Janmashtami 2019: ये हैं भगवान श्रीकृष्ण के 8 सबसे लोकप्रिय और प्रसिद्ध मंदिर

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 11:25 AM IST
Janmashtami 2019: ये हैं भगवान श्रीकृष्ण के 8 सबसे लोकप्रिय और प्रसिद्ध मंदिर
Janmashtami जनमाष्टमी 2019: आइए जानते हैं हमारे देश की क्षेत्रीय विविधताओं ने भगवान श्रीकृष्ण के कितने रुपों को जन्म दिया है-

Janmashtami जनमाष्टमी 2019: आइए जानते हैं हमारे देश की क्षेत्रीय विविधताओं ने भगवान श्रीकृष्ण के कितने रुपों को जन्म दिया है-

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2019, 11:25 AM IST
  • Share this:
Janmashtami जनमाष्टमी 2019: कुछ के लिए, वह नटखट गोपाल हैं, कुछ के लिए माखन चोर, कुछ के लिए प्रेम में डूबे प्रेमी. जबकि अन्य लोगों के लिए एक शानदार युद्ध रणनीतिकार. भगवान श्रीकृष्ण के कई रूप हमारे ज़हन में बसे हैं. कृष्ण की प्रतिमाओं में भी क्षेत्रीय विविधताएं देखी जा सकती हैं. जैसे ओडिशा में जगन्नाथ, महाराष्ट्र में विठोबा, राजस्थान में श्रीनाथ जी, गुजरात में द्वारकाधीश और केरल में गुरुवायरुप्पन. स्वाभाविक रूप से, इसलिए, भारत में कई कृष्ण मंदिर भी हैं. भगवान कृष्ण हिंदू पंथियों के सबसे अधिक पूजनीय देवताओं में से एक हैं. यूं तो भगवान श्रीकृष्ण के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों का नाम सुनते ही मथुरा-वृंदावन का नाम ज़हन में आ जाता है, लेकिन ऐसे कई अन्य प्रसिद्ध और प्राचीन मंदिर हैं जिनकी लोकप्रियता के बारे में हम नहीं जानते. आइए जानते हैं हमारे देश की क्षेत्रीय विविधताओं ने भगवान श्रीकृष्ण के कितने रुपों को जन्म दिया है-

इस्कॉन मंदिर (Iskcon mandir)

हमारे देश में कई इस्कॉन मंदिर हैं, लेकिन इनमें दिल्ली का इस्कॉन मंदिर सबसे खूबसूरत और लोकप्रिय है. दिल्ली के ईस्ट कैलाश में हरे कृष्ण हिल पर स्थित इस मंदिर की वास्तुशिल्प का डिजाइन मशहूर वास्तुकार अच्युत कंविंदे ने किया था.

मंदिर में भगवान कृष्ण के अलावा श्री श्री राधा पार्थसारथी, सीता, राम, लक्ष्मण, हनुमान और श्री श्री गौरा नितई की मूर्तियां विराजमान हैं. इस मंदिर में मौजूद वैदिक संग्रहालय, कालातीत वैदिक ज्ञान को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न शो और प्रदर्शनियों का आयोजन करता है. यदि आप इस मंदिर में जाते हैं, तो इसके शुद्ध शाकाहारी रेस्तरां में स्वादिष्ट भोजन का स्वाद जरूर लें.

यह मंदिर पूरे हफ्ते खुला रहता है. बस ध्यान रहे कि दोपहर 1 बजे से शाम 4 बजे तक मंदिर में विराजमान भगवान का पट बंद रहता है.

हालांकि वृंदावन के इस्कॉन मंदिर का भी अपना महत्व है. इसे कृष्णा बलराम मंदिर के नाम से भी जाना जाता है.

द्वारकाधीश मंदिर (Dwarkadhish Mandir)
Loading...

मथुरा में स्थित इस मंदिर को हमारे देश का सबसे बड़ा और पुराना भगवान कृष्ण का मंदिर कहा जा सकता है. इस मंदिर की खूबसूरती देखनी हो तो जन्माष्टमी के समय आएं. पूरा मंदिर उत्सव के रंग में रंगा होता है.

मथुरा में यमुना नदी पर कई घाट भी बने हुए हैं. द्वारकाधीश मंदिर के पास यमुना नदी के घाट पर श्रद्धालु दर्शन-पूजन करते हैं और नौका-विहार का भी आनंद लेते हैं.

गुजरात में स्थित द्वारकाधीश मंदिर भी खास लोकप्रिय है.

श्री रंछोद्रीजी महाराज मंदिर (Shri Ranchodriji Mandir)

यह मंदिर गुजरात में स्थित है. गोमती नदी के किनारे बने इस मंदिर की संरचना 1772 में मराठा नोबेल द्वारा की गई थी. मंदिर में सोने के बने कुल 8 गुंबद और 24 बुर्ज हैं. इसके साथ ही लक्ष्मी का मंदिर भी बना है. माना जाता है कि हर शुक्रवार के दिन कृष्ण भगवान लक्ष्मी के मंदिर में जाकर उनसे मिलते हैं.

प्रेम मंदिर (Prem mandir)

यह वृंदावन में स्थित है. कहा गया है कि भारत में इस अविश्वसनीय कृष्ण मंदिर को उपहार के तौर पर रसिक संत जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज के द्वारा दी गई थी.

मंदिर के हर कोने को मिरर पेंटिंग और भगवान कृष्ण के जीवन की महत्वपूर्ण घटनाओं को दर्शाने वाले चित्रों से सजाया गया है. जन्माष्टमी और राधाष्टमी के दिन इस मंदिर की खूबसूरती देखते बनती है.

जगन्नाथ मंदिर (Jagganath Mandir)

जगन्नाथ मंदिर देश में ही नहीं बल्कि विश्व में भी प्रसिद्ध है. पुरी में बना जगन्नाथ मंदिर भारत में हिंदुओं के चार धामों में से एक है. यह धाम तकरबीन 800 सालों से भी ज्यादा पुराना माना जाता है.

श्रीनाथ जी मंदिर (Shrinath ji Mandir)

यह मंदिर राजस्थान के नाथद्वारा में स्थित है. यह मंदिर अपनी मूर्तियों के लिए प्रसिद्ध है. माना जाता है कि मेवाड़ के राजा इस मंदिर में मौजूद मूर्तियों को गोवर्धन की पहाड़ियों से औरंगजेब से बचाकर लाए थे. इसका निर्माण 12वीं शताब्दी में हुआ था.

बालकृष्ण मंदिर (Balkrishna Mandir)

कर्नाटक के हंपी में स्थित है बालकृष्ण मंदिर. इस मंदिर का शुमार UNESCO की वर्ल्ड हेरिटेज वेबसाइट में भी किया जा चुका है. इस मंदिर में बालकृष्ण विराजमान हैं.

उडुपी श्री कृष्ण मठ (Udupi Shri Krishna Math)

कर्नाटक शहर में स्थित इस मंदिर को 13वीं शताब्दी में बनाया गया था. कृष्ण को समर्पित एक प्रसिध्द मंदिरों में से एक इस मंदिर को काफी पवित्र माना जाता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 10:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...