लाइव टीवी

महिला कंडोम लाओ, एड्स दूर भगाओ

आईएएनएस
Updated: August 10, 2008, 8:55 AM IST
महिला कंडोम लाओ, एड्स दूर भगाओ
एचआईवी संक्रमण पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ज्यादा।

एचआईवी संक्रमण पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ज्यादा।

  • Share this:
मैक्सिको सिटी। 'महिला कंडोम' एड्स के खिलाफ जंग में महिलाओं का एकमात्र साधन है। लेकिन इसकी पहुंच महिलाओं तक आसानी से नहीं है।

ऑक्सफाम और वर्ल्ड पोपुलेशन फोरम जैसे संगठनों ने इस कंडोम को लोकप्रिय बनाये जाने की वकालत की है।

ब्रिटेन के संगठन ऑक्सफाम की प्रवक्ता फराह करीमी ने बताया कि'महिला कंडोम' को लेकर नीति बनाने वालों का रवैया हमेशा से ही उपेक्षा भरा रहा है। आज एचआईवी संक्रमण पुरुषों की तुलना में महिलाओं को कहीं अधिक दबोच रहा है।



खासकर अफ्रीका में हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। इसके बावजूद इस कंडोम को लेकर विभिन्न देशों की सरकारों का रवैया सकारात्मक नहीं है। हम जानते हैं कि अगर महिलाओं तक यह आसानी से उप्लब्ध होता तो लाखों महिलाओं को एचआईवी संक्रमण और अनचाहा गर्भधारण से बचाया जा सकता था।



ऑक्सफाम और वर्ल्ड पोपुलेशन फाउंडेशन कि रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनियाभर की सरकारों ने एड्स के खिलाफ महिला नियंत्रित एकमात्र हथियार 'महिला कंडोम' की अनदेखी कर लाखों लोगों की जान खतरे में डाल दी है।

संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष की उप कार्यकारी निदेशक पूर्णिमा माने ने बताया कि हर दिन 7000 महिलाएं एचआईवी पॉजिटिव रोगियों की जमात में शामिल होती हैं। हमें उन्हें बचाने के लिए इस कंडोम की उपलब्धता आसान बनानी होगी।

इसमें कहा गया है कि महिला कंडोम महंगा होने के कारण अधिकांश महिलाओं की पहुंच से बाहर है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हेल्थ & फिटनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 10, 2008, 8:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading