रात को बिस्‍तर में नहीं आती नींद? तो करें ये उपाय, मिनटों में दिखेगा असर

आप सीधे लेटकर अपनी पलकों को जल्दी-जल्दी झपकाएं. आंखें थक जाएंगी और आपको जल्दी नींद आएगी.

आप सीधे लेटकर अपनी पलकों को जल्दी-जल्दी झपकाएं. आंखें थक जाएंगी और आपको जल्दी नींद आएगी.

हमारे शरीर को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद (Sleep) की जरूरत होती है. रात भर की अच्‍छी नींद हमें दिनभर फ्रेश (Fresh) और एनरजेटिक (Energetic) बनाए रखती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2021, 3:12 PM IST
  • Share this:
दिनभर की थकावट के बाद अगर आप रात भर बिस्‍तर पर करवटें बदलते रह जाते हैं तो यह आपके सेहत (Health) के लिए बहुत नुकसानदायक (Harmful) है. डॉक्‍टरों का मानना है कि हमारे शरीर को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद (Sleep) की जरूरत होती है. रात भर की अच्‍छी नींद हमें दिनभर फ्रेश (Fresh) और एनरजेटिक (Energetic) बनाए रखती है. लेकिन स्‍ट्रेस (Stress) और बदलते लाइफ स्‍टाइल का अगर सबसे ज्‍यादा बैड इफेक्‍ट किसी पर पड़ रहा है तो वह हमारी रात की नींद (Sleep) है.

आज अनिंद्रा ( Insomnia) की समस्‍या से कई लोग जूझ रहे हैं. इसे स्‍लीप सिंड्रोम (Sleep Syndrome) भी कहते हैं जिसमें लोगों की रात की नींद उड़ जाती है और तमाम कोशिशों के बाद भी वह बिस्‍तर पर करवटें बदलते रह जाते हैं. इन समस्‍याओं से छुटकारा पाने के लिए अगर हम कुछ आदतों को अपने लाइफस्टाइल में शामिल करें तो इसका पॉजिटिव इफेक्‍ट जरूर देखने को मिलता है. तो आइए जानते हैं कि तुरंत सुकून भरी नींद के लिए क्‍या किया जाए.

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में जरूर खाएं ड्रैगन फ्रूट, इम्यूनिटी होती है मजबूत



- नींद न आने पर बेड पर लेटकर कुछ योग करें. कुछ ऐसे योग हैं जो अच्‍छी नींद लाने में  उपयोगी साबित हुए हैं जैसे भ्रामरी, प्राणायाम और शवासन करने से तुरंत नींद आ सकती है.
- नींद न आने पर एक्‍यूप्रेशर थेरेपी का सहारा लें. हमारे शरीर में कई ऐसे खास बिंदु (points) हैं जिनको दबाने से नींद आ सकती है. अपने हाथ के अंगूठे को अपनी आईब्रोज के बीच 30 सेकंड तक रखें और हटाएं. इस प्रक्रिया को 4 से 5 बार करें.

- आप सीधे लेटकर अपनी पलकों को जल्दी-जल्दी झपकाएं. आंखें थक जाएंगी और आपको जल्दी नींद आएगी.

- पूरे दिन की घटनाओं को उल्टे क्रम (reverse order) में याद करें. ऐसा करने पर दिमाग पर जोर पड़ेगा और नींद आएगी.

- दिनभर शरीर को एक्टिव रखें.  जॉगिंग, वॉकिंग और स्‍वीमिंग करने से रात को गहरी नींद आती है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में जरूर खाएं चौलाई का साग, इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग कर बीमारियों को रखेगा दूर

- आसपास घड़ी न रखें, इसे देखने से नींद उचट जाती है और हर वक्‍त मिनट का हिसाब दिमाग में चलने लगता है.

- अपने नींद के पैटर्न को ट्रैक करें और नोट बनाएं. अगर आप रात में बिस्तर पर 80 प्रतिशत से कम समय सो रहे हैं तो डॉक्‍टर से संपर्क करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज