उससे कुछ विशेष लोगों को उच्च जोखिम वाला माना जाता है. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑन एजिंग के अनुसार, पहले 65 वर्ष और उससे अधिक उम्र के हैं, जो कमजोर दिल के कारण हृदय संबंधी घटनाओं से पीड़ित होने की अधिक संभावना रखते हैं.

फ्लू का टीका हृदय रोग से पीड़ित लोगों की रक्षा कैसे करता है?
कार्डियोवैस्कुलर बीमारी से निदान लोगों के लिए, फ्लू शॉट केवल फ्लू से ज्यादा के खिलाफ सुरक्षा करता है. अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन जर्नल में प्रकाशित नए अध्ययन के मुताबिक, फ्लू का टीका न सिर्फ आम लोगों बल्कि ज्यादा जोखिम उम्र वर्ग (दो साल से कम उम्र के बच्चों और 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों) के लोगों की हालत गंभीर होने से बचाने के साथ ही कार्डियोवस्कुलर रोगों से मौत के खतरे को भी कम करता है.

Tags: Flu, Health, Heart attack, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें