Home /News /lifestyle /

how to prevent pet dog attack and precautions to follows know five most dangerous dogs breed amu

5 खतरनाक ब्रीड के कुत्ते- पालने से पहले हो जाइए सावधान, वरना...

बड़ी संख्या में लोग डॉग पालते हैं, लेकिन जरूरी सावधानियां नहीं बरतते.

बड़ी संख्या में लोग डॉग पालते हैं, लेकिन जरूरी सावधानियां नहीं बरतते.

कई बार पालतू डॉग लोगों पर अटैक कर देते हैं और इससे उनकी मौत हो जाती है. इससे बचने के लिए लोगों को किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए? इस बारे में जरूरी बातें जान लेते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

अमेरिकन पिटबुल और रॉटविलर सबसे खतरनाक ब्रीड के डॉग माने जाते हैं.
दुनिया के कई देशों में खतरनाक डॉग पालने पर बैन लगा हुआ है.

How to Prevent Dog Attack: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बुजुर्ग महिला पर उनके पालतू डॉग द्वारा किए गए हमले में उनकी जान चली गई थी. इसके बाद देश के कई इलाकों से कुत्तों के हमले की खबरें आई हैं. आए दिन ऐसे मामले आने लगे हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि अमेरिका में हर साल ऐसे तमाम मामले सामने आते हैं, जिनमें कई लोगों को पालतू डॉग के अटैक की वजह से जान गंवानी पड़ती है. लखनऊ से दिल दहला देने वाला मामला सामने आने के बाद डॉग पालने वाले सभी लोग यह जानना चाहते हैं कि इस तरह की खतरनाक स्थिति से किस तरह बचा जा सकता है. जान लेते हैं कि डॉग पालते वक्त कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए.

क्या कहते हैं आंकड़े?

डॉग बाइट की एक रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका में साल 2005 से 2020 के बीच डॉग के हमले में करीब 568 लोगों की जान चली गई. इसमें सबसे ज्यादा 380 मामलों में हमले करने वाले डॉग पिटबुल थे, जबकि 51 व्यक्तियों की जान रॉटविलर के हमले की वजह से गई थी. अन्य मामलों में 37 विभिन्न प्रकार की प्रजातियों के डॉग ने लोगों पर हमला किया था. यह संख्या केवल उन लोगों की है, जिनकी हमले की वजह से जान चली गई.  डॉग के हमलों की संख्या कई गुना ज्यादा है. इतना ही नहीं दुनिया के कई देशों में खतरनाक डॉग पालने पर बैन लगा हुआ है.

डॉग को लेकर बरतें ये सावधानियां

  • हमेशा केसीआई रजिस्टर्ड डॉग ही लेना चाहिए. ऐसे डॉग की पूरी हिस्ट्री देखने के बाद ही लोगों को सौंपा जाता है.
  • ट्रेंड डॉग लेना चाहिए और डॉग का जरूरी वैक्सीनेशन करा लेना चाहिए.
  • अगर किसी के पास टाइम की कमी हो तो डॉग हैंडलर को हायर किया जा सकता है. इससे डॉग का अच्छी तरीके से ख्याल रखा जा सकता है.
  • डॉग पालने से पहले नगर निगम या संबंधित अथॉरिटी से लाइसेंस लेकर रजिस्ट्रेशन कराना चाहिए.
  • पिटबुल डॉग पालने से पहले इसके बारे में जानकारी हासिल कर लें. इसके खाने-पीने से लेकर व्यवहार के बारे में आपको जागरुक रहना चाहिए. अगर आप बुजुर्ग हैं, तो इसे कंट्रोल करना मुश्किल हो सकता है.
  • रॉटविलर भी एक खतरनाक ब्रीड का डॉग है. जब आपके घर कोई अनजान शख्स आए, तो ऐसी कंडीशन में डॉग को बांधकर रखना चाहिए और उसे वहां से दूर रखना चाहिए.
  •  साइबेरियन हस्की डॉग के साथ ऐसी कोई हरकत नहीं करनी चाहिए, जिससे वह एग्रेसिव हो जाए. बच्चों को इससे दूर रखना चाहिए. हर दिन इसे वॉक पर ले जाना चाहिए.
  • डाबरमैन डॉग भी कई बार खतरनाक साबित हो सकता है. इसलिए इसके खाने का ध्यान रखना चाहिए. भूख और प्यास की वजह से यह हमलावर हो सकता है.
  • बुल मास्टिफ का साइज बड़ा होता है और इसका अटैक जानलेवा हो सकता है. इसलिए इसे लेकर अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए. अगर यह एग्रेसिव नजर आए, तो तुरंत वेटेरनरी डॉक्टर से संपर्क करें.

यह भी पढ़ेंः क्या डायबिटीज के बिना बढ़ सकता है HbA1c लेवल? जानें क्या कहते हैं डॉक्टर

ये हैं 5 सबसे खतरनाक ब्रीड के डॉग

  • अमेरिकन पिटबुल
  • रॉटविलर
  • साइबेरियन हस्की
  • डाबरमैन
  • बुल मास्टिफ

खतरनाक ब्रीड के डॉग न पालें

जानवरों के लिए काम करने वाली गैर-सरकारी संस्था पीपल फॉर एनिमल ट्रस्ट (फरीदाबाद) के फाउंडर रवि दुबे के मुताबिक लोगों को खतरनाक ब्रीड जैसे अमेरिकन पिटबुल, रॉटविलर, साइबेरियन हस्की, डाबरमैन, पिक्चर बॉक्सर, ग्रेट डेन, बुल मास्टिफ, वोल्फ हाइब्रिड आदि के डॉग पालने से बचना चाहिए. कई बार यह डॉग पालने वाले लोगों पर भी हमला कर देते हैं और डॉग का जबड़ा लॉक हो जाता है, जो जानलेवा हो सकता है. जरूरी नहीं है कि हर किसी के साथ ऐसा हो. इसकी अलग-अलग वजह हो सकती हैं. हालांकि भारत में इन खतरनाक ब्रीड के डॉग ज्यादा संख्या में नहीं पाले जाते.

यह भी पढ़ेंः क्या ‘पानी पूरी’ खाने से फैल रहा टाइफाइड और हैजा? एक्सपर्ट से जानें हकीकत

किन परिस्थितियों में हमला कर सकते हैं डॉग?

  • गुस्से में आकर पालतू डॉग हमला कर सकता है.
  • कई बार भूख और प्यास की वजह से भी डॉग हमलावर हो सकता है.
  • डॉग के लिए फ्रीडम काफी जरूरी होती है, हर वक्त उसे बांधकर रखना भी सही नहीं होता.
  • हीट होने की कंडीशन में भी डॉग एग्रेसिव हो जाते हैं.
  • कई बार बीमारियों और पागल होने की कंडीशन में डॉग हमला कर सकता है.
  • अगर डॉग में किसी तरह की बीमारी के लक्षण हैं तो उसका तुरंत इलाज कराना चाहिए.
  • बच्चों को डॉग से दूर रखना चाहिए, क्योंकि बच्चों पर डॉग का हमला ज्यादा खतरनाक हो सकता है.

Tags: Dog Breed, Lifestyle, Trending news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर