• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • भावनाओं पर काबू करने में आपको भी होती है मुश्किल? एक्सपर्ट के बताए ये 3 स्टेप्स करें फॉलो

भावनाओं पर काबू करने में आपको भी होती है मुश्किल? एक्सपर्ट के बताए ये 3 स्टेप्स करें फॉलो

आपको अपनी भावनाओं को संभालना सीखना होगा. बस आपको इन 3 स्टेप्स को फॉलो करना है.  (प्रतीकात्मक फोटो-Shutterstock.com)

आपको अपनी भावनाओं को संभालना सीखना होगा. बस आपको इन 3 स्टेप्स को फॉलो करना है. (प्रतीकात्मक फोटो-Shutterstock.com)

Not Difficult to Control Emotions : आपने अपनी लाइफ में कई ऐसे लोग देखे होंगे, जिनके लिए अपनी भावनाओं पर काबू पाना बहुत मुश्किल होता है. वो मौका नहीं देखते हैं, बस अपनी भावनाओं पर कंट्रोल खो देते हैं.

  • Share this:

    Not Difficult to Control Emotions : कई बार हमारी लाइफ में ऐसी सिचुएशन आती है कि हम अपनी भावनाओं (Emotions) पर काबू नहीं रख पाते है. ये एक सामान्य बात है. लेकिन आपने अपनी लाइफ में कई ऐसे लोग देखे होंगे, जिनके लिए अपनी भावनाओं पर काबू पाना बहुत मुश्किल होता है. वो मौका नहीं देखते हैं, बस अपनी भावनाओं पर कंट्रोल खो देते हैं. हिंदुस्तान अखबार में छपे एक लेख में साइकोलॉजिस्ट (Psychologist) डॉ नेहा दत्त (Dr Neha Dutt) ने भावनाओं पर काबू पाने के कुछ सुझाव दिए हैं, जो आपको टेंशन से भरी सिचुएशन में बेहतर रणनीति बनाने में मदद कर सकते हैं.

    साइकोलॉजिस्ट नेहा दत्त लिखती हैं, उदासी, भय, गुस्सा, टेंशन, बेचैनी समय-समय पर सभी लोगों को परेशान करती है. लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपनी भावनाओं से लगातार जूझते रहते हैं. वे अक्सर अपने तीखे रिएक्शंस के लिए दोषी महसूस करते हैं. वजह चाहे जो भी हो, आपको अपनी भावनाओं को संभालना सीखना होगा. बस आपको इन 3 स्टेप्स को फोलो करना है.

    यह भी पढ़ें- World Mental Health Day 2021: मन को फिट रखने के लिए क्या करना है जरूरी, एक्सपर्ट्स से जानें

    ध्यान…करना होगा
    अगर आपको लगता है कि आप उन लोगों में से हैं जो किसी भी स्थिति को ठीक से जाने बिना ही तुरंत उस पर रिएक्शन करते हैं, तो आपको ध्यान (Meditation) करने की जरूरत है. आपकी ऐसी स्थिति में ध्यान आपकी मदद करेगा. ये सभी भावनाओं और अनुभवों के बारे में जागरूकता बढ़ाने में आपकी मदद करेगा. जब आप ध्यान कर रहे हो हैं तो खुद में शांति और स्वयं को बिना किसी शिकायत स्वीकार करने की भावनाओं को गहरा कर रहे होते हैं. इससे आपको आराम करने और अच्छी नींद लेने में भी मदद मिलेगी.

    तनाव को कम करने के लिए ये करें
    ध्यान के अलावा, अपनी श्वास पर ध्यान केंद्रित करने से भी भावनाओं पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है. आप कैसे सांस लेते हैं. यह प्रभावित करता है कि भावनाओं को कैसे नियंत्रित किया जाता है. इसलिए तनाव को ठीक करने के लिए अपनी सांस का उपयोग करना सीखना होगा.

    यह भी पढ़ें- World Mental Health Day: कोरोना में रीति-रिवाज भी बने मानसिक बीमारियों का कारण, महिलाओं से ज्‍यादा पुरुषों को समस्‍याएं

    चित्रों और शब्दों में प्रकट होने दें
    जो कुछ भी आप महसूस कर रहे हैं, उसे शब्दों या चित्रों में प्रकट होने दें. अपनी भावनाओं और उनके द्वारा ट्रिगर की गई प्रतिक्रियाओं को लिखना आपको मुश्किल हालात से बाहर निकालने में मदद कर सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज