होम /न्यूज /जीवन शैली /तेज सर्दी-जुकाम में भला अच्छी नींद कैसे आए? जानें एक्सपर्ट के सुझाए टिप्स

तेज सर्दी-जुकाम में भला अच्छी नींद कैसे आए? जानें एक्सपर्ट के सुझाए टिप्स

ड्राई नोज के कारण नाक में जलन हो सकती है (प्रतीकात्मक फोटो Shutterstock.com)

ड्राई नोज के कारण नाक में जलन हो सकती है (प्रतीकात्मक फोटो Shutterstock.com)

Remedies For Cold : आमतौर पर, बहुत ज्यादा सर्दी-जुकाम होने पर नींद की समस्या हो ही जाती है. फिर चाहे उसके लिए आपको हुआ ...अधिक पढ़ें

    How To Sleep In Bad Cold: अक्सर ये देखा जाता है कि मौसम में होने वाले परिवर्तन के चलते लोगों को सर्दी-जुकाम (Cold and cough) की परेशानी आ ही जाती है. हम अपने आसपास जहां भी देखते हैं तो ऐसा लगता है कि एक ‘सुपर कोल्ड’ चल रहा है. इसका कारण मौसम में बदलाव के साथ-साथ लोगों से ज्यादा घुलना मिलना भी होता है. ऐसे में लोगों को सिरदर्द, बुखार, खांसी और छींक के चलते सामान्य तौर पर बहुत खराब महसूस होता है. तो अगर आपको ऐसी किसी ऐसे ही लक्षणों ने पकड़ लिया है, या जिसकी कोविड रिपोर्ट नेगिटिव आई है और मामला ज्यादा सीरियस नहीं है, तो आपके लक्षणों को कम करने और चीजों को थोड़ा अधिक सहने योग्य बनाने के कुछ तरीके हैं.

    यूके की वेबसाइटमेट्रो‘ के अनुसार, आमतौर पर, बहुत भयंकर सर्दी-जुकाम होने पर नींद की समस्या हो ही जाती है. फिर चाहे उसके लिए आपको हुआ जुकाम जिम्मेदार हो या फिर सांस लेने में होने वाली दिक्कत. सर्दी जुकाम होने पर पर्याप्त आराम लेना बेहद मुश्किल हो जाता है. जबकि आपको ऐसा लगता है कि आराम करने से आपकी सेहत में थोड़ा सुधार होगा. इसलिए ब्रिटेन के सबसे बड़े ऑनलाइन गद्दे (Mattress) के रिटेलर्स में से एक ‘मैटर्स नेक्स्ट डे (MattressNextDay)’ के विशेषज्ञों ने अच्छी नींद के लिए कुछ सुझाव दिए हैं. आप भी जानिए.

    साइनस को साफ़ करने के लिए हॉट शावर
    सर्दी जुकाम होने पर सर्दी में गर्म पानी से नहाना आराम देने वाला हो सकता है. क्योंकि गर्म स्नान की भाप आपके साइनस यानी नाक की समस्या में बलगम को पतला करने और निकालने में मदद कर सकती है, इससे सांस लेना आसान हो जाता है. इसका फायदा लेने के लिए ये सुनिश्चित करें की पानी ज्यादा गर्म न हो. आप कुछ जरूरी चीजों को भी भाप के पानी में मिला सकते हैं, इसके अलावा शॉवर हेड के पास लैवेंडर या पिपरमिंट का बैग टांगना भी लाभदायक हो सकता है.

    यह भी पढ़ें- पहाड़ की वादियां यू ही नहीं लुभाती, बीमारियों का जोखिम भी कम हो जाता है यहां

    बेडशीट को ठंडा रखें
    जब आप सर्दी-जुकाम से जूझ रहे होते हैं तो ऐसे में आपके कमरे का तापमान आपकी नींद के लिए बहुत जरूरी फैक्टर हो जाता है. एक आरामदायक नींद के वातारण के लिए आपके कमरे का तापमान 16 से 18 डिग्री सेल्सियस होना चाहिए. आप अपने कमरे का तापमान कम करने के लिए पंखे, या अन्य विकल्पों पर विचार कर सकते हैं. इसके अलावा अपनी बेडशीट को ठंडा करने के और उपाय भी हैं, जैसे एक जिपलॉक बैग में अपनी बेडशीट को रखकर उसे फ्रीज में रख सकते हैं, ताकि सोने से पहले वो ठंडी हो सके. जिससे आपको अच्छी नींद आएगी.

    सोने से पहले चाय की चुस्की लें (लेकिन सही टाइम पर)
    सोने से पहले चाय पीना न केवल आपके गले की खराश को शांत कर सकता है, बल्कि इस चाय की भाप आपके कंजेशन को कम करने में मदद करेगी. लेकिन ये काम सोने से 60-90 मिनट पहले होना चाहिए. ताकि आपको बाथरूम जाने के लिए आधी रात को न उठना पड़े. पेपरमिंट टी में एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण होते हैं और यह साइनस को साफ करने में मददगार साबित हुआ है. इसके अलावा आप कैमोमाइल (chamomile) चाय भी ले सकते हैं, क्योंकि ये बूटी अनिद्रा की समस्या में काफी कारगर है.

    यह भी पढ़ें- वर्कआउट के बाद अगर शरीर में होता है दर्द, तो ऐसे मिलेगी राहत

    दिन भर खुद को हाइड्रेटेड रखें
    एक और तरल पदार्थ जो आपको खूब पीना चाहिए वो है पानी. ये तो आप जानते होंगे कि हाइड्रेटेड रहने से बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं, क्या आप ये भी जानते हैं कि यह रात में भरी हुई नाक से निपटने में भी मदद कर सकता है? ऐसा इसलिए है क्योंकि हाइड्रेटेड रहने से आपकी नाक के अंदर के कफ/बलगम (mucus) को पतला और नम रखने में मदद मिलती है. प्रतिदिन कम से कम दो लीटर पानी पीने का लक्ष्य रखें.

    अपने तकिए को सही तरीके से इकट्ठा कर रखें
    लेटने से आपके गले में बलगम जमा हो सकता है, जिससे खांसी और रात में बेचैनी हो सकती है. ऐसा होने से रोकने के लिए, आपको बस अपने तकिए को सही से इकट्ठा करके रखना चाहिए, ताकि आपका सिर ऊंचा हो. इससे क्या होगा कि आपका सिर ऊंचा रहेगा और ब्लड फ्लो नीचे की तरफ हो जाएगा. ये साइनस को साफ करने में मदद करता है. बस यह सुनिश्चित करें कि दो से अधिक तकियों का उपयोग न करें, क्योंकि इससे पीठ दर्द और परेशानी हो सकती है.

    Tags: Health, Health News

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें