लाइव टीवी

घी खाने के फायदे, रोजाना इतना घी जरूर खाएं


Updated: December 12, 2019, 10:40 AM IST
घी खाने के फायदे, रोजाना इतना घी जरूर खाएं
करीना कपूर जैसी सुपरस्टार (Kareena Kapoor khan secrets) की सेलेब्रिटी न्यूट्रीशनिस्ट ( Celebrity NUtritionist) रुजुता दिवेकर ने अपने फेसबुक पेज (Rujuta Diwekar Facebook) पर घी खाने से जुड़े मिथक दूर करने वाला एक वीडियो शेयर किया है.

करीना कपूर जैसी सुपरस्टार (Kareena Kapoor khan secrets) की सेलेब्रिटी न्यूट्रीशनिस्ट ( Celebrity NUtritionist) रुजुता दिवेकर ने अपने फेसबुक पेज (Rujuta Diwekar Facebook) पर घी खाने से जुड़े मिथक दूर करने वाला एक वीडियो शेयर किया है.

  • Last Updated: December 12, 2019, 10:40 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बढ़ते वजन और कॉलेस्ट्रॉल (Weight loss and cholesterol management) के डर से अगर आपने अपने खाने से घी को हटा दिया है तो आप इस लेख को जरूर पढ़िए. अगर आप घी खाते हैं तो भी हम आपको बताएंगे कि आखिर आपके लिए घी कितना फायदेमंद है. आपको एक दिन में कितना घी खाना चाहिए.

घी खाने को लेकर कई तरह की भ्रांतियां हैं. खासकर वजन घटाने की भेड़चाल ने इस भारतीय सुपरफुड के फायदों से हमें वचिंत कर रखा है. घी खाने के अनगिनत फायदे हैं. यह न केवल हमारे खाने को स्वादिष्ट बनाता है बल्कि सही मात्रा में खाने से इसके गुणों का लाभ हमें भरपूर मात्रा में मिलता है.

घी में आवश्यक वसा होते हैं जो फैट में घुलने वाले विटामिन ए, डी, ई और के को शरीर में आत्मसात करने में मदद करता हैं. इसके अलावा, जब मध्यम मात्रा में सेवन किया जाता है, तो न तो घी से वजन बढ़ता है और न ही यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में किसी तरह की भूमिका निभाता है.



सेलेब न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता के मुताबिक, घी ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल की समस्या वाले लोगों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है. यह लिपिड और हमारे मेटाबॉलिज्स को बढ़ाने में मदद करता है. जिससे कॉलेस्ट्रॉल नियंत्रण में बना रहता है.



आपको रोजाना कितना घी खाना चाहिए?
एक दिन में घी खाने की सही मात्रा क्या है. इस प्रश्न का जवाब रूजुता दिवेकर ने अपनी हालिया फेसबुक पोस्ट में दिया है. उनका कहना है कि घी खाने के लिए, हमारे पास पहले से ही जांची परखी मात्रा तय है. उदाहरण के लिए, दाल चावल और पूरन पोली जैसे व्यंजनों को अधिक घी की आवश्यकता होती है. फिर बाजरे की रोटी की और दाल बाटी के लिए भी घी इस्तेमाल करने की मात्रा अलग होती है. इन दोनों में लगने वाला घी पूलन पोली में इस्तेमाल होने वाले घी से कम होता है. खिचड़ी या दाल चावल को बाजरे की रोटी से कम घी की आवश्यकता होती है.

उनके मुताबिक आदर्श रूप से, आपको अपने भोजन में उतना घी डालना चाहिए जो भोजन के मूल स्वाद को बढ़ाता है. इतनी कम मात्रा में घी न डालें कि आपको यह भी पता न चले कि भोजन में घी डाला गया है.

रुजुता के अनुसार, आप तीन टाइम के खाने में हर एक में 1 चम्मच घी जोड़ सकते हैं: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का खाना. पीसीओएस वाली महिलाओं के लिए, घी खाने से दिल की बीमारी, उच्च रक्तचाप, कब्ज, कमजोर जोड़ों और सूजन आंत्र सिंड्रोम (IBS) से पीड़ित लोगों के लिए यह बहुत फायदेमंद हो सकता है.

दोपहर के भोजन में एक चम्मच घी शाम को जंक फूड खाने की इच्छा दबाने का काम करता है. जरूरत से अधिक मीठा खाने की इच्छा भी इससे दब जाती है. यह लंच के बाद की नींद, सुस्ती और आलस को रोकने में भी मदद कर सकता है.

डिनर में 1 चम्मच अतिरिक्त घी कब्ज और अपच से छुटकारा दिला सकता है. रात को खाने के साथ घी आपको अच्छी नींद लेने में भी मदद करत है.

अच्छे स्वास्थ्य और वजन के लिए रोजाना औसतन 3-6 चम्मच घी खाने की सलाह दी जाती है. बेहतर होगा कि आप घर में बना हुआ गाय का घी ही इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें:

महीने में एक खुराक से दूर हो जाएगी प्रेगनेंसी की टेंशन

मैराथन दौड़ने का घुटनों पर क्या होता है असर!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 10:40 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading