Home /News /lifestyle /

प्रदूषण से बचने के लिए लगाया जाने वाला मास्क भी हो सकता है खतरनाक- साइंटिस्ट

प्रदूषण से बचने के लिए लगाया जाने वाला मास्क भी हो सकता है खतरनाक- साइंटिस्ट

प्रदूषण से बछाने वाले मास्क  मुसीबत साबित हो सकते हैं.

प्रदूषण से बछाने वाले मास्क मुसीबत साबित हो सकते हैं.

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड रिसर्च के साइंटिस्ट डॉ. सम्राट घोष के स्मार्ट मास्क में ऑक्सीजन देने की भी सुविधा है. इसके अलावा भी इसमें कई खासियतें हैं...

    चंडीगढ़. वायु प्रदूषण का खतरनाक स्तर पूरे उत्तर भारत के लिए परेशानी का सबब बन चुका है. यही वजह है कि दिल्ली-एनसीआर और इससे सटे पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में लोगों को सांस लेने में भी तकलीफ का सामना करना पड़ रहा है. पराली जलाने और पटाखों से उठने वाला धुआं वातावरण को काफी नुकसान पहुंचा रहा है. प्रदूषण से बचने के लिए लोग घर से बाहर निकलने से पहले मास्क लगा रहे हैं ताकि बीमारियों से बचा जा सके. बाजार में भी मास्क की बिक्री में तेजी आई है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्रदूषण से बचने के लिए आप जो मास्क लगा रहे हैं वो आपके लिए कितने नुकसानदायक साबित हो सकते हैं.

    मोहाली स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड रिसर्च के साइंटिस्ट डॉ. सम्राट घोष ने हमारे सहयोगी चैनल न्यूज18 हिन्दी को बातचीत के दौरान बताया कि, 'प्रदूषण से बचने के लिए लोग जो मास्क लगा रहे हैं वो कुछ समय बाद उनके लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं. दरअसल, आमतौर पर इन मास्क में सांस लेने और छोड़ने के लिए केवल एक ही जगह है. यही वजह है कि इस मास्क की वजह से कई बीमारियां हो सकती हैं. मास्क लगाए होने पर जब आप सांस छोड़ते हैं तो मुंह की भाप या कभी कभी थोड़ा बहुत सलाइवा भी इसपर लग जाता है. चूंकि मास्क हर तरह से बंद होता है. इसलिए इसमें बदबू आने लगती है.'

    इसे भी पढ़ें:  Delhi NCR Pollution: प्रदूषण से बचने के लिए सही मास्क खरीद रहे हैं आप? जानें ऐसे

    उन्होंने कहा कि कई बार सर्दी जुकाम या खांसी होने पर लोग जब खांसते या खखारते हैं तो बैक्टीरिया मास्क पर इक्कठा हो जाते हैं जोकि काफी हानिकारक होता है. साथ ही जो लोग चश्मे का इस्तेमाल करते हैं वो जब सांस छोड़ते हैं तो भाप ऊपर जाकर चश्मे पर जम जाती है जिससे उन्हें काफी परेशानी भी होती है.

    इसे भी पढ़ें: दिल्ली एनसीआर में Pollution का असर होगा फेल, आज ही खाने में शामिल करें ये Superfoods

    इस परेशानी से बचने के लिए डॉ. सम्राट घोष ने एक ख़ास मास्क बनाया है. इस मास्क की खासियत इस मास्क में सांस लेने और छोड़ने के लिए अलग अलग चैंबर बने हुए हैं जिससे इन्फेक्शन का खतरा कम हो जाएगा. उन्होंने इस मास्क को 'स्मार्ट मास्क' नाम दिया है. साथ ही केंद्र सरकार को भी इस मास्क की विशेषताओं के बारे में जानकारी दी है. जिन लोगों को सांस लेने में तकलीफ है उनके लिए ये मास्क काफी बेहतर साबित होगा और इसमें ऑक्सीजन देने की भी सुविधा है.

    डॉ. सम्राट घोष
    डॉ. सम्राट घोष


     

    Tags: Air pollution, Health, Health News, Lifestyle, Trending new

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर