हार्ट प्रॉब्लम ही नहीं भूलने की बीमारी का इलाज भी कर सकती है ये दवाः शोध

कुछ दवाओं के संयोजन से भी अल्जाइमर का निदान पाया जा सकता है.

यूनिवर्सिटी ऑफ सर्दर्न कैलिफोर्निया के शोधकर्ता डगलस बर्थोल्ड ने कहा कि यह पहले से ही पता है कि स्वस्थ हार्ट के लिए ब्लडप्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी है.

  • Share this:
    दिल की दवा दिल की बीमारी ठीक करने के साथ ही इंसानों में भूलने की बीमारी को भी ठीक कर सकती है. एक हालिया शोध में यह दावा किया गया है कि कोलेस्ट्रॉल व हाई ब्लड प्रेशर की दवाओं के संयोजन से इंसान में डिमेंशिया के खतरे को भी कम किया जा सकता है.

    विचाराधीन दवाओं में दो सामान्य प्रकार की ब्लडप्रेशर की दवाएं जैसे एसीई इनहिबिटर और एंजियोटेंसिन दो रिसेप्टर ब्लॉकर्स (एआरबी) शामिल होती हैं. साथ ही इसमें कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले स्टैटिन भी होते हैं.

    कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में रखना है जरूरी

    यूनिवर्सिटी ऑफ सर्दर्न कैलिफोर्निया के शोधकर्ता डगलस बर्थोल्ड ने कहा कि यह पहले से ही पता है कि स्वस्थ हार्ट के लिए ब्लडप्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी है. अध्ययन से पता चलता है कि कुछ दवाओं के संयोजन से भी अल्जाइमर का निदान पाया जा सकता है.

     

    इसे भी पढ़ें : लोगों में बढ़ रहा है ड्राई फास्टिंग का क्रेज, वेटलॉस के साथ बॉडी को मिलते है ये खास फायदे

     

    इन वजहों से होती है भूलने की बीमारी

    तनावः ज्यादा काम होने के कारण अक्सर लोगों को तनाव ज्यादा रहता है. तनाव धीरे-धीरे आपकी ब्रेन मेमोरी को खोखला करता है, जिसके कारण आपको भूलने की बीमारी हो सकती है.

    मल्टी टास्किंगः ऑफिस, घर में अक्सर एक साथ कई सारे काम करने के कारण भी दिमाग की मेमोरी प्रभावित होती है.

    नींद कम आनाः जिन लोगों को नींद कम आने की समस्या है वो भी भूलने की बीमारी का शिकार हो सकते हैं. नींद कम आने की वजह से न सिर्फ आपका स्वास्थ्य खराब होता है, बल्कि चीजों को याद करना, याद रखना भी मुश्किल हो जाता है.

    ज्यादा दवाइयों का सेवनः भूलने की बीमारी उन लोगों को भी हो सकती है जो हर छोटी-छोटी बात पर दवाइयों का सेवन करते हैं. अक्सर लोग सिरदर्द, बुखार, खांसी, पेट दर्द समेत कई छोटी-छोटी समस्याओं में कई सारी दवाओं का सेवन करते हैं. ज्यादा दवाओं का सेवन करना भी दिमाग पर असर डाल सकता है, जिसके कारण भूलने की बीमारी हो सकती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.