लाइव टीवी

HIV की जेनरिक दवा के लिए रैनबैक्सी का गिलीड से करार

वार्ता
Updated: August 3, 2012, 12:02 PM IST
HIV की जेनरिक दवा के लिए रैनबैक्सी का गिलीड से करार
फॉर्मा कंपनी रैनबैक्सी ने एचआईवी संक्रमण के उपचार के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवा एमेट्रीसिटाबाइन का जेनरिक संस्करण बनाने के लिए बहुराष्ट्रीय दवा कंपनी गिलीड साइंसेज के साथ करार किया है।

फॉर्मा कंपनी रैनबैक्सी ने एचआईवी संक्रमण के उपचार के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवा एमेट्रीसिटाबाइन का जेनरिक संस्करण बनाने के लिए बहुराष्ट्रीय दवा कंपनी गिलीड साइंसेज के साथ करार किया है।

  • Share this:
मुंबई। फॉर्मा कंपनी रैनबैक्सी ने एचआईवी संक्रमण के उपचार के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवा एमेट्रीसिटाबाइन का जेनरिक संस्करण बनाने के लिए बहुराष्ट्रीय दवा कंपनी गिलीड साइंसेज के साथ करार किया है।

एमेट्रीसिटाबाइन गिलीड साइंस की पेटेंट दवा है। करार के तहत गिलीड एमेट्रीसिटाबाइन का जेनरिक संस्करण बनाने के लिए रैनबैक्सी को प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के साथ ही उत्पादन प्रक्रिया के खर्चों में कमी के लिए सभी जरूरी सेवाएं भी देगी।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एमेट्रीसिटाबाइन को विश्व में एचआईवी संक्रमण के लिए सबसे प्रभावी दवा का दर्जा दिया है। ऐसे में रैनबैक्सी विकासशील देशों के बाजार में इस दवा का जेनेरिक संस्करण लाना चाहती है ताकि कम आय वर्ग के लोगों को भी यह आसानी से उपलब्ध हो सके।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 3, 2012, 12:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर