Holi 2019/Holi Faag Mahotsav: जयपुर में मची 'फाग' महोत्सव की धूम, गाया जा रहा, आज ब्रज में होली रे रसिया

Holi 2019: आज ब्रज में होली रे रसिया, जानिए होली में क्यों गाया जाता है 'फाग' गीत

News18Hindi
Updated: March 19, 2019, 9:14 AM IST
Holi 2019/Holi Faag Mahotsav: जयपुर में मची 'फाग' महोत्सव की धूम, गाया जा रहा, आज ब्रज में होली रे रसिया
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: March 19, 2019, 9:14 AM IST
Holi 2019/Holi Faag Mahotsav: होली में 'फाग' गाने की परंपरा लम्बे समय से चली आ रही है. 20 मार्च बुधवार को  ठाकुरजी के मंदिरों में फूलों, गुलाल के साथ होली खेली जाएगी. इसके साथ ही फाग भी गाया जाएगा. गुरूवार को धुलंडी में ये जश्न मनाया जाएगा. होली का त्योहार केवल रंग और गुलाल की वजह से हे नहीं बल्कि कई पारंपरिक रीति-रिवाजों की वजह से और ज्यादा रंगीन हो जाता है. होली से पहले ही कई जगहों पर एक महीने और होली के त्योहार का जश्न शुरू हो जाता है. कुछ लोग होली का जश्न मनाने के लिए फाग गाते हैं. फाग मूलतः उत्तर प्रदेश और इसके आसपास के इलाकों का लोकगीत है. जिसे लोग ढ़ोलक और मंजीरे की थाप पर पूरे सुर और तान के साथ गाते हैं. फाग में गाने के माध्यम से होली के रंगों, प्रकृति की खूबसूरती और भगवान कृष्ण और देवी राधा की लीलाओं और पवित्र प्रेम का वर्णन होता है. फाग को शास्त्रीय और उपशास्त्रीय संगीत का भी एक रूप माना जाता है.

Holi 2019, Holika Dahan: होलिका की राख से करें ये उपाय, धन-धान्य से भर जाएगा घर, चमकेगी किस्मत!

वसंत पंचमी के बाद से ही बिहार में पूर्वांचल होली तक फाग गाया जाता है. हालांकि अंग प्रदेश (भागलपुर, मुंगेर और उससे सटे बिहार और बंगाल के क्षेत्र) में इसे फगुआ कहा जाता है. फगुआ से तात्पर्य है फागुन का त्योहार होली. इन क्षेत्रों में लोग होली के दिन धूल-मिटटी से होली खेलने के बाद रंगोवाली होली खेली जाती है. इसके बाद नहाने धोने के पश्चात भांग पीते हुए फगुआ गाने सुनते हैं.


पेश है एक फाग गीत:


रसिया रस लूटो होली में,
राम रंग पिचुकारि, भरो सुरति की झोली में
Loading...

हरि गुन गाओ, ताल बजाओ, खेलो संग हमजोली में
मन को रंग लो रंग रंगिले कोई चित चंचल चोली में
होरी के ई धूमि मची है, सिहरो भक्तन की टोली में.

Holi Herabal Colors: होली के लिए घर पर ऐसे तैयार करें हर्बल रंग, प्यार का रंग हो जाएगा गहरा!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...