क्या सीने में दर्द भी है कोरोना वायरस का लक्षण? जानिए क्या कहता है WHO

क्या सीने में दर्द भी है कोरोना वायरस का लक्षण? जानिए क्या कहता है WHO
कोरोना वायरस के अब तक अलग-अलग तरह के 12 लक्षण सामने आ चुके हैं.

कोरोना वायरस (Coronavirus) से होने वाला संक्रमण एक तरह का वायरल इन्फेक्शन (Viral infection) है जो मुख्यरूप से श्वसन तंत्र, नाक और गले को प्रभावित करता है यानी सर्दी, जुकाम, गला खराब होना और बुखार (Fever) इसके सामान्य लक्षण हैं.

  • Last Updated: July 13, 2020, 12:57 PM IST
  • Share this:
कोविड-19 (Covid-19) अब तक लाइलाज बीमारी है और इसके सिर्फ लक्षणों का इलाज हो रहा है. myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. अजय मोहन के मुताबिक कोरोना वायरस (Coronavirus) से होने वाला संक्रमण एक तरह का वायरल इन्फेक्शन (Viral infection) है जो मुख्यरूप से श्वसन तंत्र, नाक और गले को प्रभावित करता है यानी सर्दी, जुकाम, गला खराब होना और बुखार (Fever) इसके सामान्य लक्षण हैं. इन सामान्य लक्षणों के बीच कुछ अन्य लक्षण भी सामने आए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO) के मुताबिक अब तक अलग-अलग तरह के 12 लक्षण सामने आ चुके हैं. एक सवाल यह भी उठता है कि क्या सीने में दर्द भी कोरोना वायरस का लक्षण है?

डब्ल्यूएचओ कहता है कि सीने में दर्द स्पष्ट रूप से सिर्फ कोरोना वायरस का लक्षण नहीं है, लेकिन अगर किसी को सीने में भारीपन महसूस हो रहा है या ऐसा महसूस हो कि गहरी सांस लेने में परेशानी हो रही है तो यह कोरोना वायरस हो सकता है. यह स्थिति बिना किसी अन्य लक्षण के सामने आ सकती है.

क्या करें अगर सीने में दर्द और बुखार या खांसी है?
डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन के मुताबिक अगर मरीज घर में अकेला रहता है और उसे सीने में दर्द या भारीपन के साथ बुखार और खांसी है तो उसे ये लक्षण सामने आने के सात दिन तक खुद को घर में ही आइसोलेट कर लेना चाहिए. अगर संदिग्ध परिवार के साथ रह रहा है तो उसे 14 दिन के लिए खुद को एक कमरे में कैद कर लेना चाहिए. अगर मरीज स्वस्थ्य है और बीमारियों से लड़ने की उसकी ताकत (इम्यून सिस्टम) ठीक है तो ये लक्षण धीरे-धीरे खत्म हो जाएंगे. इस दौरान पौष्टिक खाना खाएं, आराम करें और जितना संभव हो व्यायाम करें. अगर इस दौरान सांस की परेशानी बढ़ती है तो तत्काल डॉक्टर को दिखाएं, लेकिन सबसे जरूरी है बाकी दुनिया से अलग रहना.
सीने में दर्द हो तो क्या करें?


अगर अचानक सीने में दर्द उठा है तो यह हार्ट अटैक जैसे किसी अन्य कारण से भी हो सकता है. अगर सांस फूलने के साथ सीने में दर्द हो रहा है तो यह कोरोना वायरस हो सकता है.

कोरोना वायरस का सबसे खतरनाक लक्षण क्या है?
डब्ल्यूएचओ के मुताबिक कोरोना वायरस के अब तक 12 लक्षण सामने आ चुके हैं. इनमें सबसे गंभीर है बुखार. चीन में हुए अध्ययन के मुताबिक 87.9 फीसदी मरीजों में तेज बुखार का लक्षण पाया गया. इसके बाद दूसरे नंबर पर सूखी खांसी है. 67.7 फीसदी मरीजों में यह लक्षण मिला है. अगर किसी को अचानक थकान महसूस होती है तो भी यह चिंता की वजह है. चीन में 38.1 फीसद मरीजों में कोरोना वायरस की शुरुआत इसी लक्षण से हुई थी. क्रम में बलगम चौथे नंबर पर है. यही कारण है कि कमजोर लोगों के साथ ही बुजुर्गों के ऐसी चीजों से दूर रहने को गया है कि जिनसे कफ बनता हो.

ये भी पढ़ें - क्या कोविड निगेटिव मां से जन्मा शिशु हो सकता है कोरोना पॉज़िटिव?

सिरदर्द और जोड़ों के दर्द को भी न करें नजरअंदाज
कोरोना वायरस का पांचवां लक्षण है सांस फूलना. 18.6 फीसदी मरीजों में इससे बीमारी की शुरुआत हुई. हमारे देश में जोड़ों का दर्द आम है, लेकिन अब इसको हल्के में नहीं लेने की जरूरत है, क्योंकि 14.8 फीसदी लोगों में कोरोना वायरस की शुरुआत इसी से हुई है. करीब 14 फीसदी लोगों में ही सिरदर्द भी लक्षण के रूप में सामने आया है. myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. अजय मोहन के मुताबिक तमाम सावधानियां बरतते हुए अपने शरीर पर नजर रखें. अगर कोई संदिग्ध हरकत महसूस होती है तो बिना देरी किए डॉक्टर से मिलना चाहिए.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, नए कोरोना वायरस की औपचारिक जानकारी मिले छह महीने पूरे, महामारी के खत्म होने के आसार आसपास भी नहीं पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading