International Friendship Day: कैसे हुई फ्रेंडशिप डे की शुरुआत, जान लें क्या है इसका इतिहास

International Friendship Day: कैसे हुई फ्रेंडशिप डे की शुरुआत, जान लें क्या है इसका इतिहास
इस दिन दोस्तों के लिए गिफ्ट्स खरीदना, पार्टी करना, दोस्तों को स्पेशल मैसेजेस भेजना और आउटिंग की जाती है.

हर साल अगस्त महीने के पहले रविवार (Sunday) को मनाया जाने वाला 'फ्रेंडशिप डे' (Friendship Day) युवाओं के बीच काफी मशहूर है. सोशल मीडिया के बढ़ते ट्रेंड के चलते बड़ी ही धूमधाम से दोस्ती-यारी के इस दिन को खास तरीके से मनाया जाता है.

  • Share this:
नेशनल फ्रेंडशिप डे (Friendship Day) हर साल अगस्त महीने के पहले संडे को मनाया जाता है जबकि इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे (International Friendship Day) आधिकारिक तौर पर हर साल 30 जुलाई को मनाया जाता है. इस दिन दोस्तों के लिए गिफ्ट्स खरीदना, पार्टी करना, दोस्तों को स्पेशल मैसेजेस भेजना और आउटिंग की जाती है. कुछ लोग तो इस दिन को सेलिब्रेट करने के लिए रोड ट्रिप या फिर दूर वेकेशन पर भी निकल जाते हैं. हालांकि इस बार कोरोना संक्रमण के चलते जारी लॉकडाउन में ऐसा करना संभव नहीं हो सकेगा. इसके अलावा इस दिन दोस्त एक-दूसरे को चॉकलेट्स, फूल, ग्रीटिंग कार्ड्स, फ्रेंडशिप बैंड जैसी कई चीजें देते हैं. इस खास दिन को दोस्त के साथ मनाने से पहले आपने कभी सोचा है कि इस दिन की शुरुआत कैसे हुई? ये फ्रेंडशिप डे कब शुरू हुआ? आइए आपको बताते हैं इसके बारे में सब कुछ.

फ्रेंडशिप डे का इतिहास
हर साल अगस्त महीने के पहले रविवार (संडे) को मनाया जाने वाला 'फ्रेंडशिप डे' युवाओं के बीच काफी मशहूर है. सोशल मीडिया के बढ़ते ट्रेंड के चलते बड़ी ही धूमधाम से दोस्ती-यारी के इस दिन को खास तरीके से मनाया जाता है. फ्रेंडशिप डे की शुरुआत 1935 में अमेरिका से हुई थी. अगस्त के पहले रविवार को अमेरिकी सरकार ने एक व्यक्ति को मार दिया था, जिसकी याद और गम में एक दोस्त ने आत्महत्या कर ली थी. उसी दिन से सरकार ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने का निर्णय लिया था.

फ्रेंडशिप डे से जुड़ी कहानियां
कहा जाता है कि साल 1930 में एक व्यापारी ने इस दिन की शुरुआत की थी. जोएस हाल नाम के इस व्यापारी ने सभी लोगों के लिए एक दिन ऐसा रखा जिसमें दो दोस्त आपस में एक दूसरे को कार्ड देते हुए इस दिन को सेलीब्रेट कर सकें. इस खास दिन को मनाने के लिए उस व्यापारी ने 2 अगस्त के दिन को चुना था. बाद में यूरोप और एशिया के बहुत से देशों ने इस परंपरा को आगे बढ़ाते हुए फ्रेंडशिप डे को मनाने का फैसला किया गया.



वहीं बताया जाता है कि 20 जुलाई 1958 को डॉक्टर रमन आर्टिमियो ने एक डिनर पार्टी के दौरान अपने दोस्तों के साथ मित्रता दिवस मनाने का विचार रखा. पराग्वे में हुई इस घटना के बाद विश्व में फ्रेंडशिप डे मनाने की परंपरा पर खासा ध्यान दिया गया. पैराग्वे में फ्रेंडशिप डे काफी जोरो-शोरों से मनाया जाता है. शुरू में ग्रीटिंग कार्ड्स को इस दिन पर अपने दोस्तों को देने का बढ़ावा मिला.

इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे
दुनियाभर के अलग-अलग देशों में फ्रेंडशिप डे अलग-अलग दिन मनाया जाता है. 27 अप्रैल 2011 को संयुक्त राष्ट्र संघ की आम सभा ने 30 जुलाई को आधिकारिक तौर पर इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे घोषित किया था. हालांकि, भारत सहित कई दक्षिण एशियाई देशों में अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है. ओहायो के ओर्बलिन में 8 अप्रैल को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading