इफ़्तार करने के बाद आपको भी हो जाती है एसिडिटी? इन घरेलू उपायों से पाएं निजात

इफ़्तार के बाद एसिडिटी से राहत देगा जीरा और काला नमक-Image credit/pexels-naim-benjelloun

इफ़्तार के बाद एसिडिटी से राहत देगा जीरा और काला नमक-Image credit/pexels-naim-benjelloun

रमज़ान के दिनों (Days of Ramadan) में रोज़े रखते हुए इफ़्तार करने के बाद (After Iftar) अगर आपको भी एसिडिटी की दिक्कत (Problem of acidity) होती है तो आप इन घरेलू उपायों के ज़रिये निजात पा सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 1:57 PM IST
  • Share this:
रमज़ान का पाक़ महीना (Holy month of Ramadan) चल रहा है, ख़ुदा की इबादत के क्रम में रोज़ेदार सारा दिन भूखे-प्यासे रह कर रोज़े रख रहे हैं. लेकिन शाम को जब रोज़ा खोलने के बाद (After opening Roza) वो इफ़्तार करते हैं तो कुछ लोगों को एसिडिटी की दिक्कत (Problem of acidity) आती है. इस दिक्कत से निजात पाने के लिए आप यहां बताये जा रहे इन घरेलू उपायों का इस्तेमाल कर सकते हैं.

जीरा और काला नमक

रोज़ा खोलने के बाद जब आप इफ़्तार कर लें तो इसके फ़ौरन बाद आप चाहें तो रोज़ाना जीरा और काले नमक का सेवन कर सकते हैं. इसके लिए जीरे को भून कर बारीक पीस लें. आधे चम्मच भुने जीरे के पाउडर में चौथाई चम्मच काला नमक मिलाकर गुनगुने पानी के साथ खा लें. इससे एसिडिटी में राहत मिलेगी. अगर आप और भी बेहतर रिज़ल्ट चाहते हैं तो सुबह सहरी के समय भी इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: Ramadan Special: रोज़ा रख कर भी कर सकते हैं एक्‍सरसाइज, पर जान लें इसका सही समय
 अजवाइन और काला नमक


एसिडिटी को दूर करने के लिए आप इफ़्तार के बाद अजवाइन और काले नमक का सेवन कर सकते हैं. आधा चम्मच अजवाइन को बारीक पीस कर इसमें चौथाई चम्मच पिसा हुआ काला नमक मिलाएं. फिर इस मिश्रण को गुनगुने पानी के साथ खाएं. अगर आप ये न खाना चाहें तो अजवाइन को पानी में उबालकर इसमें काला नमक मिलाकर भी पी सकते हैं. दिन भर आपको एसिडिटी न हो, इसके लिए अगर आप चाहें तो इस प्रक्रिया को सहरी खाने के समय भी दोहरा सकते हैं.

अदरक की चाय



वैसे तो चाय एसिडिटी को बढ़ाने का काम करती है इसलिए इसके सेवन से जितना बचा जाये उतना ठीक है लेकिन अगर आप चाय पीने के शौक़ीन हैं तो इसमें थोड़ी सी अदरक का इस्तेमाल ज़रूर करें. इससे आपकी एसिडिटी की दिक्कत भी दूर होगी और इम्यून सिस्टम भी मज़बूत होगा.

आंवला जूस या मुरब्बा


एसिडिटी से निजात पाने के लिए आप आंवले का सहारा भी ले सकते हैं. आप इफ़्तार के दौरान या बाद में आंवले के जूस का सेवन कर सकते हैं. या चाहें तो आंवले का मुरब्बा भी इस्तेमाल कर सकते हैं. अगर इन दोनों चीज़ों का इस्तेमाल न करना चाहें तो आप आंवला कैंडी का सेवन भी कर सकते हैं. इससे आपको एसिडिटी की दिक्कत भी नहीं होगी साथ ही इम्यूनिटी भी स्ट्रांग होगी.

सौंफ या सौंफ का पानी

सौंफ या सौंफ का पानी भी एसिडिटी से काफी राहत देता है. इसके लिए आप इफ़्तार करने के बाद या तो माउथ फ्रेशनर के तौर पर सौंफ का सेवन कर  सकते हैं या फिर एक चम्मच सौंफ को एक गिलास पानी में उबालकर, इस पानी को छानकर भी इसका सेवन कर सकते हैं. इससे आपका डाइजेशन भी बेहतर होगा.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज