International Mountain Day 2020: जानें क्यों मनाते हैं अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस, क्‍या है इसका इतिहास

International Mountain Day 2020: हर साल 11 दिसंबर को यह दिवस मनाते हैं.

International Mountain Day 2020: हर साल अंतरराष्ट्रीय पर्वत दिवस मनाने का मकसद है कि पर्वतीय क्षेत्रों (Mountainous Regions) का विकास हो. साथ ही लोग पर्वतों के प्रति अपने दायित्वों को भी समझें.

  • Share this:
    International Mountain Day 2020: पहाड़ों से घिरी खूबसूरत वादियां कुदरत का अनमोल नजारा हैं और हमारी रक्षक भी. इनकी खूबसूरती प्रकृति के करीब होने का एहसास देती है. यही वजह है कि हर साल हर साल 11 दिसंबर को पूरे विश्व में अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस (International Mountain Day) मनाया जाता है. इसका मकसद यही है कि लोग पहाड़ों पर रहने वालों की समस्‍याओं से वाकिफ हों. जलवायु और भूमिगत परिवर्तनों के कारण पर्वतों की भूगोलिक स्थिति में परिवर्तन आ रहा है इसलिए इन क्षेत्रों का विकास और संरक्षण हो. साथ ही इसका उद्देश्‍य इसकी समृद्ध जैव विविधता के बारे में लोगों को जागरूक करना है. इसी के मद्देनजर हर साल इसका आयोजन किया जाता है.

    अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस का महत्व
    आज के समय में जब जलवायु और भूमिगत परिवर्तनों की वजह से पर्वतों की भूगोलिक स्थिति में बदलाव आता जा रहा है. वनों को नष्ट किए जाने की घटनाएं सामने आ रही हैं, तो पृथ्‍वी और मानव जीवन के लिए गंभीर विषय है. ऐसे में जरूरी है कि लोग पर्वतों के प्रति अपने दायित्वों को समझें. इसीलिए लोगों को इसके प्रति जागरूक करने के लिए हर साल अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस मनाया जाता है.

    जानें इसका इतिहास
    अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस के बहाने पर्यावरण में पहाड़ों की भूमिका के बारे में बताया जाता है. 1992 में संयुक्त राष्ट्र की ओर से एक प्रस्ताव सामने लाया गया. इसमें पहाड़ों पर रहने वालों की ओर ध्यान दिलाया गया. वहीं पहाड़ के महत्व को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2002 को संयुक्त राष्ट्र अंतर्राष्ट्रीय पर्वत वर्ष घोषित किया. इसके बाद 11 दिसंबर, 2003 से अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस मनाया जाने लगा. तब से ही यह हर साल मनाया जाता है.

    ये भी पढ़ें - National Education Day 2020: जब अबुल कलाम आज़ाद ने कहा 'सपने देखने पड़ेंगे'

    इस साल की थीम
    हर साल अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस की थीम अलग होती है. इस साल इसकी थीम 'पर्वतीय जैव विविधता' रखी गई है. इस दिन का पर्वतीय क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए खास महत्‍व होता है. साथ ही पर्वतारोही, सामाजिक संस्थाओं के द्वारा इसे बड़े उत्‍साह से मनाया जाता है. इसके लिए विभिन्न मंचों के माध्‍यम से प्रतियोगिताएं कराई जाती हैं और लोगों को जागरूक किया जाता है. सोशल मीडिया पर भी अंतरराष्ट्रीय पर्वत दिवस पर लोग इससे संबंधित तस्‍वीरें, विचार साझा करते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.