Diwali 2020: घर में है पालतू जानवर तो दिवाली पर पटाखें जलाने से पहले जरूर जान लें ये बातें

कुत्ते अधिक शोर-शराबे से विचलित हो जाते हैं. ज्यादा तेज रोशनी भी उन्हें चिड़चिड़ा कर देती है.
कुत्ते अधिक शोर-शराबे से विचलित हो जाते हैं. ज्यादा तेज रोशनी भी उन्हें चिड़चिड़ा कर देती है.

अगर आपके घर में कोई पालतू जानवर (Pet) है तो कोशिश करें कि बिजली की लड़ियां (Lights) लगाते वक्त उनके तारों को अच्छे से टैप कर दें. ताकि घर के किसी सदस्य के साथ-साथ आपका पालतू जानवर करंट की चपेट में न जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2020, 12:03 PM IST
  • Share this:
दिवाली (Diwali 2020) की रात देशभर में चारों ओर पटाखों (Crackers) का ही शोर होता है. इस शोर-शराबे के बीच लोग अपने आसपास और अपने पालतू जानवरों (Pets) के बारे में भूल जाते हैं. वो भूल जाते हैं कि यह दिन इन बेजुबानों के लिए कितना खतरनाक साबित हो सकता है. इस साल दिवाली 14 नवंबर को मनाई जाएगी. दिवाली की रात पटाखे जलाने से पहले जान लें कि आप अपने पालतू जानवर की देखभाल कैसे करें.

बिजली के तारों को सही से कवर करें
दिवाली के मौके पर लोग घरों को फूलों और रंग बिरंगी इलेक्ट्रिक लड़ियों से सजाते हैं. अगर आपके घर में कोई पालतू जानवर है तो कोशिश करें कि बिजली की लड़ियां लगाते वक्त उनके तारों को अच्छे से टैप कर दें. ताकि घर के किसी सदस्य के साथ-साथ आपका पालतू जानवर करंट की चपेट में न जाए. दरअसल घर में होने वाली हर नई चीज को पालतू जानवर एक बार सूंघकर जरूर देखते हैं.

इसे भी पढ़ेंः Diwali 2020: जानें कब मनाई जाएगी दिवाली, क्या है दीपावली का महत्व और शुभ मुहूर्त
एंटी एंग्जाइटी इंजेक्शन लगवाएं


दिवाली से एक दिन पहले आप अपने पालतू कुत्ते को पशु चिकित्सक के पास लेकर जाएं और उन्हें एंटी एंग्जाइटी इंजेक्शन लगवाएं. इससे वह दिवाली की रात पटाखों के शोर और अधिक रोशनी से विचलित नहीं होगा.

घर के अंदर ही रखें
दिवाली की धूम वाली रात कोशिश करें कि आप अपने पालतू जानवर को अंदर कमरे में ही रखें. कमरे में तेज आवाज में टीवी या म्यूजिक बजा दें. इससे आपके पालतू जानवर का ध्यान पटाखों के शोर पर नहीं जाएगा और वह सामान्य दिनों की तरह घर में व्यवहार करेगा.

खिड़की-दरवाजे भी पूरी तरह बंद रखें
पटाखों का हानिकारक धुआं घर में न आए इसके लिए आप घर के खिड़की दरवाजे अच्छे से बंद कर दें. इससे पालतू जानवर के साथ-साथ घर के सदस्यों को भी सांस संबंधित कोई समस्या नहीं होगी और घर में प्रदूषण भी नहीं होगा.

घर में खुशबूदार कैंडल्स जलाएं
एक रिसर्च के मुताबिक, मनुष्यों की तरह जानवरों को भी अरोमाथेरेपी का एहसास होता है. पशु चिकित्सकों का मानना है खुशबूदार मोमबत्तियां जानवरों को भी शांत रखने में अहम भूमिका अदा करती हैं. कोशिश करें कि दिवाली की रात घरों में खुशबूदार कैंडल्स लगाएं जिनसे पालतू जानवरों का मन शांत रहे.

इसे भी पढ़ेंः Diwali 2020: दिवाली पर अपनाएं ये वास्तु टिप्स, मां लक्ष्मी की कृपा से होगी धन की वर्षा

समय-समय पर पानी पिलाएं
आपको बता दें कि कुत्ते अधिक शोर-शराबे से विचलित हो जाते हैं. ज्यादा तेज रोशनी भी उन्हें चिड़चिड़ा कर देती है. इससे उनमें डिहाइड्रेशन की समस्या हो जाती है. कोशिश करें कि पालतू कुत्ते को समय-समय पर पानी भी पिलाते रहें.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें).
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज