हॉर्मोन का बैलेंस बिगड़ने से होता है सिरदर्द, डाइट में करें ये बदलाव

News18Hindi
Updated: September 9, 2019, 4:08 PM IST
हॉर्मोन का बैलेंस बिगड़ने से होता है सिरदर्द, डाइट में करें ये बदलाव
अधिकतर महिलाओं में सिरदर्द होने के पीछे का कारण शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन का स्तर कम हो जाना है. हालांकि इसके अलावा भी कई कारणों की वजह से सिरदर्द होता है.

अधिकतर महिलाओं में सिरदर्द होने के पीछे का कारण शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन का स्तर कम हो जाना है. हालांकि इसके अलावा भी कई कारणों की वजह से सिरदर्द होता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2019, 4:08 PM IST
  • Share this:
महिलाओं के शरीर में हॉर्मोन का स्तर हर रोज घटता-बढ़ता रहता है जिसका असर उनके शरीर पर कई तरह से पड़ता है. हॉर्मोन में होने वाले बदलाव की वजह से महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इनमें से एक गंभीर समस्या सिरदर्द भी है. अधिकतर महिलाओं में सिरदर्द होने के पीछे का कारण शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन का स्तर कम हो जाना है. हालांकि इसके अलावा भी कई कारणों की वजह से सिरदर्द होता है. इस सिरदर्द को दूर करने के लिए नियमों में कुछ बदलाव करने पड़ते हैं. यह बदलाव काफी प्रभावी होते हैं. ये आसानी से सिरदर्द को ठीक कर देते हैं. आइए जानते हैं आखिर क्या बदलाव करने की जरूरत है.

डाइट में करें बदलाव

हॉर्मोन्स की वजह से होने वाले सिरदर्द को दूर करने के लिए आपको अपनी डाइट में कुछ चीजें शामिल करनी होंगी और कुछ चीजों को अपनी डाइट से हटाना भी होगा. इसके लिए आपको अपनी डाइट में विटामिन बी2 के स्त्रोतों को शामिल करना चाहिए ताकि आपके हॉर्मोन्स का स्तर नियंत्रित रह सके. ऐसा करने से सिरदर्द काफी हद तक ठीक हो जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः रोज़ाना दूध पीने से दूर होती हैं ये खतरनाक बीमारियां: अध्ययन

तनाव को करें कम

तनाव की वजह से आपके शरीर में हॉर्मोन असंतुलित हो जाते हैं. इसी वजह से सिरदर्द की समस्या होने लगती है. तनाव को दूर करने के लिए योग, मेडिटेशन और एक्सरसाइज करें. ऐसा करने से आपके शरीर में हॉर्मोन संतुलित हो जाते हैं और शारीरिक परेशानियां भी कम हो जाती हैं.

अधिक पानी पिएं
Loading...

जब आपके शरीर में पानी की कमी होती है तो इससे सिरदर्द और बढ़ जाने की संभावना हो जाती है. सिरदर्द का एक कारण शरीर में पानी की कमी होना भी होता है. इसके लिए आपको दिन में कम से कम 3 लीटर पानी पीना चाहिए.

मसाज की जरूरत

महिलाओं के शरीर में निरंतर रूप से कार्य करने की वजह से हॉर्मोन में बदलाव होते हैं जिसकी वजह से सिरदर्द की समस्या हो जाती है. इस बात को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. मसाज करने से आपके शरीर को आराम मिलता है. साथ ही तनाव भी कम होता है. इसके साथ ही मसाज पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करती है.

इसे भी पढ़ेंः बच्‍चों के मुंह की करें केयर, ये 4 टिप्स करेंगे आपकी मदद

मैग्नीशियम युक्त फूड का सेवन करें

मैग्नीशियम सिरदर्द से रोकथाम करने में मदद करता है. यह मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है. मैग्नीशियम में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जिसकी वजह से प्रेग्नेंट महिलाओं को इसे अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 4:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...