होम /न्यूज /जीवन शैली /

Holi 2022: बच्चों को होली खेलने के लिए इस तरह से करें तैयार, नहीं होगी किसी तरह की परेशानी

Holi 2022: बच्चों को होली खेलने के लिए इस तरह से करें तैयार, नहीं होगी किसी तरह की परेशानी

बच्चों को फुल स्लीव्स कपड़े पहनायें

बच्चों को फुल स्लीव्स कपड़े पहनायें

Holi 2022: Holi 2022: होली (Holi) के उत्साह में कई बार हम इतना मशगूल हो जाते हैं कि बच्चों (Kids) पर ध्यान देना ही भूल जाते हैं. वहीं बच्चे भी होली के दिन मस्ती में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं. हालांकि होली खेलते समय बच्चों का खास ख्याल रखना काफी जरूरी होता है. इस दौरान बच्चों के लिए ऑर्गेनिक कलर का इस्तेमाल करने से लेकर उनकी सुरक्षा (Safety) तक को बिल्कुल नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. ऐसे में कुछ अहम बातों को ध्यान में रखकर आप बच्चों के लिए होली को सेफ बना सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Holi 2022:  होली की मौज-मस्ती को बड़ों के साथ-साथ बच्चे भी फुल एंज्वॉय करते हैं. अमूमन बच्चे तो होली (Holi) को लेकर सबसे ज्यादा एक्साइटेड नजर आते हैं और होली का पूरा आनंद उठाने के लिए अलग-अलग रंगों, गुब्बारों और पिचकारियों की लम्बी लिस्ट भी तैयार रखते हैं. हालांकि होली के उत्साह में बच्चों (Children) के प्रति बरती गई कुछ लापरवाहियां आपके लिए काफी भारी भी पड़ सकती हैं. इसलिए होली के पर्व पर बच्चों का खास ख्याल (Safety Tips) रखना बेहद जरूरी होता है. दरअसल बच्चों के लिए होली का मतलब सिर्फ रंगों का त्योहार और ढ़ेर सारी मस्ती ही होता है. ऐसे में होली के दिन रंग खेलने से लेकर बच्चों के खान-पान और सुरक्षित जगह का चयन करने जैसी कुछ आम बातों को अनदेखा नहीं किया जा सकता है. तो आइए जानते हैं होली पर बच्चों का ध्यान रखने के कुछ आसान तरीकों के बारे में.

स्किन पर लगाएं तेल

बच्चों की नाजुक त्वचा को कैमिकल युक्त रंगों से बचाने के लिए तेल या क्रीम लगाना न भूलें. इसके लिए आप होली खेलने जाने से पहले बच्चों की स्किन पर सरसों का तेल या फिर नारियल का तेल लगा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: Holi 2022: होली में ठंडाई पीने की केवल परंपरा ही नहीं है बल्कि सेहत को मिलते हैं कई फायदे भी

हाथों और पैरों को कवर करें 

होली खेलने के लिए बच्चों को फुल स्लीव कपड़े पहनने की सलाह दें. जिससे उनके हाथ और पैर कवर रहेंगे और रंगों का कैमिकल रिएक्शन उनकी स्किन पर नहीं होगा.

बालों को बांधे

होली में हर तरफ उड़ते सिंथेटिक कलर बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. साथ ही इससे बच्चों के सर में दर्द भी शुरू हो सकता है. इसलिए होली खेलने से पहले बच्चों के बालों को अच्छे से बांध दें.

नाखूनों को करें छोटा

होली खेलते समय बच्चे एक-दूसरे को खरोच न मार लें. इसलिए उनके नाखूनों को पहले काट दें. इससे उनके नाखूनों में गंदगी भी नहीं भरेगी.

पास रखें फर्स्ट एड बॉक्स

होली की भाग-दौड़ में कई बार बच्चों को गिरने से चोट लग जाती है. ऐसे में उनकी होली खराब न हो इसलिए फर्स्ट एड बॉक्स अपने पास रखें और उन्हें चोट लगने पर तुंरत दवा लगा दें.

सुरक्षित स्थान पर खेलें होली

होली के दिन बाहर का वातावरण काफी खराब रहता है. इसलिए बच्चों के होली खेलने के लिए किसी सुरक्षित स्थान का चयन करें. जहां बच्चे पूरी तरह एंज्वॉय कर सकें.

सावधानी बरतने की दें सीख

होली खेलते समय बच्चों को उपद्रवियों और हुड़दंग से दूर रह कर होली खेलने की सलाह दें. साथ ही उन्हें गीले फर्श पर दौड़ने से भी मना कर दें. जिससे उन्हें चोट नहीं लगेगी.

डाइट पर दें ध्यान

होली के उत्साह में सही डाइट न लेने के कारण बच्चों में डिहाइड्रेशन की समस्या भी देखने को मिल सकती है. इसलिए बच्चों को हर थोड़ी देर पर कुछ न कुछ खाने को देते रहें.

गीले कपड़े पहनाने से बचें

होली के दिन ज्यादा देर तक गीले कपड़े पहनने के कारण बच्चों की तबीयत भी खराब हो सकती है. इसलिए बच्चों के कपड़े गीले होने पर उन्हें बदलना न भूलें.

ये भी पढ़ें: Side Effects of Holi Colours: केमिकल युक्त होली कलर्स सिर से लेकर पैरों तक पहुंचाते हैं नुकसान, दूर रहें इनसे

नैचुरल रंगों का करें प्रयोग

सिंथेटिक रंगों की तुलना में नैचुरल कलर में कैमिकल की मात्रा काफी कम होती है. जिसके चलते ये रंग बच्चों के लिए ज्यादा नुकसानदायक भी नहीं होते. साथ ही ऑर्गेनिक कलर बच्चों की आंखों या फिर मुंह में जाने पर भी कोई कैमिकल रिएक्शन नहीं करते हैं. इसलिए उनको नेचुरल रंग ही खेलने के लिए दें.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Holi, Holi celebration, Lifestyle, Parenting

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर