बिना कूलर और एसी के घर को ऐसे रखें ठंडा, चुटकियों में गर्मी से मिलेगा छुटकारा

घर के प्रवेश द्वार और बरामदे के आसपास पौधों को रखने से गर्मी के असर को काफी हद तक कम किया जा सकता है.

घर के प्रवेश द्वार और बरामदे के आसपास पौधों को रखने से गर्मी के असर को काफी हद तक कम किया जा सकता है.

अगर आप एसी (AC) में कई घंटे बिताने के बाद धूप (Sunlight) के संपर्क में आते हैं तो तुरंत बीमार पड़ सकते हैं. कई लोगों को इसके चलते सर्दी-जुकाम (Cough and Cold) और खांसी की समस्या हो जाती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 18, 2020, 11:08 AM IST
  • Share this:
गर्मियों में कूलर, पंखा, एयर कंडीशनर (AC) जैसे उपकरण घरों को ठंडा (Cool) रखने में मदद करते हैं लेकिन इनके अधिक इस्तेमाल के कारण शरीर में कई समस्‍याएं भी देखने को मिलती हैं. अगर आप एसी में कई घंटे बिताने के बाद धूप (Sunlight) के संपर्क में आते हैं तो तुरंत बीमार पड़ सकते हैं. कई लोगों को इसके चलते सर्दी-जुकाम (Cough and Cold) और खांसी की समस्या हो जाती है. इसके साथ ही ज्‍यादा एसी के प्रयोग से आलस तो आता ही है साथ ही हड्डियां (Bones) भी कमजोर होती हैं. अगर आप प्राकृतिक चीजों के सहारे घर को ठंडा रखने चाहते हैं तो ये खास तरीके आपकी मदद कर सकते हैं. आइए जानते हैं कौन से हैं वो तरीके.

छतों को ठंडा रखें
दिन के समय में छतों द्वारा सोलर विकिरणों को अवशोषित कर लिया जाता है. इससे गहरे रंग की छतें काफी गर्म हो जाती हैं. छतों पर 'सफेद पेंट' या पीओपी करने से इसके प्रभाव में 70 से 80 प्रतिशत तक की कमी लाई जा सकती है. सफेद रंग रिफ्लेक्टर का काम करता है. ऐसे में घर ठंडा रहता है.

इसे भी पढ़ेंः गर्मियों में जरूर करें ये 5 चीजें, नहीं तो पड़ सकते हैं लेने के देने
पर्दों से ठंडक


अत्यधिक सूरज की रोशनी कमरे को गर्माहट से भर देती है. इससे बचने के लिए पर्दों का इस्‍तेमाल करें. यह गर्मी को सोख कर घर को ठंडा रखते हैं. गाढ़े रंग के पर्दे धूप को अपनी ओर खींचते हैं. वहीं हल्के, पेस्टल और व्हाइट जैसे रंग धूप से बचाते हैं. मतलब पदरें का रंग जितना हल्का, आपका घर उतना ही ठंडा.

कालीन या मैट न बिछाएं
कमरे में बिछे कालीन से भी घर गर्म रहता है इसलिए घर को ठंडा बनाए रखने के लिए कमरे में बिछे कालीन को हटा देना चाहिए. खाली फर्श ठंडा रहता है और गर्मी के दिनों में ठंडे फर्श पर नंगे पैर चलना अच्‍छा लगता है.

खिड़कियों से ठंडक
खि‍ड़कियों से भी आपका घर कुदरती रूप से ठंडा रहता है. इसके लिए जरूरी है कि ऑफिस या किसी भी काम से बाहर जाने से पहले अपने घर की सभी खिड़कियों को बंद करके जाएं और रात में घर को ठंडा बनाने के लिए सारी खिड़कियां खोल दें.

हल्‍के रंग के बेडशीट
गर्मी में गहरे रंग से गर्मी का अहसास ज्‍यादा होता है. इसलिए घर में ठंडक बनाए रखने के लिए जरूरी है कि बेडरूम में बेडकवर का रंग हल्‍का हो. हल्‍के गुलाबी, सफेद और हल्‍का पीला रंग इस समय अच्छा लगता हैं, जबकि नीला और लाल रंग गर्मी बढ़ाते हैं.

पानी का छिड़काव
घर को ठंडा करने के लिए जरूरी है कि उसकी छतें ठंडी रखी जाएं. इसके लिए सुबह शाम घर की छत पर पानी काा छिड़काव करें या छत पर टाट को रखें. इससे घर की दीवारों का तापमान कम होता है. साथ ही खस की टाट को पानी से भिगो कर टांगने से घर में ठंडक बनी रहती है. इसके अलावा टब या बाल्‍टी में पानी भर कर कमरे में रखने से पानी से पंखे की हवा टकरा कर घर को ठंडा करती है.

लाइट का कम इस्‍तेमाल
लाइट घर के तापमान बढ़ाने और घटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. बहुत ज्यादा चमकने वाले बल्ब न लगाएं. जहां बैठने की जगह है, एकदम वहीं पर सिर के ऊपर लाइट नहीं होनी चाहिए. सीलिंग लाइट गर्मी पैदा करती है.

गैजेट्स का कम इस्‍तेमाल
बिजली से जुड़े उपकरण दिनभर में आपकी बहुत मदद करते हैं, लेकिन इनके कारण घर ज्यादा गर्म रहता है. बिजली से चलने वाले उपकरण बहुत ज्यादा गर्मी पैदा करते हैं. इसलिए गर्मियों में टेलीविजन, कंप्यूटर, वॉशिंग मशीन और ओवन जैसे उपकरणों को इस्तेमाल कम करें.

इसे भी पढ़ेंः Work From Home करने वाले जरूर खाएं डार्क चॉकलेट, स्ट्रेस से जुड़ा है कनेक्शन

पौधों से ठंडक
घर के प्रवेश द्वार और बरामदे के आसपास पौधों को रखने से गर्मी के असर को काफी हद तक कम किया जा सकता है. पौधों के कारण घर का तापमान 6 से 7 डिग्री तक कम रहता है. पौधे घर के अन्‍दर भी लगाए जा सकते हैं. यह घर में हवा और शीतलता का अहसास कराते हैं. इनके द्धारा छोड़ी गई ऑक्‍सीजन से पूरा घर ठंडा रहता है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज