मानसून में इन पांच वायरल इन्फेक्शन का बढ़ जाता है खतरा, अभी से कर लें ये उपाय

मानसून में इन पांच वायरल इन्फेक्शन का बढ़ जाता है खतरा, अभी से कर लें ये उपाय
मानसून में पांच तरह के इंफेक्शन से इंसान जल्दी प्रभावित होता है.

मॉनसून (Monsoon) सीजन में वायरल इंफेक्शन का खतरा दोगुना हो जाता है. हवा में नमी की ज्यादा मात्रा बैक्टीरिया (Bacteria)और इंफेक्शन को पनपने में मददगार साबित होती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 6, 2020, 7:15 PM IST
  • Share this:
मानसून (Monsoon) सीजन में कई तरह के वायरल (Viral) और मौसमी बीमारियों का खतरा एक दम से बढ़ जाता है. इसलिए इस मौसम में थोड़ा ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत होती है. विशेषज्ञ बताते हैं कि दूसरे महीनों की तुलना में मॉनसून सीजन में वायरल इंफेक्शन (Viral infection) का खतरा दोगुना हो जाता है. हवा में नमी की ज्यादा मात्रा से बैक्टीरिया और इंफेक्शन तेजी से फैलता है. मॉनसून में पांच तरह के इंफेक्शन से इंसान जल्दी प्रभावित होता है.

डायरिया
एबीपी न्यूज की खबर के अनुसार मॉनसून सीजन में खाने-पीने के सामान को व्यवस्थित नहीं रखने से उसमें डायरिया जीवाणु या विषाणु पैदा हो जाते हैं. आगे चलकर ये जीवाणु या विषाणु बैक्टीरिया का कारण बनते हैं. जिससे डायरिया होने का खतरा बढ़ जाता है. अगर आप इस समस्या से बचना चाहते हैं तो आपको घर का पका खाना खाना चाहिए. खाने के पहले देख लें कि उसमें कोई कीड़ा या फफूंद न लगी हो. इन दिनों में सब्जियों और फलों का इस्तेमाल करने से पहले पहले उनको अच्छी तरह पानी धो लें. इससे डायरिया से बचा जा सकता है.

बारिश में भीगने का भरपूर लें मजा, मगर ध्‍यान रखें ये 5 बातें
हैजा


हैजा काफी खतरनाक होता है और यह पानी से पैदा होने वाला इंफेक्शन है. यह मॉनसून के दौरान आम तौर से होता है. इससे बचने के लिए शरीर में पानी की मात्रा बढ़ाने के लिए हाइड्रेटेड रहना चाहिए. आप जितना साफ-सुथरा खाना खाएंगे आपको इंफेक्शन से बचने में मदद मिलेगी. शरीर और आसपास सफाई रखना भी सही होगा.

सर्दी और फ्लू
मानसून के दौरान सर्दी और फ्लू की चपेट में आने की सबको आशंका होती है. इस मौसम में खुद को सुरक्षित रखने के लिए संक्रमित लोगों से दूर रहना ही ठीक होगा. अगर परिवार के किसी सदस्य को यह इंफेक्शन होता है तो पीड़ित सदस्य को अलग तौलिया और बर्तन का इस्तेमाल करना चाहिए. दिन में उस आदमी को हाथ ज्यादा बार धोना चाहिए.

बच्चों के लिए खतरनाक हो सकता है हैंड सैनिटाइजर, रखें इन बातों का ध्यान

टाइफाइड
टाइफाइड बुखार एक ऐसी बीमारी है, जो सैल्मोनेला टाइफी की वजह से होती है. यह बीमारी मॉनसून सीजन में लोगों को अपनी चपेट में ज्यादा लेती है. इस बीमारी से ग्रसित शख्स की त्वचा और हार्ट प्रभावित होते हैं. इससे बचने के लिए जरूरी है कि साफ पानी पिया जाए और बाहर के खुले पेय इस्तेमाल करने से बचा जाए.

डेंगू
मूसलाधार बारिश से पानी जमा हो जाता है. बारिश का जमा पानी मच्छरों को पनपने का अनुकूल अवसर मुहैया कराता है. इसलिए बेहतर है अपने घर के आसपास पानी को जमा न होने दें. उसके अलावा आस्तीन वाले कपड़े पहनकर खुद को मच्छरों के काटने से बचा सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज