पार्टनर की जॉब में आ रही है दिक्कत? ऐसे करें सपोर्ट, रिश्ता होगा मजबूत

बुरे वक्‍त में एक दूसरे का सहारा बनें. Image Credit : Pixabay

Relationship Tips : बुरे वक्‍त में कई कपल्‍स एक दूसरे का सहारा बन जाते हैं तो कई एक दूसरे के दुश्‍मन बन बैठते हैं. अगर आपके पार्टनर के करियर में भी कुछ प्रॉब्‍लम है तो कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है.

  • Share this:
    How To Help Your Partner Handle A Career Crisis : हर किसी के करियर में उतार-चढ़ाव आता जाता रहता है लेकिन अगर बात आपके लाइफ पार्टनर  की हो तो यह एक इमोशनल और सेंसिटिव मुद्दा हो सकता है. ऐसे हालात में कई कपल्‍स एक दूसरे का सहारा बन जाते हैं तो कई कपल्‍स सच्‍चाई छिपाने और अतिरिक्‍त तनाव झेलने की वजह से एक दूसरे के दुश्‍मन बन बैठते हैं. देर सवेर जब सच्‍चाई सामने आती है तब तक बात इतनी बिगड़ चुकी होती है कि ब्‍लेम गेम का माहौल बन जाता है और करियर ग्राफ में सुधार आने की बजाए हालात और भी नाजुक हो जाते हैं. यही नहीं, अधिक दिनों तक टॉक्सिक माहौल बना रहने पर आपस की दूरियां भी इतनी बढ़ चुकी होती हैं कि सब कुछ खत्‍म जैसा लगने लगता है. ऐसे में आपस के रिश्‍तों को बचाए रखने के लिए पार्टनर के बुरे वक्‍त का सहारा बनना जरूरी है. तो आइए जानते हैं कि अगर आपके पार्टनर के करियर में कुछ समस्या आ रही है तो कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है.



    रखें दिमाग ठंडा

    यह सच्‍चाई है कि पार्टनर का करियर आपकी भी जिंदगी को प्रभावित करता है. अगर आप दोनों में से किसी एक की जॉब छूट जाए तो निश्चित रूप से घर के बजट में समस्‍या आ सकती है. फिर चाहे वो  लोन हो या  इंस्‍टॉलमेंट का अतिरिक्‍त तनाव, यही नहीं, कई प्‍लान खराब हो सकते हैं लेकिन इन तमाम नकारात्‍मक परिस्थितियों में भी आपको अपना दिमाग ठंडा रखना बहुत ही जरूरी है. इस बात को जरूर समझें कि इस वक्‍त आपसे कहीं ज्‍यादा आपका पार्टनर परेशान है. भले ही वह अपनी भावनाओं को छुपा रहा हो आप कुछ भी ऐसी बात ना कहें जिससे उसका आत्‍मविश्‍वास डगमगाए. यही नहीं, इस सिचुएशन में बहस या आरोप-प्रत्यारोप से भी बचना बहुत जरूरी है.





    इसे भी पढ़ें : आपके पति आपसे ज्‍यादा अपने परिवार को देते हैं अहमियत? जानें ऐसी स्थिति में क्या करें




    धैर्य से सुनें

    अगर आपका पार्टनर आपसे इस बारे में कोई बात शेयर करता है तो उसकी बात को धैर्यपूर्वक सुनें. कई बार केवल सुन लेने से ही सामने वाले का मन हल्‍का हो जाता है और वह इस ट्रामा से उबर पाता है. यह आपके लिए भी भलाई की बात है कि आपका पार्टनर सकारात्‍मक रहे और लाइफ में आगे बढ़ने के लिए उसके पास हिम्‍मत और आत्‍मविश्‍वास हो.

    हर बात दूसरों को न बताएं

    कुछ लोगों को अपने बीच की बात लोगों के साथ शेयर करने की आदत होती है. अगर आप इस निजी बात को अपने दोस्तों व परिवार के दूसरे सदस्यों से शेयर करते हैं तो यह पूरी संभावना है कि आपके पार्टनर को यह बात बुरी लगे. हो सकता है कि उन लोगों से आपके पार्टर को मिलने में शर्मिंदगी या ग्लानि भी उठानी पड़े.



    नई जॉब खोजने में करें मदद

    पार्टनर को यह एहसास दिलाएं कि जॉब खोजने में वजह अकेला नहीं है और आप भी उसके साथ हैं. आप जितना हो सके पार्टनर की क्वालिफिकेशन और फ़ील्ड के अनुरूप नौकरी तलाशने की कोशिश करें. रिज़्यूमे अपडेट करना या जॉब पोर्टल्स पर अपलोड करना आदि में पार्टनर की मदद करें. अगर वह कुछ समय तक अपने स्किल्स को बढ़ाने के लिए कोई कोर्स करना चाहे या आगे पढ़ना चाहे तो आप उसे पूरा सपोर्ट करें.














    इसे भी पढ़ें : Toxic Positivity: आप भी तो नहीं हैं टॉक्सिक पॉजिटिविटी के शिकार? जानें क्‍या हैं इसके लक्षण



    मिलकर बजट बनाएं

    निश्चित रूप से बुरे वक्‍त में अपने ही काम आते हैं. ऐसे में एक दूसरे का सहारा बनें. यह निर्धारित करें कि आप दोनों को टोटल खर्च अभी क्‍या है और  आगे क्‍या रहेगी. आप दोनों मिलकर पूरा बजट बनाएं और लग्‍जरी चीजों को किनारा कर लें. इस बात को हमेशा याद दिलाएं कि बुरे दिन बीत ही जाते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
    Published by:Pranaty tiwary
    First published: