• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • Unlock-4 में 1 सितंबर से शुरू हो सकती है मेट्रो सेवा, सुरक्षा के इन खास नियमों का करें पालन

Unlock-4 में 1 सितंबर से शुरू हो सकती है मेट्रो सेवा, सुरक्षा के इन खास नियमों का करें पालन


उन्होंने बताया कि इस समय में एक्वा लाइन पर प्रतिदिन एक हजार के करीब सवारियों की संख्या हो गई है. उन्होंने बताया कि 12 सितंबर से एक्वा लाइन को पूर्व की तरह सुबह छह बजे से रात्रि 10 बजे तक चलाया जाएगा. उन्होंने बताया कि ‘पीक आवर’ में 7:30 मिनट की फ्रीक्वेंसी होगी, जबकि ‘नॉर्मल आवर’ में 10 मिनट की फ्रीक्वेंसी होगी.

उन्होंने बताया कि इस समय में एक्वा लाइन पर प्रतिदिन एक हजार के करीब सवारियों की संख्या हो गई है. उन्होंने बताया कि 12 सितंबर से एक्वा लाइन को पूर्व की तरह सुबह छह बजे से रात्रि 10 बजे तक चलाया जाएगा. उन्होंने बताया कि ‘पीक आवर’ में 7:30 मिनट की फ्रीक्वेंसी होगी, जबकि ‘नॉर्मल आवर’ में 10 मिनट की फ्रीक्वेंसी होगी.

शुरुआत में सिर्फ सरकारी इमरजेंसी सेवा व कुछ अन्य श्रेणी के यात्रियों (Passengers) को ही मेट्रो (Metro) में यात्रा करने की छूट मिल सकती है. इसके पीछे ये कारण है कि मेट्रो स्टेशनों पर ज्यादा भीड़ एकत्रित न हो.

  • Share this:
    कोरोना लॉकडाउन (Lockdown) के चलते करीब 5 महीनों से बंद मेट्रो (Metro Rail) का परिचालन 1 सितंबर 2020 से शुरू करने की तैयारी है. सूत्रों की मानें तो अनलॉक 4 (Unlock-4) में मेट्रो को शुरू करने की मंजूरी दी जा सकती है. मगर यह छूट कुछ खास शर्तों के साथ होगी यानी शुरुआत में सिर्फ सरकारी इमरजेंसी सेवा व कुछ अन्य श्रेणी के यात्रियों (Passengers) को ही यात्रा करने की छूट मिल सकती है. इसके पीछे ये कारण है कि मेट्रो स्टेशनों पर ज्यादा भीड़ एकत्रित न हो. वहीं मेट्रो ने अपने परिचालन से जुड़े मानक संचालन प्रक्रिया भी पहले ही तैयार कर लिया है जिसमें यात्रियों को यात्रा करने से पहले कई शर्तों का पालन करना होगा. आइए आपको बताते हैं मेट्रो में यात्रा करने से पहले आपको किस तरह खुद को सुरक्षित रखना होगा.

    -यात्री के अंदर कोरोना के किसी भी तरह के लक्षण (सर्दी, जुखाम, बुखार) न हो, अगर ऐसा हुआ तो उसे स्टेशन से वापस लौटा दिया जाएगा. ऐसे में कोरोना के लक्षण दिखने पर मेट्रो में यात्रा करने से बचें. घर पर रहकर ही काम करें. हो सके तो मोबाइल में आरोग्य सेतू ऐप जरूर डाउनलोड कर लें.

    -सिर्फ स्मार्ट कार्ड रखने वाले यात्री ही मेट्रो में सफर कर पाएंगे यानी फिलहाल स्टेशन पर टोकन देने की सुविधा नहीं होगी. टोकन लेने वाले सभी काउंटर व टिकट वेंडिग मशीन बंद रहेंगे. ऐसे में घर से ही अपनी स्र्मार्ट कार्ड रिचार्ज कर लें.

    इसे भी पढ़ेंः Viral Video: मछली की जान बचाने के लिए सूअर के बच्चों ने किया ये काम, नम हुईं लोगों की आंखें

    -मेट्रो परिचालन के शुरुआती एक सप्ताह में सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही यात्रा करने का मौका दिया जाए. उसके बाद एक सप्ताह बाद इसकी समीक्षा होगी. अगर सब ठीक चल रहा होगा तो उसे बाकी लोगों के लिए ही शुरू कर दिया जाएगा. मेट्रो में यात्रा करने से पहले खुद की सुरत्रा का पूरा ध्यान रखें.

    -मेट्रो स्टेशन पर भीड़ न हो, इसके लिए स्टेशन के सीमित प्रवेश व निकास गेट ही खोले जाएंगे. ऐसा करने से सभी यात्रियों की ठीक से जांच की जा सकेगी. जांच में अधिकारियों का सहयोग करें.

    -वहीं मेट्रो की सीट में दो यात्रियों के बीच एक सीट खाली रहेगी. एक कोच में अधिकतम 50 लोग ही सफर कर पाएंगे. ऐसे में कोच में मौजूद अन्य यात्रियों से दूरी बनाएं रखें. मास्क और गल्व्स जरूर पहनें.

    -सोशल डिस्टेंसिंग पालन कराने के लिए मेट्रो ट्रेन स्टेशन पर पहले की तुलना में 30 सेकंड अधिक समय के लिए रूकेगी. ऐसा करने से ट्रेन में चढ़ने व उतरने के लिए पर्याप्त समय मिल सकेगा. मेट्रो के अंदर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूरी होगा. कोच में सीमित संख्या में लोग चढ़े और उतरें इसका पूरा ख्याल रखा जाएगा. आप भी अपनी तरफ से पूरी कोशिश करें कि मेट्रो में यात्रा करते समय पूरी सावधावी बरती जाए ताकि कोविड-19 से दूरी बनी रहे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज