International yoga week 2020 : फेफड़ों को हमेशा हेल्दी रखेंगे ये 3 योगासन

International yoga week 2020 : फेफड़ों को हमेशा हेल्दी रखेंगे ये 3 योगासन
घर की चार दीवारों में तनाव को कम करने का सबसे बेस्ट तरीका है योग.

लाजिमी सी बात है फेफड़ों के जरिए ही शरीर में हवा का संचार होता है इसलिए इनके स्वस्थ रहने से पूरा शरीर फिट रह सकता है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
दुनिया को योग के फायदे बताने और योग के प्रति जागरूक करने के लिए 1 मार्च से 7 मार्च तक अंतरराष्ट्रीय योग सप्ताह (International Yoga Week 2020) मनाया जाता है. अंतरराष्ट्रीय योग सप्ताह (International Yoga Week 2020) के तीसरे दिन हम आपको बताने जा रहे हैं योग के वो 4 आसन जो हर मौसम में आपके फेफड़ों (lungs) को स्वस्थ रखने में मदद करेंगे.

लाजिमी सी बात है फेफड़ों के जरिए ही शरीर में हवा का संचार होता है इसलिए इनके स्वस्थ रहने से पूरा शरीर फिट रह सकता है. श्वासन तो हम सभी करते हैं. योग में एक अन्य प्राणायाम है जिसे नाड़ी शोधन कहा जाता है. नियमित तौर पर नाड़ी शोधन करने से सांस संबंधियां परेशानी खत्म हो जाती है. नाड़ी शोधन अस्थमा के मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है.

कैसे करें नारी शोधन आसन



- सबसे पहले जमीन पर पीठ को सीधा करके बैठें. कंधों को हल्का ढीला छोड़े. इसके बाद उल्टे हाथ को सीधे पैर के घुटनों पर रखें.



- इसके बाद सीधे हाथ को ऊपर उठाएं और दाहिने हाथ की तर्जनी और मध्यमा अंगुली को भौहों के केन्द्र में रखें।

दायें अंगूठे का इस्तेमाल करक दायें नथुने को बंद करके धीरे-धीरे बायें नथुने से सांस को छोड़ें.

मत्स्यासन (Matsyasana)

नियमित तौर पर मत्स्यासन करने से शरीर का रक्त संचार सही रहता है. योग का ये आसन शरीर को गहरी सांस लेने हेतु प्रेरित करता है. गहरी सांस लेने से फेफड़े साफ और स्वस्थ रहते हैं.




कैसे करें मत्स्यासन

- मत्स्यासन के लिए सबसे पहले जमीन पर पेट के बल सीधे लेटिए. पैरों को सीधे रखें. हाथों को कमर के बगल में सीधा फैला लीजिए.

- इसके बाद कूल्हों को नीचे हाथों को दबाकर रथें. अब सांस बाहर छोड़ते हुए शरीर के ऊपरी हिस्से को हाथों के बल से उठाएं.

- अपनी छाती को ऊपर उठाएं और गर्दन को पीछे की तरह मोड़िए. इस मुद्रा में 10 सेकेंड रहने के बाद शरीर को आराम दें. नियमित तौर पर इस आसन को करने से फेफड़ों के साथ-साथ दिमाग भी स्वस्थ्य रहता है.

योग मुद्रा

योग के इस आसन में ब्लड फ्लो फेफड़ों की तरफ होता है. इस आसन के जरिए फेफड़ों की कोशिकाओं से टॉक्सिन्स निकलते हैं. नियमित तौर पर इस आसन को करने से शारीरिक और मानसिक संतुलन बनता है. ये आसन उन लोगों के लिए बेस्ट माना जाता है जिन्हें ध्यानकेंद्रित करने में परेशानी होती है.

ऐसे करें योग मुद्रा

- योग मुद्र करने के लिए अपने सीधे हाथ की कलाई को उल्टे हाथ से पीछे की तरफ खींचकर पकड़ें. इसके बाद सांस को अंदर लें और छाती को बाहर की ओर लेकर जाएं.
- इसके बाद सांस को बाहर निकालते हुए आगे की तरफ झुकें.

- इसके बाद सिर के सहारे सीधे पैर को घुटने से छुएं.

- अब सांस अंदर लेते हुए वापस सही तरीके से बैठ जाएं. जिन लोगों को ध्यान लगाने या फिर सिर में दर्द जैसी समस्या होती है उनके लिए योग मुद्रा आसन बेस्ट माना जाता है.
First published: March 2, 2020, 4:46 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading