जब टूट जाए जिंदगी का हर सपना तो खुद को संभालें ऐसे!

News18Hindi
Updated: May 29, 2019, 10:47 AM IST
जब टूट जाए जिंदगी का हर सपना तो खुद को संभालें ऐसे!
जिंदगी चलते रहने का नाम है. रुका हुआ पानी सड़ने लगता है. इसलिए अपने आप को लंबे समय तक जब्त करके न रखें...

जिंदगी चलते रहने का नाम है. रुका हुआ पानी सड़ने लगता है. इसलिए अपने आप को लंबे समय तक जब्त करके न रखें...

  • Share this:
जिंदगी जिंदादिली का नाम है, मुर्दादिल क्या ख़ाक जिया करते हैं...जिसने भी लिखा है खूब लिखा है. जिंदगी में जब तक कोई ख्वाब, कोई अरमान न हो हो तक तक ये एकदम फीकी, नीरस और बेमायने हैं. हर इंसान के कुछ ख्वाब और ख्वाहिशें होती हैं जिनके बिना जिंदगी की कल्पना करना ही व्यर्थ है. जिस इंसान ने जिंदगी का कोई उद्देश्य नहीं बनाया जिसने कोई सपना नहीं पाला उसके लिए जीवन की सारी प्रेरणा ही समाप्त हो जाती है. ऐसा व्यक्ति खुद भी किसी को राह नहीं दिखा सकता. बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो अपने सपने को पूरा करने के लिए सारी हदें पार कर देते हैं और संभावना के स्तर से भी परे जाकर मेहनत करते हैं फिर भी कई बार उनका ख्वाब अधूरा रह जाता है. ऐसे में लोग बेहद बिखरा हुआ महसूस करते हैं. लगता है जीवन के सारे तार टूट गए हैं और जिंदगी बेसुरी हो गई है. अगर आपको भी महसूस हो रहा है कि अब आपके जीवन में उम्मीद की सारी लौ बुझ चुकी है तो खुद को ऐसे संभालें:



जिंदगी चलते रहने का नाम है. रुका हुआ पानी सड़ने लगता है. इसलिए अपने आप को लंबे समय तक जब्त करके न रखें. जब सारे हालात समझ से परे हो जाएं तो उस ईश्वर पर जीवन की डोर को छोड़ दीजिए. हालांकि ठहराव भी जरूरी है लेकिन केवल उतना ही कि जीवन की गतिशीलता पर नकारात्मक प्रभाव न पड़े.

सोलमेट की तलाश में भटक रहे हैं आप? मिलेगा ऐसे!


जब लगे कि जीवन का सबसे अहम सपना टूट चुका है तो खुद को थोड़ा समय दें. इसका मतलब ये कतई नहीं है कि खुद को एक अंधेरे अकेले कमरे में बंद कर लें. बेहतर है कि अगर आप रोना चाहते हैं तो जी भरकर रो लें, गुस्सा करें, चीखें, चिल्लाएं. दिल में जो भाव है उसे व्यक्त करें. समय के साथ आपके आंसू आपका टूटा हुआ सपना भी बहा ले जाएंगे.


Loading...

जब मन टूटा हुआ महसूस करें तो प्रकृति से बेहतर ऐसा कुछ नहीं है जिससे आप राहत महसूस कर पाएंगे. कुछ समय के लिए वर्तमान हालात से कहीं दूर प्राकृतिक जगहों अपर चले जाएं ताकि टूटे हुए सपने के दुःख से बाहर निकल सकें. जब आप इस तकलीफ से बाहर निकलेंगे तभी नए जीवन की शुरुआत कर पाएंगे.

टूट गया है दिल, महसूस कर रहें है अकेला, तो शरीर में यहां होगा तेज दर्द!

दिल के दुख को नई चीजों से रिप्लेस करें. कोई नई आदत विकसित करें. पेड़-पौधे लगाएं, किताबें पढ़ें, संगीत सीखें और पुराने दोस्तों से भी मुलाक़ात कर सकते हैं. ऐसा करके आप जीवन में सकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश के लिए एक खिड़की खोल पाएंगे.

जीवन को दूसरों के नजरिए से देखना बंद करें. याद रखें ये आपका जीवन है आपका संघर्ष है. अपनी सीख से जीवन जिएं. दूसरों की सलाह ले सकते हैं लेकिन आंखें मूंद कर उसपर अमल न करें. खुली बाहों के साथ जीवन का स्वागत करें और मुस्कुराएं कि ईश्वर ने आपको ये खूबसूरत जीवन दिया है.

लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अधूरे ख्‍वाब से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 29, 2019, 10:18 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...