Home /News /lifestyle /

Lockdown: नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ने पुस्तक प्रेमियों को दिया बड़ा ऑफर, बस एक क्लिक और फ्री एक्सेस

Lockdown: नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ने पुस्तक प्रेमियों को दिया बड़ा ऑफर, बस एक क्लिक और फ्री एक्सेस

इस डिजिटल लाइब्रेरी में आपके लिए सभी अकादमिक विषयों सहित जीवन के प्रत्येक क्षेत्र जैसे कि मनोरंजन, धर्म, नीति और नैतिकता के बारे में पढ़ने के लायक और उपयोगी समुचित जानकारी के साथ ही विभिन्न किस्म की डिजिटल किताबें भी उपलब्ध हैं.

इस डिजिटल लाइब्रेरी में आपके लिए सभी अकादमिक विषयों सहित जीवन के प्रत्येक क्षेत्र जैसे कि मनोरंजन, धर्म, नीति और नैतिकता के बारे में पढ़ने के लायक और उपयोगी समुचित जानकारी के साथ ही विभिन्न किस्म की डिजिटल किताबें भी उपलब्ध हैं.

ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने लॉकडाउन में अपनी ई-लाइब्रेरी को सभी के लिए निशुल्क कर दिया है.

    देश में कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लॉकडाउन जारी है. लोग सोशल डिस्टेंसिंग को अपनाते हुए घरों में बंद हैं. कुछ लोग वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं तो कुछ लोग खाली समय में कुछ क्रिएटिव करते हुए नजर आ रहे हैं. लॉकडाउन की वजह से सभी शिक्षण संस्थान भी बंद हैं. छात्रों को अपनी पढ़ाई ऑनलाइन ही करनी पड़ रही है. ऐसे में ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने अपनी ई-लाइब्रेरी को सभी के लिए निशुल्क कर दिया है. एआईसीटीई की नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ऑफ इंडिया (एनडीएलआई) को अब कोई भी व्यक्ति केवल एक लॉगिन मात्र से एक्सेस कर सकता है. सिर्फ इतना ही नहीं इस ई-लाइब्रेरी से इस्तेमाल की जाने वाली किताबों के लिए स्टूडेंट्स को किसी प्रकार का कोई शुल्क भी नहीं देना पड़ेगा.

    विभिन्न किस्म की डिजिटल किताबें
    www.ndl.gov.in और www.ndliitkgp.ac.in -इन वेबसाइट्स पर जाकर स्टूडेंट्स आसानी से कंटेट हासिल कर सकते हैं. इस डिजिटल लाइब्रेरी में आपके लिए सभी अकादमिक विषयों सहित जीवन के प्रत्येक क्षेत्र जैसे कि मनोरंजन, धर्म, नीति और नैतिकता के बारे में पढ़ने के लायक और उपयोगी समुचित जानकारी के साथ ही विभिन्न किस्म की डिजिटल किताबें भी उपलब्ध हैं. इस कोरोना वायरस के लॉक डाउन के दौरान लोग इस लाइब्रेरी पर सभी किस्म की डिजिटल किताबें पढ़ सकते हैं. यहां स्टूडेंट्स अपनी जरूरत की किताब खोज कर पढ़ सकते हैं.

    ई-संसाधनों को सभी के लिए फ्री में खोलने का फैसला
    एनडीएलआई की खासियत यह है कि यहां स्कूल से लेकर कॉलेज के हर विभाग की किताबें मौजूद हैं. प्राइमरी से लेकर बड़ी कक्षा यहां तक की कॉलेज का स्टडी मैटिरियल भी यहां आसानी से उपलब्ध है. एआईसीटीई ने नोटिस में कहा है कि फिजिकल क्लासेस के सस्पेंसन और कोविड-19 लॉकडाउन की वजह से लाइब्रेरीज के बंद होने से इस कठिन परिस्थिति में छात्रों की मदद करने के लिए, नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ऑफ इंडिया (एनडीएलआई) ने विशेष रूप से ई-संसाधनों को सभी के लिए फ्री में खोलने का फैसला लिया है.

    लर्निंग रिसोर्सेज मिल सकें
    मिनिस्ट्री ऑफ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट (MHRD), भारत सरकार ने शिक्षा के लिए अपने नेशनल मिशन के तहत इनफॉर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी के तहत इस नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ऑफ इंडिया (NDL इंडिया) की शुरुआत की है ताकि एक सिंगल-विंडो सर्च फैसिलिटी के तहत लोगों को सभी किस्म के लर्निंग रिसोर्सेज मिल सकें. NDL को ऐसे डिजाइन किया गया है ताकि भारत की सभी प्रमुख भाषाओं में लोगों को रीडिंग मटीरियल मिल सके. इस डिजिटल लाइब्रेरी को इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, खड़गपुर ने तैयार किया है.

    Tags: Lifestyle

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर