Home /News /lifestyle /

नवरात्रि में फास्टिंग से ओरल हेल्थ पर पड़ा है असर, तो इन फूड्स और ड्रिंक्स से करें इसे बेअसर

नवरात्रि में फास्टिंग से ओरल हेल्थ पर पड़ा है असर, तो इन फूड्स और ड्रिंक्स से करें इसे बेअसर

शुगर का ज्यादा सेवन दांत में इनामेल को तोड़ने लगता है. (Image: shutterstock)

शुगर का ज्यादा सेवन दांत में इनामेल को तोड़ने लगता है. (Image: shutterstock)

food and beverages for oral health: नवरात्रि के दौरान उपवास में शुगर वाली चीजों का सेवन बढ़ जाता है जिससे ओरल हेल्थ पर असर पड़ता है.

    food and beverages for oral health: नवरात्रि में नौ दिनों का उपवास (Fasting) मन और शरीर की शुद्धि के लिए अच्छा माना जाता है, लेकिन यह ओरल हेल्थ के लिए सही नहीं है. क्योंकि हम जो कुछ भी खाते हैं, उसका सीधा संबंध आपकी ओरल और डेंटल हेल्थ से है. नवरात्रि में अधिकांश श्रद्धालु फास्टिंग के दौरान या तो कुछ खाते ही नहीं हैं या फलाहारी करते हैं. फलाहारी में फ्रूट्स और जूस का ज्यादा सेवन किया जाता है. अधिकांश लोग फलाहारी ही करते हैं. ज्यादा फलाहारी ओरल हेल्थ पर बुरा असर डालती है. ज्यादा दिनों तक फास्टिंग से मुंह और दांत में परेशानी होने लगती है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर में डेंटल सर्जन डॉ नीतिका मोदी ने बताया कि फास्टिंग के दिनों में ओरल हेल्थ का ख्याल बड़ी सावधानी से करना चाहिए. डॉ नीतिका ने बताया कि फास्टिंग के दिनों में लोग फ्रूट्स और और मीठी चीजों का ज्यादा सेवन करने लगते हैं. फ्रूट्स के साथ-साथ जूस, शरबत, खीर जैसी कई चीजें हैं, जिन्हें लोग फास्टिंग के दौरान पसंद करते हैं. ऐसे में दांतों का अपक्षय यानी दांतों में सड़न पैदा होने लगती है. जब शुगर और स्टार्च प्लैक (दांतों के बीच की मैल) के संपर्क में आते हैं, तो एसिड बनने लगता है. यह दांतों पर हमला करने लगता है और हार्ड इनामेल को तोड़ने लगता है. ऐसे में फास्टिंग के बाद ओरल हेल्थ का ख्याल रखना बहुत जरूरी है. डॉ नीतिका इसके लिए कुछ फूड्स और ड्रिंक्स की सलाह देती हैं-

    इसे भी पढ़ेंः कहीं आपके किचन में मिलावटी काली मिर्च तो नहीं है, इन तरीकों से करें पहचान

    फाइबर रिच फूड्स
    फास्टिंग के बाद ऐसे फ्रूट्स का सेवन करना चाहिए, जिसमें ज्यादा फाइबर हो. यह दांत और गम को साफ करता है. इन फ्रूट्स में लार बनाने की क्षमता होती है. लार में कैल्शियम और फॉस्फेट होता है, जो दांत में क्षति के कारण खाली हुई जगह को भरते हैं. दांतों के इनामेल जो बैक्टीरिया के कारण खत्म हो गए हैं, उसे भरते हैं. साथ ही फ्रूट्स में विटामिन सी भी मौजूद होता है, जो दांतों की सेहत के लिए अच्छा होता है.
    इसे भी पढ़ेंः ‘पक्षियों की चहचहाहट’ और ‘हवा के झोंकों’ में छिपा अबूझ बीमारियों का इलाज

    बटरमिल्क, छांछ
    बटर मिल्क और छांछ से भी लार बनती है. इसमें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम होता है जो दांतों को मजबूत बनाता है. बटर मिल्क में पुदीना मिलाकर इसका सेवन करने से मुंह साफ रहता है.

    नारियल पानी
    फास्टिंग के बाद नारियल पानी ओरल हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है. नारियल पानी में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं. यह आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होने देता. इसमें इम्युनिटी भी बूस्ट होती है.
    बादाम
    फास्टिंग के बाद बादाम, अखरोट और पिस्ता का सेवन करना चाहिए. ये सब पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं. इनके सेवन से ओरल हेल्थ में जल्दी सुधार होगा.

    Tags: Health, Lifestyle

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर