लाइव टीवी
Elec-widget

सावधान! आपकी वॉशिंग मशीन है कीटाणुओं का घर, ऐसे करें बचाव


Updated: November 20, 2019, 11:34 AM IST
सावधान! आपकी वॉशिंग मशीन है कीटाणुओं का घर, ऐसे करें बचाव
Washing_Machine

विशेषज्ञों की राय में आज के दौर की अत्याधुनिक वॉशिंग मशीनों में कीटाणु नष्ट करने की क्षमता पुरानी पारंपरिक मशीनों से काफी कम होती है.

  • Last Updated: November 20, 2019, 11:34 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले दिनो जर्मनी में बच्चों के एक अस्पताल में नवजात शिशुओं (Neo Natal Care) को पहनाए जाने वाले कपड़ों पर बीमारी पैदा करने वाले कीटाणु (Bacteria on Cloths) पाए गए. इन कीटाणुओं पर अधिकतर दवाएं असर (Drug Resistant Germs) नहीं कर रहीं थी. ऐसा इस अस्पताल द्वारा स्वच्छता (Hygiene Manual at hospitals) के लिए अपनाए जाने वाले तमाम मानकों को लागू करने के बावजूद था. जांच करने पर पता चला कि यह खतरनाक कीटाणु अस्पताल की लॉन्ड्री (Hospital Laundry) से आ रहा था.

विशेषज्ञों की राय में आज के दौर की अत्याधुनिक वॉशिंग मशीनों में कीटाणु नष्ट करने की क्षमता पुरानी पारंपरिक मशीनों से काफी कम होती है. 'अप्लाइड एंड एन्वायरमेंटल माइक्रोबायोलॉजी' पत्रिका में छपे शोध के मुताबिक जर्मनी के उस अस्पताल में भर्ती बच्चों की किस्मत अच्छी थी कि वो इन कीटाणुओं की चपेट में आने से बच गए.

आपकी वॉशिंग मशीन में क्या है?
अब सवाल यही उठता है कि अगर आधुनिक मशीनों में बैक्टीरिया मिल रहे हैं तो आपकी वॉशिंग मशीन कितनी सुरक्षित है.

आजकल की मशीनें ठण्डे पानी से भी कपड़े धो देती हैं. इसके बाद मशीन के अंदर ही इन्हें लगभग आधा सुखा कर निचोड़ भी दिया जाता है. विशेषज्ञों के अनुसार इन मशीनों की रबर सील में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं जो धीरे धीरे पूरी मशीन में फैल जाते हैं. यही बैक्टीरिया आपके कपड़ों के जरिए आपकी शरीर मे कई तरह की बीमारियों का कारण बन सकते हैं.

कितने खतरनाक हैं ये बैक्टीरिया ?
यनिवर्सिटी ऑफ बॉन में विश्व स्वास्थ्य केन्द्र के इंस्टिट्यूट ऑफ हायजीन एंड पब्लिक हेल्थ के निदेशन डॉ. मार्टिन एक्सनर के मुताबिक स्वच्छता मुहिम से जुड़े लोगों के लिए यह एक बढ़ती चुनौती है. क्योंकि बीमारी की जड़ घर पर ही पैदा हो रही है और हर रोज बढ़ती जा रही है.
Loading...

हालांकि न्यू यॉर्क के नॉर्थ शोर यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल के डॉ. ब्रूस हिर्श्स इसे इतना बड़ा खतरा नहीं मानते. उनका कहना है कि इस तरह के बैक्टीरिया वैसे भी हमारे आसपास मंडराते रहते हैं. थोड़ी सी सावधानी रखने से इस चुनौती से निपटा जा सकता है.

वॉशिंग मशीन की सफाई बेहद जरूरी
कपड़ों की सफाई और उनकी स्वच्छता पर खास ध्यान दें. लेकिन यदि आपके घर कोई बुजुर्ग या नवजात बच्चा है तो यह जिम्मेदारी और बढ़ जाती है.
मशीन को ऐसी जगह बिलकुल ना रखें जहां उमस भरा महौल हो. इससे कीटाणु पनपने की आशंका और बढ़ जाती है. इन कीटाणुओं से आपको निमोनिया, चर्मरोग और डायरिया जैसी बीमारियां हो सकतीं हैं. इसलिए जरुरी है कि आप अपनी वॉशिंग मशीन को साफ रखें.
अगर आप दाग धब्बे या किसी तरह का खून, शरीर से निकला हुआ कोई पदार्थ लगा हुआ कपड़ा अपनी वॉशिंग मशीन में धोते तो इसे गरम पानी में ही धोना चाहिए.  इसके अलावा समय-समय पर अपनी वॉशिंग मशीन को डिस्इंफेक्टैंट से भी साफ करना आवश्यक है.

ये भी पढ़ें:

आपकी 15 मिनट की वॉक दूर कर सकती है वैश्विक आर्थिक मंदी 

यहां मौत का ट्रायल होता है ताकि लोग जिंदगी का सबक सीख सकें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 11:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com