Muharram 2018: कल से शुरू है इस्लामिक न्यू ईयर, शुरु के 10 दिन का रहेगा शोक

शिया बहुल मुल्क ईरान और बाकी के पश्चिम एशिया के देशों में 10 सितंबर को 'धुल हिज्जाह' महीने की 29 तारीख माना गया. माना जा रहा है भारत में यह महीना 12 सितंबर 2018 से शुरू होगा.

News18Hindi
Updated: September 11, 2018, 9:17 AM IST
Muharram 2018: कल से शुरू है इस्लामिक न्यू ईयर, शुरु के 10 दिन का रहेगा शोक
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: September 11, 2018, 9:17 AM IST
सऊदी अरब में 11 सितंबर, मंगलवार को मुहर्रम का पहला दिन माना गया है. 'मुहर्रम' इस्लामिक कैलेंडर के साल के पहले महीने का नाम है. मुहर्रम से ही इस्लामिक नए साल की शुरुआत होती है. UAE में मुहर्रम महीने की पहली तारीख को 11 सितंबर मानी गई है. वहीं पश्चिम एशिया, भारतीय उपमहाद्वीप और  आस-पास के मुल्कों में मुहर्रम की पहली तारीख 11 सितंबर शाम को दिखने वाले चांद पर निर्भर है.

सऊदी अरब और मध्य पूर्व (Middle East) में कई जगहों पर 10 सितंबर को ही 'धुल हिज्जाह' (Dhul Hijjah) (साल के आखिरी महीने) की आखिरी तारीख माना गया. जिसके मद्देनजर इन मुल्कों में अशरा 20 सितंबर को मनाया जाएगा. अशरा मुहर्रम की 10वीं तारीख को मनाया जाता है.

शिया बहुल मुल्क ईरान और बाकी पश्चिम एशिया के देशों में 10 सितंबर को 'धुल हिज्जाह' महीने की 29 तारीख माना गया. जिसके मुताबिक भारत में यह महीना 12 सितंबर 2018 से शुरू होगा.

आपको बता दें कि 'मुहर्रम' का ऐहतराम शिया व सुन्नी समुदाय में अलग-अलग तरीकों से किया जाता है. शिया समुदाय व सुन्नी समुदाय के कुछ तबके मुहर्रम के शुरुआती 10 दिन ग़म मनाते हैं. क्योंकि 1400 साल पहले इस महीने की 10 तारीख को अल्लाह के पैग़म्बर हज़रत मोहम्मद (स:अ:व:व) के छोटे नवासे इमाम हुसैन को परिवार के कुछ सदस्यों और 72 अनुयायियों समेत मार दिया गया था.

हुसैन पर ये ज़ुल्म 1400 साल पहले करबला (ईराक के शहर) में हुआ. मुहर्रम महीने में हर साल उन्हीं शहीदों का मातम मनाया जाता है.

ये भी पढ़ें:

Motivational Story: हम हर शख्स से कुछ न कुछ सीख सकते हैं, जानें कैसे
Loading...
#Nutritiousfoods: हड्डियों को मजबूत और ताकतवर बनाने के लिए खाएं ये चीज़ें

Motivational Story: दूसरों की नकारात्मक बातें न सुनेंगे तो कभी लक्ष्य हासिल नहीं कर पाएंगे
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर